Facts & Mystery

पुरुषों और महिलाओं से जुड़े कुछ होश उड़ा देने वाले तथ्य – Male And Female Difference In Hindi

पूरे जीवन काल में महिलाएं खा जाती हैं 2 किलो से ज्यादा लिपस्टिक, पुरुषों का गणित अच्छा क्यों होता है?

प्रभु ने प्रकृति को बहुत ही सुंदरता के साथ बनाया हैं। इसलिए प्रकृति के बारे में जब भी कोई बात होती हैं, वह हमेशा निराली ही होती हैं। प्रकृति ने वन-जंगल, पहाड़-पर्वत से लेकर जीव-जंतु तथा पेड़-पौधों को बनाया। उसके द्वारा बनाई गई हर एक संरचना बहुत ही अद्भुत और आश्चर्यजनक हैं। वैसे उसी गज़ब की संरचनाओं के अंदर हम भी आते हैं, मनुष्य जो की पृथ्वी की सबसे उन्नत जीव-सभ्यता भी है। वैसे मानवों की बात जब भी आती है, दिमाग में दो तस्वीर यानी पुरुष और महिला (Male And Female Difference In Hindi) शरीर की छवि बनती है, क्योंकि मूल रूप से मनुष्य जगत के यह दोनों ही मौलिक निव हैं।

पुरुष और महिलाओं से जुड़ी कुछ दिलचस्प तथ्य - Interesting Male And Female Differences Facts.
पुरुष होते हैं Risk Taker | Credit: Training Industry.

यूं तो सामाजिक तौर पर आज के समय में पुरुष और महिला (Male And Female Difference In Hindi) एक समान ही हैं, परंतु जीव-विज्ञान के दृष्टिकोण से इन दोनों के अंदर कई सारे विभिन्नता दिखाई पड़ती हैं। खैर फिर से बता दूँ की, पुरुष और महिला दोनों एक समान ही हैं, परंतु इनके अंदर प्रकृति ने कुछ ऐसे अंतर को बनाया है जिसके जरिये यह संसार संतुलित ढंग से चल रहा है। इसी के कारण ही मानव सभ्यता अपने मूल अस्तित्व में है।

तो, वह विभिन्नता आखिर क्या हैं? पुरुषों और महिलाओं के अंदर ऐसी कौन सी बात हैं जो की आज तक आप नहीं जानते हैं ! चलिये आज इसी के बारे में ही जानने का प्रयास करते हैं। खैर बता दूँ की यह लेख बहुत ही दिलचस्प और ज्ञानवर्धक होने वाला हैं, इसलिए मेरे साथ आरंभ से लेकर अंत तक बने रहिएगा।

पुरुषों और महिलाओं से जुड़ी कुछ होश उड़ा देने वाली बातें – Fascinating Male And Female Differences Facts :-

मैंने आगे पुरुषों और महिलाओं (Male And Female Difference In Hindi) से जुड़ी बहुत ही मजेदार तथ्यों के बारे में आप लोगों को बताया हैं, इसलिए इसे जरा गौर से पढ़िएगा।

1. अंधेरे में महिलाएं पुरुषों के मुक़ाबले ज्यादा अच्छे से देख पाती हैं, इनका Night Vision बहुत ही अच्छा होता है ! :-

प्राकृतिक रूप से पुरुषों और महिलाओं के अंदर जो देखने का तंत्र हैं, वह जैविक (Biological) रूप से तो एक समान हैं परंतु व्यावहारिकता के हिसाब से काफी ज्यादा अलग-अलग हैं। कहने का तात्पर्य यह हैं की, महिलाएं पुरुषों के मुक़ाबले अंधेरे में अच्छे तरीके से देख सकती (Night Vision) हैं तथा रंगों के अंदर मौजूद छोटी सी छोटी बारीक अंतर को भी पहचान सकती हैं। कुल मिलाकर कहूँ तो महिलाओं में Visual Memory बहुत ही अच्छा रहता हैं, जिसके तहत जो चीज़ उन्होंने एक बार देख लिया उन्हें वह बहुत लंबे समय तक याद रहता हैं।

