Facts & Mystery

क्या आप जानते हैं, 1,000 तारों में रह रहें एलियंस (Aliens) हमें अभी देख रहें हैं! – Aliens On Stars Could See Us

जब आप इस लेख को पढ़ रहें हैं, तब आपके ऊपर भी क्या एलियंस के द्वारा नजर रखी जा रही है? जानें इस चौंका देने वाली बात के बारे में।

जब से अंतरिक्ष के बारे में मनुष्य ने जाना हैं, शायद तभी से ही उसने एलियंस (aliens on stars could see us) या परग्रहीयों के बारे में सोचना शुरू किया हैं। कई महान वैज्ञानिक और प्रसिद्ध दार्शनिकों को हमेशा से ही लगता आ रहा हैं की, ब्रह्मांड के किसी कोने में हमारे व्यतीत भी जीवन मौजूद हैं। मित्रों! ये बात अनुमान से नहीं परंतु विज्ञान के आधार पर भी सहीं हैं। क्योंकि समय-समय में हमें एलियंस या परग्रही जीवन के होने की कई सारे सबूत मिल रहें हैं। जीवन का पृथ्वी के अलावा बाहर कहीं पनपना बिलकुल संभव हैं। हाँ! वो बात अलग हैं की, हम आज तक परग्रही जीवन को ढूँढने में असमर्थ रहें हैं।

क्या हमारे ऊपर एलियंस नजर रख रहें हैं! - Aliens On Stars Could See Us.
एलियंस हमें देख रहें हैं | Credit: SETI.

एलियंस (aliens on stars could see us) के बारे में अगर हम बात करें तो, इससे जुड़ी हमें अलग-अलग लोगों से कई सारे अलग-अलग बातें सुनने को मिलेंगी। कोई कहेगा की एलियंस यूएफ़ओ (UFO) में सवार हो कर आते हैं , तो कोई कहेगा की एलियंस आज भी अमेरिका की एरिया 51 में रखें गए हैं। फिर कुछ कहेंगे की एलियंस के कारण ही बरमूडा का त्रिभुज इतना खतरनाक बन चुका हैं तो कुछ कहेंगे प्राचीन काल में एलियंस ने ही गिजा के पिरामिडों को बनाया था। आप तरह-तरह की बातें सुनकर खुद संशय में फँस जाएंगे की, आखिर एलियंस से जुड़ी कौन सी बात सच हैं?

मित्रों! बता दूँ की, अगर आपको एलियंस के बारे में सच में कुछ जानना हैं जो की सच हो, तो आप लोग एक बार विज्ञानम पर पहले से ही मौजूद एलियंस के लेख को पढ़ लें। शायद आपके कुछ सवालों  का जवाब इस लेख में मिल जाए। वैसे हम इस लेख के अंदर भी एलियंस के बारे में चर्चा करेंगे।

पृथ्वी के पास मौजूद 1,000 तारों मे रह रहें एलियंस शायद हमें देख रहें हैं! – Aliens On Stars Could See Us :-

शीर्षक को पढ़ कर कुछ शॉक लगा? मेरे हिसाब से अवश्य ही लगा होगा! खैर शॉक लगना भी जरूरी हैं, क्योंकि बात ही कुछ इतनी निराली है। वैज्ञानिकों को लगता हैं की, पृथ्वी के पास 1,000 ऐसे तारे मौजूद हैं जहां आज भी एलियंस (aliens on stars could see us) रहते हैं। जी हाँ! आप लोगों ने सहीं सुना, वर्तमान में किए गए प्रयोगों से ये पता चला हैं की एलियंस हमारे बहुत ही ज्यादा करीब हैं; इतना करीब की जिसके बारे में आप शायद ही सोच पायें। वैसे इसके बारे में मेँ आपको आगे बहुत ही विस्तृत तरीके से बताऊंगा तो लेख को धैर्य के साथ अंत तक पढ़िएगा।

क्या हमारे ऊपर एलियंस नजर रख रहें हैं! - Aliens On Stars Could See Us.
दूर अंतरिक्ष से कैसे एलियंस हमारे ऊपर नजर रख रहें हैं? | Credit: NBC.

