Tech & Future

जानिए नेटफ्लिक्स से जुड़ी कुछ मजेदार किस्से ! – Netflix Facts In Hindi

नेटफ्लिक्स का AI इंसानों को कर रहा हैं वशीभूत! जाने कैसे इस रिपोर्ट में

विज्ञान ने इंसानी सभ्यता को विकसित करने के साथ ही साथ इसे एक आधुनिक रूप दे रहा हैं | वैसे तो विज्ञान ने इंसान को उद्योग और तकनीक से काफी ज्यादा बलवान कर दिया हैं, परंतु इसके अलावा भी यह इंसानों को अन्य प्रकार के सुविधा भी दे रहा हैं| आज के समय में  मन को बहलाने के लिए विज्ञान ने हमारे सामने काफी सारे विकल्प सामने खड़ा कर दिया हैं | वैसे तो विडियो गैम से लेकर फिल्म तक सभी उन्नत विज्ञान के तकनीक व ज्ञान-कौशल के ही नतीजे हैं, परंतु मनोरंजन के क्षेत्र में एक ऐसा भी विकल्प हैं जो की मनोरंजन के अन्य विकल्पों के ऊपर काफी ज्यादा भारी पड रहा हैं | मेँ यहां पर नेटफ्लिक्स (Netflix Fact’s In Hindi) की बात कर रहा हूँ |

जानिए नेटफ्लिक्स के कुछ मजेदार किस्से - Netflix Fact's In Hindi.
नेटफ्लिक्स का हेड ऑफिस | Credit : Wired.

जी हाँ ! दोस्तों आप लोग सही सोच रहें हैं | आज हम इस लेख के अंदर नेटफ्लिक्स (netflix fact’s in hindi) से जुड़ी बहुत सारे मजेदार किस्से और मूलभूत बातों को जानेंगे | वैसे तो, आज के युवा पीढ़ी के अंदर नेटफ्लिक्स को ले कर काफी ज्यादा मांग हैं परंतु इतनी ज्यादा मांग के बाद भी बहुत सारे लोगों को नेटफ्लिक्स क्या हैं? यह कैसे काम करता हैं ? यह सबसे पहले कब और कहाँ से शुरू हुआ ? ऐसे ही बहुत प्रकार के सवालों के जवाब के बारे में नहीं पता हैं |

तो, नेटफ्लिक्स के ऊपर (netflix fact’s in hindi) आधारित इस लेख में आज हम लोग नेटफ्लिक्स से जुड़ी हर एक सवालों के जवाब को चर्चा करने की कोशिश करेंगे | इसलिए मेँ आप सभी लोगों से अनुरोध करता हूँ की, लेख के आरंभ से लेकर अंत तक मेरे साथ बने रहिए | अब बिना किसी देरी किए लेख में आगे बढ़ते हैं |

नेटफ्लिक्स क्या हैं ? – What Is Netflix In Hindi ? :-

सरल और सटीक तौर पर कहूँ तो, नेटफ्लिक्स एक अमेरिकी विडियो स्ट्रीमिंग की सेवा प्रदान करने वाला कंपनी हैं जो की अपने दर्शकों को इंटरनेट के माध्यम से बहुत प्रकार के मनोरंजक विडियो के विकल्पों को देखने का सुविधा प्रदान करता हैं | इसे साल 1997 में रीड हस्टिंग और मार्क रेंडोल्फ  के नाम के दो व्यक्तियों ने बनाया था |

आपको नेटफ्लिक्स (netflix fact’s in hindi) के अंदर कई देशों के फिल्म, टीवी के धारावाहिक और डॉक्यूमेंटरी देखने को मिलेगा | मूल रूप से यह एक तरह का डिजिटल प्लेटफॉर्म हैं, जहां पर एक साथ कई प्रकार के और कई भाषाओं के चीजों को देखने का सुविधा मिलता हैं | आज के समय में नेटफ्लिक्स के अंदर हजारों से ज्यादा धारावाहिक और टीवी शो मौजूद होंगे और नियमित रूप से इसके अंदर और ढेर सारे शो और फिल्मों को डाला जा रहा हैं |

