Mystery

हम इंसानो का सबसे बड़ा रहस्य, आखिर कौन हैं हम? जानें विज्ञान के माध्यम से

Cells Explained In Hindi

Cells Explained In Hindi  – जब कोई हमसे पूछता है कि आप कौन हैं और आपकी क्या पहचान हैं, तो हम कहते हैं कि मेरा नाम ये है और मैं  या तो कोई विद्यार्थी हूँ या कोई काम करता हूँ, मतलब हम अपनी सामाजिक पहचान बतायेंगे। पर क्या आपने सोचा है कि आखिर इस पहचान से क्या हम पक्के तौर पर बता पाते हैं कि हम कौन हैं।

अब अगर आप यही सवाल किसी वैज्ञानिक से पूछो तो वो इसका जवाब बड़ी ही विचित्र देगा, वैज्ञानिकों के हिसाब से तो सामाजिक पहचान कोई मायने नहीं रखती है। जिस तरह वह हर भौतिक पदार्थ की वास्तविक पहचान उनमें मौजूद अति सूक्ष्म कणों जिन्हें परमाणु भी कहते हैं उससे करते हैं। उसी तरह वह  अपनी और हमारी पहचान भी बताते हैं।

वैज्ञानिकों के मुताबिक आपकी वास्तविक पहचान ना तो आपका कोई नाम है, ना काम है और ना ही ये शरीर आपकी पहचान है, वे गहराई में जाकर के कहते हैं कि हर इंसान की वास्तविक पहचान उसके अंदर मौजूद  जिंदगी की सबसे छोटी इकाई से होती है जिसे हम सेल्स (Cells)  कहते हैं।

– आपके शरीर से जुड़ी ये बाते जिन्हें आप सच समझते रहे, वे एकदम मिथ्या हैं

हमारे शरीर में 37 खरब सेल्स  होते हैं जो एक तरह से जिंदा जीव  होते हैं, और हमारी हर जरूरत को पूरा करते हैं। इन 37 खरब सेल्स ही मिलकर के हमारे दिल, दिमाग, फेफड़े और सभी शरीर के हिस्से का निर्माण करते हैं।

तो सही मायने में हर जीवित प्राणी की जो वास्तविक पहचान है वो यही सैल्स हैं जिनके अरबों-खरबों की संख्या में जुड़ने के कारण ही आज वो अस्तित्व में है। अगर ये सैल्स ना होते तो शायद पृथ्वी पर आज कोई भी जीवित प्राणी भी नहीं होता।

आखिर ये सेल्स होते क्या हैं और क्यों इन्हें जिंदगी की सबसे छोटी यूनिट कहा जाता है, इनसे कैसे हमारी पहचान बनी है और तब क्या होगा जब हमारे शरीर में मौजूद ये सैल्स अपने आप खराब हो जायें तो क्या ऐसी स्थिति में हम किसी दूसरे इंसान के सैल्स अपने शरीर में डाल सकते हैं।

इन्हीं सभी सवालों के जवाब मैं आज आपको इस वीडियो में देने वाला हूँ जिसे आप बिलकुल भी मिस मत कीजिए और तैयार हो जाइये शरीर के अंदर की अद्भुत दुनिया के सफर के लिए….

Tags

Shivam Sharma

शिवम शर्मा विज्ञानम् के मुख्य लेखक हैं, इन्हें विज्ञान और शास्त्रो में बहुत रुचि है। इनका मुख्य योगदान अंतरिक्ष विज्ञान और भौतिक विज्ञान में है। साथ में यह तकनीक और गैजेट्स पर भी काम करते हैं।

Related Articles

Close