2. दूर के चीजों को बहुत ही अच्छे तरीके से देखने में सक्षम होते हैं पुरुष, इसलिए होते हैं बेहतर वाहन चालक (औसतन) ! :-

जहां महिलाओं का Night Vision पुरुषों के मुक़ाबले ज्यादा अच्छा रहता हैं, वहीं दूर के चीजों को पुरुष बहुत ही बेहतर तरीके से देखने सक्षम होते हैं। Evolution के समय से ही पुरुषों को अपने परिवार के लिए बाहर जा कर शिकार करना पड़ता था, जिसके तहत उनको दूर के चीज़ें बेहतर तरीके से देखने की काबिलीयत मिली।

इसके बाद उनको चीज़ें ज्यादा साफ तरीके से दिखाता हैं तथा वस्तु के दूरत्व का सही अनुमान भी उन्हें रहता हैं। इसलिए महिलाओं के तुलना में पुरुष ज्यादा अच्छे वाहन चालक होते हैं।

3. आकार में पुरुष होते हैं महिलाओं से 10% ज्यादा बड़े ! :-

इंसानों में पुरुष महिलाओं के मुक़ाबले आकार में 10% ज्यादा बड़े होते हैं (औसतन)। परंतु बाकी जीवों के अंदर आमतौर पर महिलाएं ही आकार में ज्यादा बड़ी होती हैं। जो की पुरुषों और महिलाओं (Male And Female Difference In Hindi) के अंदर एक अद्भुत प्राकृतिक विभिन्नता को भी दर्शाता हैं।

4. शारीरिक तौर से पुरुष महिलाओं के मुक़ाबले होते हैं 30% ज्यादा मजबूत ! :-

प्राकृतिक तौर से प्रकृति ने पुरुषों को ज्यादा मजबूत बनाया हैं, ताकि वह अपने परिवार को बाहरी खतरों से बचा कर रख सकते हैं। शरीर के ऊपरी हिस्से को देखें तो पुरुषों का शरीर महिलाओं के तुलना में 30% ज्यादा मजबूत होता हैं तथा, अगर हम शरीर के निचले हिस्से को देखें तो पुरुषों का शरीर महिलाओं के मुक़ाबले एक-तिहाई ज्यादा मजबूत होता हैं।

पुरुष और महिलाओं से जुड़ी कुछ दिलचस्प तथ्य - Interesting Male And Female Differences Facts.
महिलाएं लंबी जीती हैं | Credit: Diana Suemi.

वैसे एक सर्वे से यह भी पता चला हैं की, हर 20 महिलाओं के अंदर एक महिला ऐसी भी होती हैं जो की औसतन पुरुष से शारीरिक तौर पर काफी मजबूत भी होती हैं।

5. पुरुषों के मुक़ाबले महिलाएं बहुत जल्दी परिपक्व (Mature) हो जाती हैं ! :-

जैविक तौर से महिलाएं पुरुषों के मुक़ाबले 2 साल पहले से ही परिपक्व (Mature) हो जाती हैं। इसका कारण Puberty हैं। महिलाओं के अंदर पुरुषों के मुक़ाबले बहुत ही ज्यादा हार्मोन जनित प्रतिक्रियाएं होती हैं और इसी कारण से औसतन महिलाएं औसतन पुरुषों से ज्यादा परिपक्व होती हैं। वैसे इसके अंदर कई व्यतिक्रम भी दिखाई देते हैं। (male and female difference in hindi)

6. पुरुष महिलाओं के तुलना में बहुत ही ज्यादा बीमार पड़ते हैं ! :-

वैज्ञानिकों का मानना हैं की, महिलाओं का Pancreas पुरुषों के तुलना में अधिक मात्रा में Cortin नाम के एक होर्मोन को बनाता हैं। इसके कारण महिलाओं का प्रतिरक्षा तंत्र पुरुषों से काफी ज्यादा बेहतर होता हैं। पुरुषों का Pancreas  Cortin होर्मोन को महिलाओं के तुलना में कम मात्रा में बनाने के कारण इनका प्रतिरक्षा तंत्र रोग से ज्यादा ग्रसित होने के खतरे में रहता हैं।