वर्तमान के समय में खुद नेटफ्लिक्स “नेटफ्लिक्स आरिजिनल” टीवी शो और फिल्म बना रहा हैं, परंतु जब नेटफ्लिक्स सबसे पहले अमेरिका में आरंभ हुआ था तब इसके अंदर दूसरे किया प्रकार के फिल्में और टीवी शो मौजूद थे | साल 2007 में नेटफ्लिक्स ने अपने कारोबार को काफी ज्यादा विस्तृत किया और अपने डिजिटल प्लेटफॉर्म में दर्शकों के स्वाद के अनुसार कई सारे नए फिल्म और शो को डाला | तभी से लेकर आज तक पृथ्वी के अंदर नेत्फ़्लिक्स की मांग काफी ज्यादा बढ़ गई हैं और यह दुनिया का सबसे बड़ा डिजिटल विडियो स्ट्रीमिंग कंपनी बन गई हैं |

आखिर नेटफ्लिक्स कैसे काम करता हैं? – How Does Netflix Work? :-

अब जब आपने नेटफ्लिक्स क्या हैं , इस सवाल का जवाब जान ही लिया हैं तो चलिए अब यह कैसे काम करता हैं उसके बारे में भी कुछ जान लेते हैं| मेँ यहां पर नेटफ्लिक्स कैसे काम करता हैं ? (how does netflix work) इसके बारे में बहुत ही सरल तरीके से आपको समझाऊंगा तो इसलिए लेख के इस भाग को ध्यान से पढ़िएगा |

आज के समय में नेटफ्लिक्स नियमित रूप से नए शो और फिल्म दर्शकों के पास पहुँचाने के लिए एक विशेष प्रकार के कंटैंट डेलीवेरी नेटवर्क” का उपयोग करती हैं जिसे की आप सरल भाषा मेंसीडीएन” भी कह सकते हैं | देखने में आपको नेटफ्लिक्स का डैटा-बेस बहुत बड़ा प्रतीत होगा परंतु हकीकत में नेटफ्लिक्स के अंदर मौजूद सारे के सारे कंटैंट सिर्फ कुछ सर्वरों के अंदर गच्छित करके रखा जा सकता हैं परंतु इस प्रक्रिया के द्वारा सेवा प्रदान करना काफी ज्यादा मुश्किल हैं |

वैसे मूल रूप से नेटफ्लिक्स के कंटैंट दर्शकों के पास उनके आईएसपी के द्वारा पहुंचाया जाता हैं | इस प्रक्रिया में ओपन कनैक्ट एपलाएंसेस नाम के कुछ बहुत बड़े-बड़े डैटा बोक्सेस का इस्तेमाल किया जाता हैं जो की आईपीएस के पास रहता हैं| वैसे एक ओपन कनैक्ट एपलाएंसेस के अंदर 280 टेराबाइट के विडियो डैटा मौजूद रहते हैं, जो की पूरे नेटफ्लिक्स के विडियो लाइब्रेरी जितना बड़ा हैं | इसी कारण के लिए जब भी आप अपने मोबाइल या लेपटॉप पर नेटफ्लिक्स खोलते हैं, तब विडियो काफी तेजी से लोड हो जाता हैं|

इससे जुड़ी कुछ मूलभूत बातें :-

नेटफ्लिक्स से जुड़ी (netflix fact’s in hindi) सबसे मूलभूत और महत्वपूर्ण बात यह है की, आप जब भी अपने फोन से नेटफ्लिक्स के विडियो देखते हैं तब आपका मोबाइल नेटफ्लिक्स के खुद के मौलिक सर्वर से कनैक्ट न हो कर आपके आईएसपी के नेटफ्लिक्स ओपन कनैक्ट एपलाएंसेस बॉक्स के साथ कनैक्ट हो जाता हैं| इससे आप बिना किसी असुविधा के अपने नेटफ्लिक्स शो को आराम से देख सकते हैं|

जानिए नेटफ्लिक्स के कुछ मजेदार किस्से - Netflix Fact's In Hindi.
ज्यादा नेटफ्लिक्स आपके लिए हो सकता हैं हानीकारक | Credit: News Hub.