वैज्ञानिकों को किए गए प्रयोगों में से, 1000 के आसपास ; सटीक रूप से कहूँ 1,004 ऐसे तारे मिलें हैं जिस पर एलियंस के होने की संभावना काफी ज्यादा हैं। वैसे इन तारों की खास बात ये भी हैं की, ये सारे के सारे तारे पृथ्वी से अंतरिक्ष में आसानी से देखे जा सकते हैं जिसे की अंग्रेजी में “Direct Line Of Sight” भी कहा जाता हैं। वैज्ञानिकों को इन तारों के ऊपर ऐसे रासायनिक पदार्थ या द्रव्य के होने की संभावनाओं को जताया हैं जो की जीवन के पनपने के लिए अनिवार्य हैं।

पिछले कई दशकों से वैज्ञानिक पृथ्वी से बाहर “Exoplanet” की तलाश में अपने-आप को काफी ज्यादा व्यस्त रखा हैं। उनको लगता हैं की, इन्हीं एक्सो-प्लैनेट्स में से किसी एक प्लेनेट के अंदर जीवन जरूर ही मौजूद होगा। मित्रों! आपको और एक खास बात बता दूँ की, इन एक्सो-प्लेनेट्स के ऊपर जीवन को ढूँढने की प्रक्रिया काफी रोचक हैं जिसके ऊपर हम अभी आगे चर्चा करेंगे।

आखिर कैसे वैज्ञानिकों ने इन तारों के ऊपर जीवन के होने की संभावना को बताया! :-

किसी भी प्लैनेट या तारे के ऊपर अगर जीवन को ढूँढना हैं तो; एक बात का हमेशा ध्यान रखना पड़ता हैं की, वो प्लैनेट/ तारा किस तरीके से प्रकाश को अंतरिक्ष में रीफ़लेक्ट करता हैं। गौरतलब बात हैं की, वैज्ञानिक इन ग्रहों और तारों को ढूँढने के लिए अंतरिक्ष में स्थित दूरबीनों का इस्तेमाल करते हैं। ऐसे में जिस ग्रह/ तारे को वैज्ञानिक देख रहें होते हैं, उस ग्रह/ तारे से रीफ़लेक्ट होने वाले प्रकाश के किरणों को ही आधार मानकर ये नतीजा निकाला जाता हैं की, आखिर उस ग्रह/ तारे पर जीवन हो सकता हैं या नहीं। मित्रों! कुछ इस तरीके से ही वैज्ञानिक एलियंस (aliens on stars could see us) का पता अंतरिक्ष में लगाते हैं।

Photo of TESS.
TESS का फोटो | Credit: NASA.

ग्रह/ तारे से रीफ़लेक्ट होने वाले प्रकाश के किरणों में बदलाव उस ग्रह/ तारे के वायुमंडल और परिवेश के बारे में वैज्ञानिकों को काफी कुछ बताता हैं। परंतु! हमेशा ये तकनीक एलियंस को ढूँढने में समर्थ नहीं हो सकता हैं। वर्तमान के शोध हमें बताते हैं की, हमारे सौर-मंडल में पृथ्वी और सूर्य की दूरी और स्थिति को ही जीवन के लिए सबसे अधिक उपयुक्त माना गया है। इसलिए वैज्ञानिक पृथ्वी के आसपास मौजूद ऐसे सितारों की तलाश में हैं जो की हूबहू पृथ्वी और सूर्य के स्थिति और दूरी से समानता रखते हो। इससे उन ग्रहों/ तारों में जीवन के होने की संभावना काफी ज्यादा बढ़ जाएगा।

1992 से ही वैज्ञानिकों को “Transiting Exoplanet Survey Satellite (TESS)” और  “James Webb Space Telescope” जैसे दूरबीनों से लगभग 4,292 ऐसे एक्सो-प्लैनेट्स को पाया हैं, जहां जीवन की होने की कई सबूतें मिली हैं। इन ग्रहों के ऊपर ऑक्सिजन और जमे हुए पानी के कई स्रोत भी मौजूद हैं जो की जीवन के लिए काफी जरूरी हैं।