सिर्फ कुछ बीमारियों को छोड़ दें तो, किसी भी रोग से मरने वालों की संख्या में पुरुषों की संख्या बहुत ज्यादा हैं।

7. औसतन पुरुषों के मुक़ाबले महिलाओं का आयु 5 साल ज्यादा होता हैं :-

जैसा की मैंने ऊपर ही कहा हैं, पुरुषों को महिलाओं (Male And Female Difference In Hindi) के मुक़ाबले ज्यादा बीमारियां पकड़ती हैं; जिसके कारण औसतन महिलाओं का जीवन काल पुरुषों से 5 साल ज्यादा होती हैं।

इसके बाद पुरुषों का जीवन बहुत ही ज्यादा खतरों से भरा हुआ होता हैं। पुरुष भले ही शारीरिक तौर पर मजबूत क्यों न हो, परंतु वह भावुकता के दृष्टिकोण से काफी ज्यादा संवेदनशील होते हैं। हालांकि हमारी सामाजिक व्यवस्था हमेशा से पुरुषों को मजबूत और ठोस दिखाने का प्रयास करती हैं, परंतु वास्तविक तौर से वह भी इंसान हैं। खैर इसी के चलते पुरुषों में मानसिक अवसाद भी ज्यादा दिखाई पड़ती हैं।

जिसके चलते पुरुषों में कई सारे अलग-अलग और अजीब व्यवहार भी दिखाई पड़ती हैं। इससे उनके कुल जीवन काल के आयु के ऊपर भी काफी हानिकारक प्रभाव पड़ता हैं।

8. शरीर के अंदर मौजूद अंगों का आकार भी होता हैं अलग ! :-

गौर से पुरुष तथा महिलाओं के शरीर के अंदरूनी संरचना को विश्लेषण करें तो पता चलता हैं की, इन दोनों ही शरीर में काफी ज्यादा विभिन्नता हैं। उदाहरण के तौर पर आप दिल और फेफड़ों को ही ले लीजिये। पुरुषों का फेफड़ा और दिल माहिलाओं के मुक़ाबले ज्यादा बड़ा होता हैं।

वहीं दूसरी तरफ महिलाओं का लिवर, किडनी, स्टमक और थाइरोइड पुरुषों के मुक़ाबले ज्यादा बड़ा होता हैं। इसके बाद एक गौर करने वाली चीज़ यह भी हैं की, महिलाओं की दिल की धड़कन पुरुषों के मुक़ाबले ज्यादा होती हैं। इसका मूल कारण आकार में छोटा होना हैं। जिसका शरीर जितनी छोटी होगी उसके दिल का धड़कन भी उतना ही ज्यादा होगा। वैसे रक्त चाप को लेकर भी महिला और पुरुष के शरीर में काफी विभिन्नता हैं।

पुरुषों का रक्त चाप (Blood Pressure) महिलाओं से ज्यादा ही होता हैं।

पुरुष और महिलाओं से जुड़ी कुछ दिलचस्प तथ्य - Interesting Male And Female Differences Facts.
महिलाएं खा जाती हैं 2 किलो तक लीपस्टिक | Credit: Lip Scenes.
9. पुरुषों का शरीर कैलोरी (Calorie) बहुत ही ज्यादा तेजी से खपत करती हैं ! :-

यूं तो संरचना के आधार पर पुरुषों और महिलाओं (male and female differences facts) का शरीर बहुत ही अलग हैं, परंतु काम करने के आधार पर भी यह काफी भिन्न हैं। कहने का तात्पर्य यह हैं की, पुरुषों का शरीर महिलाओं के मुकाबले कैलोरी (Calorie) का बहुत ही ज्यादा खपत करती हैं।

