Facts & Mystery

बरमूडा त्रिभुज का रहस्य! – Secrets And Facts Of Bermuda Triangle Hindi

अजीबो-गरीब घटनाएं और किस्से-कहानियों से घिरे हुए दुनिया की सबसे गोपनीय स्थान बरमूडा त्रिभुज के बारे में क्या आप इन बातों को जानते हैं?

पृथ्वी पर गीज़ा के पिरामिड हो या बरमूडा त्रिभुज (Facts of Bermuda triangle In Hindi), दोनों ही विषयों पर लोगों की चर्चाएं कभी थमती ही नहीं हैं। वैसे तो लोग कहते हैं की, हमारी दुनिया में ऐसी कई सारी जगह मौजूद हैं, जहां पर कई सारे गहन राज दाबे पड़े हैं। खैर कुछ लोग यहाँ तक भी कहते हैं की, उन जगहों पर कई प्रकार की अंजान शक्तियां अपना घर करके बैठी हुई हैं, जो की अजीब-अजीब वारदातों को अंजाम देती हैं। वैसे मेँ आपको यहाँ बता दूँ की, आज तक विज्ञान भी इन जगहों पर घटने वाली गुप्त घटनाओं और अजीबो-गरीब किस्से-कहानियों के बारे में कुछ भी टिप्पणी करने के लिए सक्षम नहीं हो पाया है।

बरमूडा त्रिभुज का राज! - Secrets Of Bermuda Triangle.
बरमूडा त्रिभुज का भौगलिक क्षेत्र | Credit: Richmond Time Dispatch.

खैर अब मूल विषय पर आते हैं, आज हम लोग बरमूडा त्रिभुज (secrets of Bermuda triangle In Hindi) के बारे में बात करेंगे। जी हाँ! आपने सही सुना आज हम दुनिया की सबसे गोपनीय और रहस्यों से घिरी हुई जगह बरमूडा के बारे में बात करेंगे। तो, आप लोगों से अनुरोध है की, आज के इस अद्भुत लेख में मेरे साथ अवश्य ही आरंभ से लेकर अंत तक बने रहिएगा।

आखिर यह बरमूडा त्रिभुज क्या हैं? – What Is Bermuda Triangle In Hindi? :-

बरमूडा त्रिभुज (Facts of Bermuda triangle In Hindi) एक तरह का त्रिकोणिय समुद्री इलाका हैं, जो की उत्तरी अटलांटिक ओशन में मौजूद हैं। वैसे यह त्रिकोणिय इलाका बरमूडा द्वीप, प्यूर्तो रिको और अमेरिकी राज्य फ्लॉरिडा के अंदर बनी हुई हैं। इस त्रिकोणिय इलाके को “राक्षस का त्रिकोण” भी कहा जाता हैं।

वैसे लोगों का कहना है की, इस त्रिकोणिय इलाके में आने वाली कई सारे हवाई जहाज और जहाज बहुत ही रहस्यमयी तरीकों से गायब हो जाते हैं और गायब होने के बाद उनका कोई भी पता नहीं चलता हैं। इसके बारे में और भी कहा जाता हैं की, मूल रूप से अटलांटिक ओशन में उठने वाले ज़्यादातर चक्रवात इसी त्रिकोणिय इलाके से ही बन कर उठती हैं।

कुछ लोग यहाँ पर घटने वाली घटनाओं को पारानॉर्मल एक्टिविटी तथा परग्राहियों के साथ भी जोड़ कर देखते हैं। मित्रों! मेँ आपको यहाँ बता दूँ की आज तक कई ऐसे घटनाएं घटी हैं जो की लोगों के सामने इस क्षेत्र की डरावने पक्ष को प्रदर्शित करता हैं।

वैसे आगे मेँ इस लेख में बरमूडा त्रिभुज (Facts of Bermuda triangle In Hindi) में घटी कुछ बेहद ही अजीब-अजीब घटनाओं के बारे में कहूँगा, जिसे सुनकर आपको अपने कानों पर यकीन ही नहीं आयेगा। तो, इन घटनाओं के बारे में अधिक जानने के लिए लेख को आगे पढ़ते रहिएगा।

