Universe

क्या होता अगर पृथ्वी के 2 सूर्य होते ? – What If Earth Had Two Suns ?

Binary Stars In Solar System

लगभग 80% से ज्यादा , आसमान में दिखने वाले प्रकाश के स्त्रोत, असलियत में 2, या उससे अधिक तारे होते हैं , जो अपने बीच मौजूद , center of mass के आसपास orbit करते हैं | इनमें से आधे से ज्यादा तो binary star systems ही होते हैं , जहां 2 stars यानी तारे, अपने barycenter के आसपास orbit में travel करते हैं | इसका एक उदाहरण हमें (Kepler -34 System) से मिलता है |

केप्लर टेलिस्कोप ने खोजे 2 तारे वाले ग्रह ( Circumbinary Planet Systems) 

आमतौर पर planetary systems में, एक star के आसपास ही हमें planets orbit करते हुए मिलते हैं , पर Circumbinary planet systems में एक या उससे ज्यादा ग्रह, यानी planets , आपको 2 stars के आसपास orbit करते हुए भी मिल सकते हैं | यानी एक की जगह इस system में , अब 2 stars के आसपास planets orbit कर रहे होंगे |

  • Save

वैज्ञानिकों ने Kepler Telescope द्वारा पता किया  , Kepler-34 system , जहां Kepler-34b planet , 2 stars, जिनका mass लगभग हमारे sun के बराबर ही है , उनके around orbit करता है | kepler 34 b , एक gas giant planet है , जिसका mass, jupiter के mass का 20% है , और इस planet को , एक revolution complete करने में , लगभग 288 दिन लगते हैं |

हालांकि , वैज्ञानिकों और भी ऐसे कई  Circumbinary planet systems खोजे हैं , जो इस बात को confirm करते हैं कि solar system जैसे planetary systems के अलावा हमारे आसपास 2 या उससे अधिक stars वाले भी systems मौजूद हैं |

सूर्य कभी अकेला नहीं था 

2017 की एक study में वैज्ञानिकों ने इस बात का जिक्र किया , कि हमारे सूर्य की तरह ही लगभग सभी stars, अपने formation के time पर binary star systems का ही हिस्सा थे | वैज्ञानिकों ने उस दौरान , Nemesis Star Theory दी |

  • Save

यहाँ इस fact को mention किया गया कि , लगभग साढ़े 4 अरब साल पहले , सूर्य के साथ ही  Nemesis नामक , एक brown dwarf star भी form हुआ था , जो शुरुआत के समय में ही सूर्य के दूर होने के कारण, Milki way galaxy में ही लुप्त हो गया | हालांकि अभी तक ऐसा कोई भी सबूत नहीं मिला है , जो इस theory को सच साबित कर सके और अभी तक एक ये एक hypothesis ही है |

बहराल , वैज्ञानिकों का मानना है कि binary star systems में भी हमारी पृथ्वी exist कर सकती थी | पर अब सोचने वाली बात ये है , कि अगर ऐसी situation होती , यानी कि हमारे solar system में , एक की जगह अगर 2 सूर्य होते , तो क्या होता ? 2 सूर्य होने की वजह से , इसका पृथ्वी पर क्या असर पड़ता , और सौर मंडल की क्या स्थिति होती ? चलिए पता लगाते हैं !

सभी ग्रहों की कक्षा (Orbit) हो जाएगी तहस नहस 

सौर मंडल की मौजूदा स्थिति, यानी current position को लेकर चलें , तो ऐसे में 2 सूर्यों का कहीं भी होना , भारी मात्रा में instability यानी अस्थिरता पैदा कर सकता है , जहां सभी planets के orbits आपस में मिल सकते हैं , और टकराव की संभावना भी बढ़ सकती है |

ऐसा इसलिए, क्योंकि ऐसे स्थिति में solar system का center of mass कहीं भी shift हो सकता है , जो सभी planets के orbital motion को प्रभावित कर देगा |

  • Save

पर इसका मतलब ये नहीं है कि किसी महाविनाश का होना तय है | Binary star systems में भी habitable zones मौजूद होते हैं , जहां काफी हद तक systems stable भी होते हैं | पृथ्वी के लिए , कुछ विशेष स्थितियों में ही जीवित रहना संभव हो पाएगा |

अगर दूसरे सूर्य का आकार , हमारे पहले सूर्य से अधिक होगा , तो गुरुत्वाकर्षण के कारण हमारी पृथ्वी का धीरे धीरे उस सूर्य के पास जाना निश्चित हो जाएगा , जो बिलकुल भी अच्छी खबर नहीं होगी |