इसलिए इनका शरीर आकार में ज्यादा बड़ा होने के साथ ही साथ शारीरिक काम अच्छे तरीके से करने में सक्षम हो पाते हैं। पुरुषों को ज़्यादातर शारीरिक काम करमें मुश्किल नहीं आती हैं, क्योंकि इनका शरीर ऐसे ही कामों के लिए प्राकृतिक रूप से बना हुआ हैं।

10. पुरुषों की प्रजनन क्षमता रहती है बहुत ज्यादा लंबी :-

यह एक बहुत ही हैरान कर देने वाली बात हैं। क्योंकि इस तथ्य में बहुत ही ज्यादा व्यतिक्रम दिखाई पड़ती हैं। पुरुषों के अंदर जहां प्रजनन करने की क्षमता 70 साल तक रहती है वहीं दूसरी तरफ महिलाओं के अंदर यह क्षमता 35 साल के बाद धीरे-धीरे खत्म होती जाती है। इसलिए यह बात थोड़ी अजीब अवश्य ही हैं, परंतु सत्य है।

11. क्या हैं उंगलियों का राज ! :-

सर्वे से पता चला हैं की, महिलाओं का तरजनी उंगली (Index Finger) उनके अनामिका उंगली (Ring Finger) से ज्यादा लंबा होता हैं। साधारण से लगने वाले इस तथ्य के आधार पर आप बिना किसी का चेहरा देखे बता पाएंगे की वह व्यक्ति पुरुष हैं या महिला हैं।

खैर और भी बता दूँ की, पुरुषों के अंदर अनामिका उंगली (Ring Finger) उनके तरजनी उंगली (Index Finger) से लंबा होता हैं। वैसे इसके बारे में वैज्ञानिक कहते हैं की, टेस्टोस्टेरोन नाम के होर्मोन के कारण यह होता हैं। इसलिए उंगलियों के लंबाई में इतनी ज्यादा भेद दिखाई पड़ती हैं। (male and female difference in hindi)

गौरतलब बात यह भी हैं की, कुछ-कुछ क्षेत्र में इसका व्यतिक्रम भी नजर आता हैं। इसलिए अभी इसके ऊपर और ज्यादा पुष्टीकरण आना बाकी हैं। यह तो था दोस्तों सर्वे के आधार पर जुटाए गए तथ्य, परंतु क्या आपको लगता हैं यह बात सच हो सकता हैं। क्या सच में पुरुषों और महिलाओं के उंगलियों की लंबाई अलग-अलग होती हैं ! जरा खुद देख कर देखिए।

Fingers have the secret.
उंगलीओं में छुपी हुई हैं राज | Credit: Pintrest.
12. हड्डियों के संरचना में भी होती हैं यह गहरा अंतर :-

अंगों तथा जैविक तंत्रों के अलावा भी पुरुषों का शरीर कई मायनों में महिलाओं के शरीर से काफी ज्यादा अलग हैं। इसी कारण से आपको इन दोनों ही शरीरों के अंदर छुपी गहन अंतर को आसानी से दिखाई पड़ता हैं। वैसे यहाँ पर मेँ दोनों ही शरीरों के अंदर मौजूद हड्डियों की संरचना के बारे में बात कर रहा हूँ।

मूल रूप से महिलाओं की कूल्हे का हड्डी पुरुषों के मुक़ाबले ज्यादा चौड़ा होता हैं, जिससे गर्भावस्था के समय वह बच्चे को सही से अपने अंदर सुरक्षित रख सकती हैं। वैसे इसके अलावा उनके मुख में मौजूद हड्डियां भी ज्यादा चौडा होने के साथ ही साथ ठुड्डी का हड्डी छोटा होता हैं।

और भी बता दूँ की, शरीर का जो बीच का हिस्सा होता हैं (Torso) वह भी पुरुषों के मुक़ाबले लंबा होता हैं, तथा तांगे औसतन Torso के आधार पर छोटी होती हैं। गौरतलब बात यह हैं की, जिस-जिस विंदुओं के बारे में मैंने अभी कहा पुरुषों के क्षेत्र में वह बिलकुल अलग हैं। उनका शरीर गठीला और लंबा होता हैं।