इसके अलावा नेटफ्लिक्स के कार्य-प्रणाली से जुड़ी एक बहुत ही महत्वपूर्ण बात यह भी है की, प्रति सेकंड एक ओपन कनैक्ट एपलाएंसेस बॉक्स 90 गीगा बाइट (90 GB) प्रति सेकंड के हिसाब से एक साथ 13,000 लोगों को विडियो स्ट्रीमिंग करने में सक्षम हैं | वैसे मेँ आपको यहां और भी बात दूँ की इतने तेजी से विडियो डैटा को यह एचडी रिसोल्यूशन के हिसाब से स्ट्रीम करता हैं | वैसे दुनिया भर में मौजूद ऑनलाइन विडियो स्ट्रीमिंग कंपनीओं के मुक़ाबले नेटफ्लिक्स की विडियो स्ट्रीमिंग क्वालिटी बहुत ही ज्यादा बढ़िया होता हैं |

अपने अच्छे गुणवत्ता वाले सेवा के लिए नेटफ्लिक्स (netflix fact’s in hindi) आज पूरे पृथ्वी में प्रसिद्ध हैं | इसके अलावा वर्तमान के समय में यह करीब-करीब 190 देशों के अंदर अपना सेवा प्रदान कर रहीं हैं | वैसे दोस्तों मेँ आपसे पूछना चाहूँगा की  क्या आपने कभी अपने फोन या लेपटॉप के अंदर नेटफ्लिक्स को चला कर देखा हैं ? क्या आपको नेटफ्लिक्स देखना पसंद हैं? जरूर ही बताइएगा |

खैर चलिए अब लेख में आगे बढ़ते हैं और नेटफ्लिक्स से जुड़ी अद्भुत तथ्यों (netflix fact’s in hindi) को जानते हैं |

नेटफ्लिक्स से जुड़ी कुछ अद्भुत तथ्य – Netflix Fact’s In Hindi :-

चलिए अब लेख के इस भाग में नेटफ्लिक्स से जुड़ी कुछ मजेदार किस्से और तथ्यों (Netflix Fact’s In Hindi) को जानते हैं |

1. नेटफ्लिक्स को पहले “किबल” कहा जाता था :-

अब मेँ जिस बात के विषय में कहने जा रहा हूँ उस पर आप शायद ही यकीन करें, क्योंकि यह बात ही कुछ ऐसी हैं | तो, सुनिए नेटफ्लिक्स का नाम पहले किबल था | नेटफ्लिक्स के निर्माताओं के पास कंपनी के नाम को लेकर कई सारे विकल्प थे | इन विकल्पों मेँ से डाइरैक्टपिक्स.कॉम, रीप्ले.कॉम और लुना.कॉम जैसे नाम प्रमुख थे | परंतु निर्माताओं ने किबल.कॉम का नाम चुना |

हालांकि किबल.कॉम बाद में परिवर्तित करके कंपनी का नाम नेटफ्लिक्स.कॉम रखा गया | वैसे नेटफ्लिक्स से जुड़ी इस बात को बहुत ही कम लोग जानते हैं ! वैसे कॉमेंट करके बताइएगा की क्या आपको नेटफ्लिक्स के इस नाम के बारे में पता था?