सौरमंडल में 2 सूर्य होने की वजह से ,2 संभावनाएं हो सकती हैं –

पहली संभावना ये है कि , पृथ्वी किसी एक सूर्य के आसपास orbit कर रही हो , और दूसरा सूर्य काफी दूर से , पहले सूर्य के आसपास orbit कर रहा हो | इस तरह की स्थिति होना पृथ्वी पर मौजूद जीवन के लिए बेहद खतरनाक साबित होगा,क्योंकि एक समय पर हमारी पृथ्वी दोनों सूर्यों के बीच मौजूद होगी |

इसका परिणाम ये होगा कि रात के मुकाबले हमें दिन ज्यादा देखने को मिलेंगे , और UV radiations के साथ साथ पृथ्वी का तापमान भी काफी बढ़ जाएगा , जो हम इंसानों को भारी मुसीबत में भी डाल सकता है | हमारी पृथ्वी का orbital motion तो बिगड़ेगा ही , साथ ही उस स्थिति में मौसम भी पूरी तरह से बदल जाएगा |

  • Save

कुल मिलाकर देखें , तो इस अवस्था में  पृथ्वी पर जीवन लगभग असंभव ही साबित होगा |

दूसरी संभावना ये है , कि दोनों ही सूर्य binary star system की तरह ही , एक दूसरे को ऑर्बिट कर रहे हों , और पृथ्वी उन दोनों सूर्यों के आसपास orbit कर रही हो | ऐसी स्थिति में, कुछ हद तक पृथ्वी पर जीवन बने रहने की संभावना जरूर होगी |

अगर दोनों सूर्यों के बीच की दूरी काफी कम होगी , तभी हमारी पृथ्वी उनसे निश्चित दूरी पर होने के साथ ही ,habitable zone में  रह पाएगी , वरना स्थिर होने के कारण , हम दोनों सूर्यों से काफी दूर हो सकते हैं , जहां हमारी पृथ्वी किसी बर्फ के गोले से कम नजर नहीं आएगी , यानी ऐसी स्थिति में जीवन कहीं भी नहीं मिलेगा  |

Calculations को ध्यान में रखकर बात करें , तो अगर दोनों सूर्यों की luminosity यानी brightness को बराबर रखा जाए, तो दोनों सूर्यों का mass यानी भार , हमारे सूर्य से लगभग 1.7 गुना ज्यादा होगा | यानी सभी planets पर लगने वाली gravitational force काफी हद तक बढ़ जाएगी |

जीवन संभव है, अगर ये हो जाए 

वैज्ञानिकों का मानना है कि अगर पृथ्वी की दूरी , उन दोनों सूर्यों के बीच की दूरी का 4 गुना होगी , तो ऐसे में हमारी पृथ्वी महज कुछ बदलावों के साथ , stable orbit में travel कर पाएगी | अगर सभी planets को इन दोनों सूर्यों के आसपास , stable रहना होगा , तो सूर्यों के बीच की दूरी , 15 million kilometers से कम होनी चाहिए |

  • Save

Gravitational increase की वजह से , पृथ्वी को एक complete revolution के लिए लगभग 280 दिन लगेंगे , यानी कि 280 दिनों में एक साल पूरा हो चूका होगा |

अगर दोनों सूर्यों के बीच की दूरी को और कम कर दिया जाए , तो दोनों को एक दूसरे के आसपास orbit complete करने में 10 दिन का समय लग सकता है | यानी हर 5 दिन के बाद , एक सूर्य दूसरे सूर्य के ठीक सामने होगा | पृथ्वी से देखने पर ये किसी solar eclipse यानि सूर्य ग्रहण जैसे ही दिखाई देगा , जो लगभग 6 घन्टे तक मौजूद रह सकता है | ये सब कुछ ,देखने में काफी अजीब सा लगेगा !

हालंकि ऐसी स्थिति में जीवन कुछ हद तो जरूर रहेगा , पर इन  conditions में हमारे planet पर day/night cycles बिलकुल बदल जाएंगी, जहां रात के मुकाबले दिन काफी लम्बे नजर आएँगे |

सूर्योदय और सूर्यास्त , एकदम अलग नजर आएँगे और हो सकता है कि मौसम में काफी तेजी से बदलाव भी होने लगे | लम्बे समय के दौरान , पृथ्वी का तापमान काफी बढ़ चूका होगा और surface भी काफी ज्यादा heat trap करना शुरू देगा , सीधा असर हमारे समुद्रों पर देखने को मिलेगा !

यानी अंत में, पृथ्वी पर तो जीवन लगभग असंभव ही होगा !

 

Tags

Shubham Sharma

शुभम शर्मा विज्ञानम् के लेखक हैं जिन्हें विज्ञान, गैजेट्स , रहस्य और पौराणिक विषयों में रूचि है। इसके अलाबा इन्हें खेल और वीडियो बनाना बहुत पसंद है।

Related Articles

Back to top button
Close
15 Shares
Copy link
Powered by Social Snap