शरीर का ऊपरी भाग अंग्रेजी अक्षर “V” के आकार में होने के साथ ही साथ कंधे चौड़े और कूल्हा महिलाओं के मुक़ाबले पतला होता हैं।

13. पुरुष होते हैं ज्यादा “Risk Taker” :-

पुरुषों के बारे में एक सबसे अजीब बात यह हैं की, भारी मात्रा में टेस्टोस्टेरोन होर्मोन शरीर के अंदर होने के कारण यह उन्हें ज्यादा Risk Taker बना देता हैं। इसलिए मैंने पहले ही बोला था की, पुरुषों का जीवन खतरों से भरी हुई होती हैं और साथ ही साथ इनकी आयु भी महिलाओं के तुलना में कम होती हैं।

वैसे महिलाओं की बात करें तो, उन्हें दूसरों का ख्याल रखना पसंद हैं और बेवजह खतरा उठाना उन्हें पसंद नहीं हैं। जिसके तहत वह पुरुषों के तुलना में लंबी जीती हैं।

Both have same intelligence.
दोनों की बौद्धिक क्षमता लगभग एक समान ही हैं | Credit: Only Lads.
14. पूरे जिंदगी में महिलाएं खा जाती हैं लगभग 2 किलो का लिपस्टिक ! :-

दोस्तों ! जब भी किसी महिला की बात की जा रही हों तो, मेकअप की बात को कोई कैसे भूल सकता हैं। मेकअप तो उनका शौक हैं, तो चलिये एक मजेदार तथ्य उसी शौक के ऊपर भी जान लेते हैं। एक रिपोर्ट से पता चला हैं की अपने पूरे जीवन भर में एक महिला औसतन 2 किलो तक लिपस्टिक खा जाती हैं।

तो, आप इससे अंदाजा लगा ही सकते हैं की महिलाओं को मेकअप करना कितना पसंद हैं। वैसे 2 किलो की लीपस्टिक बहुत ही महंगी भी होती हैं।

15. महिलाओं के पास होती है सूंघने की अद्भुत क्षमता ! :-

अगर आपको याद हो तो मैंने ऊपर महिलाओं की देखने की क्षमता के ऊपर चर्चा की है। जो की महिलाओं को पुरुषों से (male and female differences facts) अलग करती है, परंतु दोस्तों क्या आपको पता हैं देखने के साथ ही साथ महिलाओं की सूंघने की क्षतमा भी काफी अद्भुत होती हैं (पुरुषों के मुक़ाबले) और शायद यहीं वजह हैं की महिलाओं को फूल बहुत पसंद आती हैं।

16. हाथ मिलाने के दौरान होती हैं यह अजीब सी बात ! :-

वैसे तो कोरोना के डर से शायद ही कोई हाथ मिलाए, परंतु यह बात मेरे ध्यान में आई है तो आप लोगों से साझा कर ही देता हूँ। अगर आपने गौर किया है तो; यह बात आपको अवश्य ही पता होगी की, अगर कोई दो पुरुष आपस में हाथ मिला रहे होते हैं तो वह एक दूसरे के हाथ को पकड़ कर “Shake” करते हैं परंतु अगर कोई महिला किसी पुरुष के साथ हाथ मिला रही होती हैं तो वह दोनों एक दूसरे के हाथों को “Shake” नहीं करते हैं।

वैसे ऐसा क्यों होता हैं, इसका जवाब आप खुद भी सोच सकते हैं और हाँ ! अगर आपने सोच ही लिया हैं तो कमेंट करके हमारे साथ अवश्य ही साझा कीजिएगा।