2. पहले नेटफ्लिक्स से लोगों के घरों में फोन किया जाता था :-

हर एक सफल कारोबार के पीछे एक सफल विज्ञापन प्रणाली छुपी हुई होती हैं, क्योंकि विज्ञापन के जरिए ही लोग किसी कंपनी के द्वारा दिए जाने वाले सेवाओं के बारे में जान पाते हैं | जब नेटफ्लिक्स हाल ही में शुरू हुआ था, तब इसके ग्राहक बहुत कम थे और उनके नेटफ्लिक्स के सेवाओं को लेकर काफी सारे प्रश्न थे।

वैसे मेँ यहाँ पर साल 1997 के बारे में बात कर रहा हूँ, जब किसके पास भी आज के भांति स्मार्टफोन नहीं थे | तब नेटफ्लिक्स के मैनेजर ग्राहकों के घर में फोन करके उनके प्रश्नों का उत्तर देने के साथ ही साथ नेटफ्लिक्स की नई-नई सुविधाओं के बारे में बताते थे |
एक तरह देखा जाए तो यह एक प्रकार से विज्ञापन करने की तकनीक ही हैं | वाकई में इसके बारे में मैंने कभी सोचा ही नहीं था |

3. दर्शकों के ऊपर वैज्ञानिक तौर पर शोध किया जाता था :-

पूरी दुनिया में मनोरंजन के क्षेत्र में नेटफ्लिक्स (netflix fact’s in hindi) ही एक ऐसी कंपनी हैं जो की अपने दर्शकों के बारे में बहुत ही ज्यादा सोचता हैं | वैसे नेटफ्लिक्स अपने दर्शकों के ऊपर काफी सारे वैज्ञानिक प्रयोग भी करता हैं | जैसे की किसी फिल्म के स्पोइलर” से दर्शकों के मन में उस फिल्म को लेकर क्या भावना बनता हैं, ऐसे ही कई सारे प्रयोग नेटफ्लिक्स के द्वारा समय-समय पर दर्शकों के ऊपर किया जाता रहा हैं |

वैसे मेँ आपको और भी बता दूँ की स्पोइलर के वजह से लोगों के अंदर उस फिल्म को देखने के लिए और भी ज्यादा उत्सुकता बढ़ता हैं, जो की नेटफ्लिक्स के द्वारा किए गए प्रयोग से पता चला हैं |

4. नेटफ्लिक्स की AI इंसानों को वशीभूत करके रखती है:-

यहाँ पर सबसे पहले मेँ आप लोगों को बता दूँ की, AI के बारे में मैंने एक विशेष लेख पहले से ही लिख कर रखा हैं जिसमें मैंने AI से जुड़ी मूलभूत बातों से लेकर कई सारे अज्ञात बातों के बारे में जिक्र किया हैं| तो, AI के बारे में बेहतर जानकारी के लिए आप लोग उस लेख को पढ़ सकते हैं | खैर अब मुद्दे पर आते हैं, मैंने ऊपर शीर्षक पर जिस बात का जिक्र किया हैं उस बात को खुद नेटफ्लिक्स में काम करने वाले लोगों का कहना हैं | तो क्या सच में नेटफ्लिक्स की AI लोगों को नियंत्रित करता हैं? चलिए इसका जवाब आगे जानते हैं |

A screeshot of Netflix Glitch.
नेटफ्लिक्स के गड़बड़ी की एक स्क्रीन शॉट | Credit: American Express.

नेटफ्लिक्स में काम करने वाले कुछ लोग कहते हैं की, AI के द्वारा नेटफ्लिक्स फिल्मों और टीवी शो की जो विकल्प दर्शकों को उपलब्ध कराता हैं, उन विकल्पों को दर्शक बहुत ही जल्दी पसंद करने के साथ ही साथ उसे जल्द से जल्द देखते भी हैं | तो, यहां पर आप एक तरीके से कह सकते हैं की नेटफ्लिक्स का AI इंसानों की पसंद कर समझ कर बहुत ही अच्छे तरीके से काम कर रहा हैं |

वैसे मेँ आपको और भी बता दूँ की ज़्यादातर नेटफ्लिक्स के दर्शक AI के द्वारा सुझाया गए विकल्पों को 2 मिनट के अंदर ही अंदर पसंद कर लेते हैं |