बरमूडा त्रिभुज का राज – Secrets Of Bermuda Triangle In Hindi :-

तो, चलिए लेख के इस भाग में बरमूडा त्रिभुज (secrets of Bermuda triangle In Hindi) से जुड़ी रहस्यों को अब उजागर करते हैं। वैसे मेँ बता दूँ की यहाँ पर मैंने बरमूडा त्रिभुज में घटी कुछ बेहद ही चौंका देने वाली घटनाओं के बारे में जिक्र करूंगा।

1. एलेन ऑस्टिन की दुखद कहानी ! :-

यह साल 1880 की बात हैं जब एलेन ऑस्टिन नाम के एक ब्रिटिश समुद्री जहाज लंदन से निकल कर न्यूयॉर्क तक जा रहा था। कहा जाता है की उस जहाज में उस वक़्त कई सारे लोग मौजूद थे जब यह आखिरी बार अपने सफर के लिए निकला था। साल 1880 में लंदन से न्यू यॉर्क के बीच सफर करते वक़्त बरमूडा त्रिभुज (Facts of Bermuda triangle In Hindi) इलाके में उसे आखिरी बार देखा गया था।

लोग कहते हैं की बहुत ही अजीब हालातों में यह जहाज इसी त्रिभुज इलाके में गायब हो गया था और दुबारा इसका कोई नामुनीशान ही नहीं मिला।

Mysterious place of earth-Bermuda Triangle.
क्या है बरमूडा त्रिभुज का राज | Credit: 30 A.

2.अमेरिकी नौ-सेना जहाज यूएसएस साइक्लोप्स (USS Cyclops) की गुमशुदगी का राज ! :-

साल 1918 में अमेरिकी नौ-सेना की एक बहुत ही बड़ा माल वाहक जहाज (Cargo Ship) USS Cyclops बहुत ही अंजान तरीके से बरमूडा त्रिभुज इलाके में खो गया। मेँ आपको बता दूँ की, खोने से पहले इस जहाज का एक इंजन काम नहीं कर रहा था और इस पर 309 लोग सवार थे। उस समय यह मांगानीज़ नाम के कनीज के पिंडों को ले कर जा रहा था।

हालांकि आज भी USS Cyclops के गुमशुदगी का राज राज ही बन कर रह गया हैं। इसके बारे में कई सारे तर्क लोगों के द्वारा दिये जाते हैं, परंतु इसके खो जाने का असली कारण आज भी किसी को नहीं पता हैं।

3. आखिर कैसे आसमान निगल गया 5 अमेरिकी युद्ध विमानों को ? :-

फ्लाइट 19 (Flight 19) नाम के पाँच अमेरिकी युद्ध हवाई जहाजों से बनी एक विमानों के बेड़े को बरमूडा त्रिभुज ने साल 1945 में निगल लिया था। जी हाँ! आपने सही सुना, एक युद्ध-कसरत करने के लिए उड़ान भरे फ्लाइट-19 के जहाज दुबारा कभी पृथ्वी पर लैंड नहीं कर पाये।

उन्हें आखिरी बार बरमूडा त्रिभुज (Facts of Bermuda triangle In Hindi) के आसमान में देखा गया था, उसके बाद न तो ही उनका कोई वजूद बचा और न ही उनका कोई पता-ठिकाना। मित्रों! यहाँ पर और एक अजीब बात यह भी हैं की, फ्लाइट-19 को खोजने के लिए भेजा गया एक बचाव-प्लेन भी इसी बरमूडा क्षेत्र मेँ बहुत ही अंजान तरीके से गायब हो गया था।

4. डगलस डीसी-3 की अजीबो-गरीब हालातों में खो जाना :-

साल 1948 में प्यूर्तो-रिको से मियामी को निकलने वाला एक यात्री-विमान बरमूडा त्रिभुज (secrets of bermuda triangle) के क्षेत्र में अचानक गायब हो गया। उस वक़्त उस जहाज के अंदर 32 यात्रियाँ सवार थे, जिनका आज तक कोई आता-पता ही नहीं हैं। बहुत ही कम जानकारी होने के कारण इनको बचाने के लिए भी बचाव कार्य संभव नहीं हो पाया था।