एलियंस का हमें देखना इस तरह से संभव हो सकता हैं! :-

वैज्ञानिकों को लगता हैं की, एलियंस (aliens on stars could see us) के पास भी हमारे जैसा या हमारे से भी उन्नत दूरबीन होंगी, जिसके जरिये वो काफी दूर से ही हमारे ऊपर नजर रख रहें हो। मित्रों! ये कोई मज़ाक नहीं है। वाकई में वैज्ञानिकों को ऐसा ही लगता हैं। क्योंकि पृथ्वी से लगभग 326 प्रकाश वर्ष दूर 1,004 ऐसे तारे मौजूद हैं जहां पृथ्वी जैसा ही वातावरण हो सकता हैं। वैसे 1,004 में से 508 ऐसे भी तारे हैं जहां पर वैज्ञानिकों को नियमित रूप से अजीबो-गरीब सिग्नल भी मिलते रहते हैं।

Aliens and Stars.
सितारों पर एलियन अरबों सालों से रह रहें होंगे | Credit: The Cut.

हालांकि! फिर कुछ वैज्ञानिकों का कहना हैं की; 1,004 तारों में से 95% तारों में अत्याधुनिक परग्रही जीवन हो सकता हैं। क्योंकि, 95% तारों के ऊपर जीवन कई अरबों साल पहले ही पनप चुका होगा; ठीक जैसा पृथ्वी पर ही हुआ हैं। क्योंकि अत्याधुनिक जीवन को अस्तित्व में आने के लिए कुछ समय तो लगता ही हैं, ऐसे अचानक किसी भी ग्रह के ऊपर अत्याधुनिक जीवन नहीं पनप सकता है। अब आपका इसके ऊपर क्या राय हैं जरूर बताइएगा।

वैसे इन तारों से जुड़ी एक और खास बात ये हैं की, ज़्यादातर तारे पृथ्वी से 326 प्रकाश वर्ष दूरी पर हैं। इसलिए इन सभी के ऊपर जीवन की होने का संभावना है, परंतु कुछ ग्रह ऐसे भी हैं जो की पृथ्वी से सिर्फ 28 प्रकाश वर्ष की दूरी पर स्थित हैं जहां शायद ही कोई उन्नत सभ्यता मौजूद हो। खैर आज भी कई ग्रह पृथ्वी से 326 प्रकाश वर्ष वाली इस दूरी के अंदर आ रहें हैं, जहां जीवन की होने की संभावना बढ़ता ही जा रहा हैं।

निष्कर्ष – Conclusion :-

एलियंस (aliens on stars could see us) लाइफ की बात करें तो, आने वाले समय में (2044 तक) हमें “Teegarden’s Star” जैसे कई तारे मिलने वाली हैं; जिनका वातावरण और परिवेश पृथ्वी से हूबहू मिलता हैं। ऐसे में हमारे लिए सटीक रूप से ये कहना मुश्किल होगा की, आखिर कब हमें एलियंस के बारे में पता चलेगा।

क्या हमारे ऊपर एलियंस नजर रख रहें हैं!
Teegarden’s स्टार का फोटो | Credit: National Geographic.

क्योंकि वैज्ञानिक हर वक़्त इसी के ही खोज में लगे हुए हैं और व्यक्तिगत रूप से मुझे ऐसा लगता हैं की, जल्द ही हम किसी न किसी नतीजे तक पहुँचने वाले हैं। विश्व में SETI जैसे कई संस्थाएं इसीलिए ही बनी हुई हैं की वो परग्रही जीवन को ढूंढ पायें और धीरे-धीरे इन संस्थाओं ने भी काफी कुछ जानकारियाँ हम को दिया हैं। वैसे एलियंस के बारे में जितना उत्साह हैं उतना ही डर हम सब के मन में रहना चाहिए। क्योंकि अगर थोड़ा भी कुछ ऊपर-नीचे हुआ तो, पृथ्वी से जिंदगी भी तबाह हो सकती है।


Source :- www.livescience.com.

Bineet Patel

मैं एक उत्साही लेखक हूँ, जिसे विज्ञान के सभी विषय पसंद है, पर मुझे जो खास पसंद है वो है अंतरिक्ष विज्ञान और भौतिक विज्ञान, इसके अलावा मुझे तथ्य और रहस्य उजागर करना भी पसंद है।

Related Articles

Back to top button