5. नेटफ्लिक्स ओरिजिनल पर डाली गई पहली और सबसे रहस्यमयी विडियो :-

वैसे तो आपको इंटरनेट पर कई प्रकार के रहस्यमयी विडियो देखने को मिल जाएंगे, परंतु क्या आपने कभी नेटफ्लिक्स में मौजूद एक बहुत ही रहस्यमयी और अजीब विडियो के बारे में सुना हैं? मुझे लगता है की ज़्यादातर लोगों को इसके बारे में शायद कुछ पता नहीं होगा | तो, चलिए एक नजर नेटफ्लिक्स ओरिजिनल (netflix fact’s in hindi) के इस हैरतंगेज़ विडियो के ऊपर डालते हैं |

साल 2011 में खुद नेटफ्लिक्स ने अपने नेटफ्लिक्स ओरिजिनल कैटेगरी में सबसे पहली विडियो डाली | इस विडियो के अंदर एक अंजान व्यक्ति जागिंग करते हुए गाने गुनगुनाता हुआ नजर आएगा | यह विडियो वास्तव में बहुत ही ज्यादा अजीब हैं परंतु इस विडियो को इंटरनेट पर डालने के पीछे एक बहुत ही बड़ी वजह हैं |

दरअसल साल 2011 में नेटफ्लिक्स इंटरनेट पर अपनी सेवाओं की गुणवत्ता को जांचने के लिए इस विडियो को इंटरनेट पर डाली गई | वैसे इस विडियो के द्वारा नेटफ्लिक्स की सर्वर इंटरनेट के स्पीड के हिसाब से कितने फ्रेम प्रति सेकंड  में दर्शकों को विडियो दिखा सकती हैं वह पता चल रहा था |

वैसे नेटफ्लिक्स के दर्शक आज भी अपने सर्च बार में एक्जाम्पल शो” टाइप करके इस विडियो को देख सकते हैं |

6. ज्यादा नेटफ्लिक्स देखने के कुछ बहुत ही हानिकारक प्रभाव :-

किसी भी काम को अगर एक सीमा के अंदर ही किया जाए तो, उसका प्रभाव आपके शरीर के ऊपर लाभकारी होता हैं | परंतु खेद की बात यह है की, जरूरत से ज्यादा कोई भी चीज़ शरीर व मन के लिए सही नहीं हैं | ठीक इसी तरह जरूरत से ज्यादा नेटफ्लिक्स देखना भी आपके शरीर के लिए सही नहीं हैं |

अमेरिकी वैज्ञानिकों के द्वारा किए गए एक शोध से पता चला हैं की, ज्यादा नेटफ्लिक्स देखने से मन में निराशा छाती हैं , बाहर जा कर लोगों से बात करने का मन नहीं करता और जीवन में एक प्रकार से खालीपन सा लगता हैं | दोस्तों ! इस शोध को 316 के ऊपर किया गया था जो की बहुत ही ज्यादा नेटफ्लिक्स देखने के आदि थे और शोध के बाद उनमें से ज़्यादातर लोगों के अंदर नेटफ्लिक्स के बहुत ही हानिकारक प्रभाव देखे गए | क्या आप भी जरूरत से ज्यादा नेटफ्लिक्स देखते हैं? अगर हाँ ! तो थोड़ा सतर्क होकर इसे देखें |

7. क्या आप नेटफ्लिक्स के इस खुफिया मेन्यू के बारे में जानते हैं ! :-

मित्रों! नेटफ्लिक्स (netflix fact’s in hindi) एक तरह का भूलभुलैया हैं | यहां बहुत प्रकार के राज छुपी हुई हैं,जिनके बारे में शायद ही कोई जानता होगा | वैसे यहां पर मेँ आपको ऐसे ही एक राज के बारे में बताऊंगा जिसे शायद ही कोई जानता होगा | वैसे मूलतः देखा जाए तो इस राज को जानने के बाद आपका ही फायदा होने वाला हैं | तो, चलिए जानते हैं आखिर यह कैसा और कौनसा राज हैं !

