Facts & Mystery

दुनिया के ये देश टेक्नोलॉजी के मामले में आज भी सबसे पीछे हैं…

Countries Which Are Far Behind In Technology

Countries Which Are Far Behind In Technology – टेक्नोलॉजी का विस्तार दिन प्रतिदिन बढ़ता जा रहा है। रोज़ नई-नई टेक्नोलॉजी आ रही हैं और कुछ पर काम चल रहा है जैसे आर्टिफिशल इंटेलीजेंस। जो रोबोट्स बनाने में इस्तेमाल की जाती है। हर क्षेत्र में टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल होता है शिक्षा, मेडिकल, निर्माण आदि सभी क्षेत्रों में टेक्नोलॉजी ने अपनी पकड़ बना ली है।

टेक्नोलॉजी न होती तो आज चाँद पर या मंगल ग्रह पर जाना नामुमकिन था। जिस देश मे सबसे ज्यादा टेक्नोलॉजी है वो अपनी सफलता का परचम लहराता है। परंतु कुछ देश ऐसे भी है जहाँ टेक्नोलॉजी न के बराबर हैं या है ही नही।

तो आइए जानते है उन देशों के बारे में जो  आज भी टेक्नोलॉजी से वंचित हैं।

1. उगांडा

infoans.org

उगांडा अफ़्रीकन देश जो अपनी भ्रष्ट सरकार के कारण टेक्नोलॉजी में बहुत पीछे है। यहां बाल मजदूरी अभी भी करवाई जाती है और कत्लेआम तो यहाँ साधारण सा लगता है। इस देश के पिछड़ने का अंदाजा हम इसी बात से लगा सकते हैं कि इस देश मे सन 2015 में डिजिटल टीवी का प्रचलन शुरू हुआ और इंटरनेट इस्तेमाल करना आज भी यहाँ एक कठिन काम है। ऐसे में किसी देश का विकास करना बहुत मुश्किल है।

2. लाओस

abc.net

इस देश मे अत्यधिक गरीबी है। जिसके चलते यहाँ क्राइम दर बहुत है। लाओस को सबसे भ्रष्ट देशों में गिना जाता है। यहां संचार के साधन बहुत कम है जिससे विदेशी निवेशक यहाँ निवेश करने में कतराते है। यहाँ की एक तिहाई से अधिक जनशंख्या की प्रतिदिन की प्रतिव्यक्ति आय 1.25 डॉलर से भी कम है। इस देश का नाम सबसे भूखे देशों में भी आता है। जिस देश मे संचार के साधन ही नही है वहाँ टेक्नोलॉजी कैसे होगी।

3. तंज़ानिया

Credit: Gilles Amadou Ouédraogo (LWF).

तंज़ानिया भी एक अफ्रीकन देश है जो अविकसित है और जहां क्राइम दर दिन प्रतिदिन बढ़ता जा रहा है। एक सर्वे के अनुसार सन 2012 में 18% से अधिक बिजली का उत्पादन चुरा कर या अवैध तरीके से किया गया था। अधिक मात्रा में बिजली संयंत्र न हो पाने के कारण यहां बिजली नही आती है । जिसकी वजह से यह देश टेक्नोलॉजी में पीछे रह गया है।

4. मोजांबिक

geneticliteracyproject.org

यह देश अपने प्राकृतिक संसाधनों के लिए जाना जाता है। यह पूर्व अफ्रीकन देश है जहां पानी और शिक्षा की बहुत कमी है। यहां की 80% जनसंख्या कृषि पर निर्भर है। कम शिक्षा और कम इंटरनेट के इस्तेमाल के कारण यह देश टेक्नोलॉजी में पिछड़ा हुआ है।

