Facts & Mystery

अंतरिक्ष में मरने पर अंतरिक्ष यात्री के साथ ये होता है !

दोस्तों ! आज अंतरिक्ष हमारे लिए धीरे धीरे दूसरा घर बनता जा रहा है क्योंकि बढ़ते समय के साथ हमने इसके बहुत बड़े हिस्से को काफी हद तक जाना है और कई जानकारियाँ भी ली हैं | हम आए दिन अंतरिक्ष सम्बन्धी मिशन और ऑपरेशन के बारे में तो पढ़ते ही रहते हैं और हमारी उत्सुकता भी बढ़ने लगती है |

अब ये तो जायज ही है कि इसके लिए अंतरिक्ष यात्रियों को ही अंतरिक्ष में भेजना पड़ता है जिन्हें विषम परिस्थितियों में अपना समय गुजारना पड़ता है और ऐसे में दुर्घटना होना भी लाजमी है | यात्रियों को वहाँ हर एक स्थिति को अपने नियंत्रण में करने का भरसक प्रयास करना पड़ता है | 50 सालों से अधिक के space exploration में हमने 18 लोगों को अंतरिक्ष सम्बन्धी operations में खो दिया है जिसमें से 3 लोग Vladislav Volkov, Georgi Dobrovolski और  Viktor Patsayev, 1971 में एक मिशन के दौरान , outer space में किसी दुर्घटना की वजह से मारे गए |

पर दोस्तों जैसे जैसे Space Travels और Journeys को आम लोगों के लिए affordable यानी सुलभ किया जा रहा है , सम्भावना है कि भविष्य में और भी space death से सम्बंधित ख़बरें हमने सुनने को मिलेंगी |

 

सबसे पहले तो अगर आप बिना spacesuit के अपने spacecraft से बाहर निकलकर outer space में सैर करने जाएंगे तो लगभग 15 सेकंड के अन्दर – अन्दर आप अपनी consciousness खो बैठेंगे यानी आप बेहोश होने लगेंगे क्योंकि space खुद एक high quality vacuum है जहां oxygen की मात्रा न के बराबर है और किसी भी तरह का air pressure नहीं है |

बिना किसी air pressure की वजह से आपके body fluids और blood ,liquid state में नहीं रह पाएंगे और काफी तेजी से boil यानी उबलने लगेंगे और अपनी energy खोने लगेंगे जिसकी वजह से ये fluids जमना शुरू कर देंगे और body tissues, expand यानी फूलने लगेंगे जिसका परिणाम ये होगा कि 30 सेकंड से लेकर 1 minute के अन्दर अन्दर आपकी जान भी जा सकती है |

इसीलिए दोस्तों astronauts को spacesuits दिए जाते हैं जो air pressure maintain करता है और fixed टाइम के oxygen की supply जारी रखता है | इसके अलावा, cosmic radiations , solar winds और space debris की वजह से भी outer space में आपकी जान जा सकती है |

हालांकि अब technology और medical science में इतनी development हो चुकी है कि space में किसी भी तरह की दुर्घटना और किसी की जान जाने की possibility काफी कम है और आपको जानकार हैरानी होगी कि इस चीज के लिए NASA के पास कोई official policy भी नहीं है | पर International Space Station के astronauts की मानें , तो उनको इस situation को handle करने की भी training दी जाती है जहां, किसी crew member की जान जाने के बाद किस तरह का operation करना पड़ सकता है |

ISS commander, Chris Hadfield ने इससे संबंधित कुछ महत्वपूर्ण बातें बताई हैं जैसे कि सबस पहले अगर कोई astronaut दुर्भाग्यवश यदि outer space में मर जाता है तो सबसे पहले crew members द्वारा उसकी body को किसी सही जगह पर store करना होता है जिसका एक solution है , high pressurized suit जिसमें उस मरे हुए astronaut की body को store किया जाता है और किसी cold यानी ठंडी जगह पर body को अलग से रखा जाता है जिससे bacteria अन्य astronauts तक न पहुँच सकें |

इसके साथ ही एक Swedish company ने भी इस situation को लेकर एक solution दिया है जहां किसी substance जैसे कि liquid nitrogen या cold vacuum of space द्वारा मरे हुए व्यक्ति की body को freeze यानी जमा दिया जाए जिससे कि उसकी body को छोटे छोटे frozen यानी जमे हुए tissues में बदल दिया जाए जिससे वो body ज्यादा space भी नहीं लेगी और किसी तरह का कोई जैविक खतरा भी नहीं होगा |

पर दोस्तों थोड़ा रुकिए ! इन सबके अलावा क्या हम उस dead body को outer space में ही खाली छोड़ सकते हैं ? Well ! इसका जवाब है शायद नहीं क्योंकि बिना किसी rocket की सहायता के अगर ऐसा किया जाए तो chances हैं कि वो dead body, spacecraft की trajectory को follow करके वापिस वहीँ आ जाए जहां से उसे बाहर निकाला था | और यदि आप अपने mission के दौरान किसी दूसरे planet पर पहुँच जाएं तो शायद आप वहाँ उस dead body का अंतिम संस्कार कर दें ! पर ऐसा करना भी कोई सही प्रक्रिया नहीं होगी क्योंकि हम इंसानों में पृथ्वी संबंधित microbes और bacteria होते हैं जो इस प्रक्रिया के दौरान उस planet की habitable लाइफ को भी disturb कर सकते हैं |

दोस्तों ! फिलहाल तो इस तरह का कोई भी case हमारे सामने नहीं आया है जहां space से किसी dead body को वापिस लाया गया हो पर उम्मीद रखिए कि भविष्य में ऐसा संभव जरूर होगा |

इस विषय को आचे से जानने के लिए ये वीडियो जरूर देखें !

 

Tags

Shubham Sharma

शुभम शर्मा विज्ञानम् के लेखक हैं जिन्हें विज्ञान, गैजेट्स , रहस्य और पौराणिक विषयों में रूचि है। इसके अलाबा इन्हें खेल और वीडियो बनाना बहुत पसंद है।

Related Articles

Back to top button
Close