मित्रों ! अगर आप अपने कम्प्यूटर पर नेटफ्लिक्स चला रहें हैं तो, शिफ्ट + अल्ट + ए इस शॉर्टकट की को दबाने के बाद एक अलग सा खुफिया मेन्यू आपके सामने खुल जाएगा | इस खुफिया मेन्यू में आप विडियो स्ट्रीमिंग की गुणवत्ता को अपने हिसाब से बदल सकते हैं जो की विडियो को ज्यादा बफर होने नहीं देगा |

यहां पर मेँ आपको और भी बता दूँ की, स्ट्रीमिंग क्वालिटी को बदल देने से आपका विडियो पहले के मुकाबले और अटक-अटक कर नहीं चलेगा और आप अपने मनपसंद विडियो की मजे ले पाएंगे | वैसे यहां पर विडियो की गुणवत्ता में आपको थोड़ा समझौता करना पड़ेगा |

Tesla car's are now going to stream Netflix.
टेसला के कारों के अंदर नेटफ्लिक्स की सुविधाएं | Credit: Pocket Lint.
8. नेटफ्लिक्स के मैट्रिक्स में हुआ था एक बार गड़बड़ :-

नेटफ्लिक्स जैसे बहुत ही बड़ी और आधुनिक कंपनी के कंटैंट मैट्रिक्स में भी एक बार गड़बड़ी देखी जा चुकी हैं | वैसे मेँ आपको बता दूँ की नेटफ्लिक्स के इतिहास में यह अब तक की सबसे पहली गड़बडी थी | यह गड़बड़ी साल 2014 में हुआ था | इस गड़बड़ी के कारण तो अलग-अलग टाइटल के अंदर लिस्टिंग का फेर-बदल हो गया था जिसके कारण दर्शकों को काफी ज्यादा तकलीफ हुआ था |

हलांकि इस गड़बड़ी को नेटफ्लिक्स के द्वारा बहुत ही जल्दी ठीक भी किया गया, परंतु इसी बीच बहुत सारे लोगों ने गड़बड़ी की स्क्रीन शॉट लेकर नेटफ्लिक्स को काफी ज्यादा ट्रोल भी किया था |

9. टेसला के कारों के अंदर जल्द ही नेटफ्लिक्स की सेवा शुरू होने वाली हैं :-

अमेरिका में आज दो चीज़ बहुत ज्यादा ही ज्यादा प्रसिद्ध हो रही हैं, पहला तो नेटफ्लिक्स (netflix fact’s in hindi) और दूसरा है टेसला की कारें | वैसे कारों से याद आया की मैंने इससे पहले टेसला की कारों के बारे में एक बहुत ही सुंदर लेख लिखा हैं, जहां पर आप टेसला के कारों के बारे में हर एक बात को बहुत ही सरल तरीके से समझ पाएंगे | तो, अगर आप इन भविष्यवादी कारों के बारे में जानने को इच्छुक हैं तो उस लेख को भी पढ्ना न भूलें |

खैर हाल ही में टेसला के सीईओ इलोन मोस्क ने कहा हैं की, टेसला के कारों के अंदर यात्री नेटफ्लिक्स और यूट्यूब की सेवा ले सकते हैं  जो की एक बहुत ही बड़ी खबर हैं क्योंकि यह सुविधा पहले किसी कार के अंदर औपचारिक तौर पर नहीं दिया गया था | वैसे यहां पर ध्यान देने वाली बात यह भी है की, कार के अंदर बैठे यात्री नेटफ्लिक्स और यूट्यूब को सिर्फ पार्किंग के वक़्त ही देख सकते हैं | इससे सड़क दुर्घटना की समस्या भी काफी ज्यादा कम हो जाएगा |

Source :- www.mentalfloss.com.

Tags

Bineet Patel

मैं एक उत्साही लेखक हूँ, जिसे विज्ञान के सभी विषय पसंद है, पर मुझे जो खास पसंद है वो है अंतरिक्ष विज्ञान और भौतिक विज्ञान, इसके अलावा मुझे तथ्य और रहस्य उजागर करना भी पसंद है।

Related Articles

Back to top button
Close