5. Connemara IV का अंजान किस्सा ! :-

साल 1955 में Connemara IV का एक समुद्री नौका काफी रहस्यमयी तरीके से दुनिया से ओझल हो गया। आज तक जी हाँ! आज तक इस नौका के बारे में कुछ पता नहीं चला हैं। कहा जाता है की, बरमूडा त्रिभुज इलाके में सफर करते वक़्त इस नौका ने तीन बड़े-बड़े समुद्री तूफान झेले थे, परंतु हैरान कर देने वाली बात यह है की उसी समुद्री-तूफानों को झेलते वक़्त किसी एक तूफान के अंदर इस पर सवार लोग अचानक हवा में गायब ही हो गए थे।

6. दो हवाई जहाज के बीच हुई टक्कर और इससे जुड़ी विवादस्पद तर्क :-

साल 1963 में दो अमेरिकी हवाई जहाज बरमूडा त्रिभुज क्षेत्र में आपस में ही टकरा गए। इस टक्कर में दोनों ही विमान पूरे तरीके से नष्ट हो गए थे। परंतु अजीब बात तो यह है की, दोनों बीमानों के बीच हुई टक्कर की जगह एक न हो कर दो-दो जगह हैं। यानी छानबीन करने पर पता चला की दोनों ही विमानों का मलवा एक दूसरे से काफी दूर समुद्र के ऊपर पड़ा है।

तो, आखिर यह कैसे संभव है? क्योंकि दोनों ही बीमानों का मलवा एक जगह पर न मिलकर दो दूर-दूर जगहों पर मिला। आज भी यह घटना लोगों के अंदर काफी ज्यादा विवादास्पद हैं।

How planes and ship dissapeared in this place.
बरमूडा त्रिभुज से जुड़ी हुई कुछ बेहद ही अजीब बातें | Credit: SYFY Wire.

बरमूडा त्रिभुज में होने वाली अजीबो-गरीब घटनाओं के बारे में आखिर वैज्ञानिक क्या कहते हैं ? :-

वैसे तो इस इलाके के बारे में आज भी कई सारे शोध चल रही हैं, परंतु इसको लेकर कई सारे वैज्ञानिकों का अलग-अलग मत हैं। कुछ वैज्ञानिक कहते हैं की यहाँ पर मौजूद शक्तिशाली चुंबकीय क्षेत्र की वजह से कंपस में होने वाली बदलाव ही जहाजों के खोने का कारण हैं, तो कुछ वैज्ञानिक यहाँ पर हो रहे प्रतिकूल वायुमंडलीय परिवर्तन को दुर्घटनाओं का कारण मानते हैं।

वैसे ध्यान देने वाली बात यह भी है की, इस क्षेत्र में ज़्यादातर मौसम खराब ही रहता हैं। तो, हो सकता है शायद इसी वजह से जहाजों खो जाती हों। कुछ भूविज्ञानी कहते हैं है की, “गल्फ स्ट्रीम” यहाँ पर हो रहें अजीब-गरीब घटनाओं का मूल कारण हैं। वैसे कारण चाहे जो भी हो, परंतु कुछ-कुछ क्षेत्रों में खुद इंसानी भूल के कारण भी दुर्घटना घट जाती हैं, जैसा की आप “टायटानिक” के क्षेत्र में ही देख सकते हैं।

खैर इस विषय पर ज्यादा कुछ कहा भी कहा भी नहीं जा सकता हैं, क्योंकि यह एक बहुत ही गुप्त और रहस्यमय विषय हैं जिसके ऊपर  अभी भी काफी प्रकाश डालने की जरूरत हैं। आपका इस विषय पर क्या राय हैं, जरूर ही कमेंट करके बताइएगा।

Source :- www.physics.smu.edu.

Tags

Bineet Patel

मैं एक उत्साही लेखक हूँ, जिसे विज्ञान के सभी विषय पसंद है, पर मुझे जो खास पसंद है वो है अंतरिक्ष विज्ञान और भौतिक विज्ञान, इसके अलावा मुझे तथ्य और रहस्य उजागर करना भी पसंद है।

Related Articles

Back to top button
Close