5. लेसोथो

Source – Pinterest.com

लेसोथो एक छोटा दक्षिण अफ्रीकी देश है जहाँ की जनसंख्या मात्र दो मिलियन है। इस देश के पिछड़ेपन का सबसे बड़ा कारण HIV की बीमारी का पूरे देश मे फैलना है। 40 वर्ष से कम आयु की लगभग 50% से अधिक महिलाएं HIV से ग्रसित है क्योंकि यहां पर बलात्कार के सबसे ज्यादा मामले सामने आए हैं। यहां के अधिकतर लोग अपने अधिकारों, शिक्षा, पर्याप्त इलाज़ और यातायात के साधनों के कारण संघर्ष करते नज़र आते हैं। ऐसे में देश का तरक्की करना बेहद मुश्किल हो जाता है। इसलिए ये देश टेक्नोलॉजी में पिछड़ा हुआ है।

6. बुर्किना फासो

बुर्किना फासो भी एक अफ्रीकन देश है जो भ्रष्टाचार और आतंकवाद की चपेट में है। इस देश मे भी पानी की बहुत ज्यादा कमी है जिसकी वजह से यहां टेक्नोलॉजी का विकास नही हो पाया है। यूरोपियन कमीशन के अनुसार पांच लाख से अधिक पांच वर्ष से कम आयु के बच्चे कुपोषण का शिकार है। और टेक्नोलॉजी का विकास न हो पाने के कारण यहाँ विकास करना बहुत मुश्किल से लगता है।

7. कंबोडिया

drinkhumanmilk.blogspot.com

कंबोडिया दक्षिण पुर्व एशिया में है। सन 1997 में यहां प्रजातंत्र लागू हुआ था। गरीबी, भुखमरी, भ्रष्टाचार और राजनीति आज़ादी न होने के कारण यह देश विकसित होने में नाकाम रहा है। जिसकी वजह से यह देश टेक्नोलॉजी में पिछड़ा हुआ है।

8. भूटान

ndtvimg.com

भूटान एशिया महाद्वीप में है। जहाँ अभी भी राजतंत्र है। जिसकी वजह से यह देश टेक्नोलॉजी में पिछड़ा हुआ है। यहाँ की आय का मुख्य साधन पर्यटन और कृषि है। भूटान विश्व का सबसे कम भ्रष्ट और कम विकसित देश है। यहाँ रेलवे का भी निर्माण नही हुआ है। इसका कारण यहाँ टेक्नोलॉजी का विकसित न होना है। जिसकी वजह से यह देश अन्य देशों से टेक्नोलॉजी के मामले में पिछड़ा हुआ है।

9. हैती

Credit – media.gadventures.com

हैती का इतिहास बहुत दर्दनाक है। हैती आज़ादी के लिए लगातार की गयी लड़ाइयों के कारण अपनी अर्थव्यवस्था में कमजोर होता जा रहा है और टेक्नोलॉजी में पिछड़ता जा रहा है। यह देश मूलभूत आवश्यकताओं जैसे शिक्षा, उपचार, संचार, इंटरनेट और रिसर्च की सुविधाओं से कोसों दूर है। इसलिए विकास करने में बहुत पीछे है। वर्ल्ड इकनोमिक फोरम में उत्तर अमेरिकी देशों में सूचना एवं प्रौद्योगिकी में यह देश सबसे पीछे है।

10. किरबाती

YT.com

किरबाती टेक्नोलॉजी में विश्व के अन्य देशों से सबसे पीछे है। इसका मुख्य कारण अन्य देशों से दूर होना है। जिसके कारण यहाँ तक इंटरनेट की सुविधा पहुँचना बहुत मुश्किल है। टेक्नोलॉजी में विकास न हो पाने के कारण यहाँ स्वास्थ्य सुविधाओं की बहुत कमी है जिसकी वजह से बीमारियों का इलाज नही हो पाता है और कोल्ड स्टोरेज की सुविधा न हो पाने के कारण यहाँ शुद्ध पानी की भी बहुत समस्या है। इस देश मे प्राकृतिक संसाधनों की भी कमी है।

Tags

Abhinay Kanojia

अभिनय प्रसाद विज्ञानम् के लेखक हैं, इन्हें विज्ञान, इंटरनेट और Technology पर लिखना बहुत पसंद है।

Related Articles

Back to top button
Close