17. भावनाओं को बेहतर (90%) तरीके से पहचान पाती हैं महिलाएं ! :-

इंसानी भावनाओं को महिलाएं बहुत ही अच्छे तरीके से भांप सकती हैं। कहा जाता हैं की, यह 90% इंसानी भावनाओं को पल भर में आसानी से पकड़ सकती हैं। इसलिए इनसे कुछ भी बातें छिपाना बहुत ही मुश्किल हैं। वैसे अगर हम यहाँ पर पुरुषों की बात करें तो, वह लोग इंसानी भावनाओं को अच्छे से सिर्फ 40% ही समझ पाते हैं।

इसलिए अकसर पुरुषों को भावनाओं से परे देखा जाता हैं, वहीं दूसरी तरफ महिलाओं को ज्यादा भावुकता वाले दृष्टि से देखा जाता हैं। आप लोगों का इसके बारे में क्या राय है जरूरी ही बताइएगा।

18. प्राकृतिक रूप से पुरुषों का शरीर रात को देरी से सोने तथा सुबह देरी से उठने के हिसाब से बना हुआ हैं ! :-

शीर्षक को पढ़ कर आप लोगों को थोड़ा अजीब अवश्य ही लगा होगा, परंतु वैज्ञानिक दृष्टिकोण से यह बात पूर्ण रूप से सत्य हैं। Puberty के दौरान किसी भी लड़के के अंदर मौजूद Circadian Clock शरीर के टेस्टोस्टेरोन होर्मोन से काफी ज्यादा प्रभावित होता हैं।

इसलिए इस दौरान लड़कों का रात को देरी से सोना तथा सुबह देरी से उठाना लाज़िमी हैं, यह पूर्ण तरीके से प्राकृतिक हैं।

Males are good at Math.
पुरुषों को गणित अच्छे से आता हैं | Credit: Kellog Community College.
19. पुरुष महिलाओं के मुक़ाबले होते हैं ज्यादा दृढ़ निश्चयी यह हैं वजह ! :-

मित्रों! आगे बढ्ने से पहले बता दूँ की, इस तथ्य में कई जगह व्यतिक्रम भी देखी जा सकती हैं परंतु औसतन यह बात सत्य हैं। तो अब मुद्दे पर आते हैं, पुरुषों (Male And Female Difference In Hindi) के शरीर के अंदर होर्मोन की जो प्रक्रियाएं होती हैं वह ज्यादा जटिल नहीं होती हैं। इसलिए उन्हें प्राकृतिक रूप से ज्यादा दृढ़ निश्चयी बनाता हैं और साथ ही साथ एक ही जगह ध्यान केंद्रित करने में मदद करता हैं।

वहीं दूसरी तरफ महिलाओं के अंदर अकसर होर्मोन में बदलाव आते ही रहते हैं, इसलिए उन्हें अपने ध्यान को एक ही जगह पर केंद्रित करने में काफी ज्यादा दिक्कत अकसर होती ही हैं। वैसे इसका मतलब यह नहीं हैं की महिलाएं दृढ़ निश्यी नहीं हो सकती हैं।

20. पुरुषों का गणित महिलाओं से क्यों अच्छा होता हैं ! :-

अकसर लोगों को मैंने कहते हुए सुना हैं की, पुरुषों का गणित महिलाओं से काफी ज्यादा अच्छा होता है! परंतु क्या आप जानते हैं यह बात वैज्ञानिक तौर से भी सत्य है। दिमाग का वह हिस्सा जो गणित करने के लिए इस्तेमाल होता हैं वह पुरुषों में महिलाओं के मुक़ाबले बड़ा होता हैं तथा 4 साल पहले ही विकसित हो जाता है। इसलिए पुरुषों का गणित महिलाओं से औसतन अच्छा ही होता हैं।

Sources :- www.bravetheworld.com, www.brightside.me, www.thoughtcatalog.com, www.factinate.com.

Bineet Patel

मैं एक उत्साही लेखक हूँ, जिसे विज्ञान के सभी विषय पसंद है, पर मुझे जो खास पसंद है वो है अंतरिक्ष विज्ञान और भौतिक विज्ञान, इसके अलावा मुझे तथ्य और रहस्य उजागर करना भी पसंद है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button