Science

अब बिना मोबाइल के कर सकेंगे डिजिटल पेमेंट, PM मोदी ने लॉन्च किया BHIM Aadhaar Pay

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के डिजिटल इंडिया के सपने को साकार करने और कैशलेस अर्थव्यवस्था की दिशा में भारत को स्थानांतरित करने में सरकार द्वारा प्रत्येक व्यक्ति के लिए भुगतान प्रक्रिया का आसान बनाने का कार्य किया जा रहा है। जिसके लिए हाल ही में सरकार ने यूपीआई को लॉन्च किया था जो कि मोबाइल की मदद से आसानी से पैसे भेजने और प्राप्त करने में मदद करता है। वहीं, यूएसएसडी आधारित मोबाइल बैंकिंग सर्विस को भी लॉन्च किया गया जो कि स्मार्टफोन और फीचर फोन पर कार्य करती है। वहीं, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज नए डिजिटल पेमेंट सिस्टम को पेश किया। इसका उद्देश्य बैंक की प्रक्रिया ऐसे लोगों के लिए आसान बनाना है जो पढ़ने या लिखने में सक्षम नहीं हैं।

पीएम मोदी ने नागपुर में डिजिटल ट्रांजैक्शन के लिए खास पेमेंट सिस्टम लॉन्च किया है। अंबेडकर जयंती है के खास मौके पर भीम आधारित यह सर्विस शुरू की गई है। यह बायोमैट्रिक बेस्ड पेमेंट सिस्टम खास तौर पर मर्चेंट्स के लिए है, जिससे खरीदारी आसान होगी। आधार पे सिस्टम पहली ऐसी बायोमेट्रिक-आधारित भुगतान प्रणाली होगी, जिससे आधार-जुड़े खाते धारक अपने अंगूठे का प्रयोग कर बैंकिंग का लेनदेन कर पाएंगे।

इस एप के जरिए दुकानदार ग्रहाकों से डिजिटल पेमेंट ले सकते हैं। इतना ही नहीं अगर ग्राहक के पास स्मार्टफोन नहीं है तो भी वह बायोमैट्रिक स्कैन के जरिए पेमेंट कर सकता है। कस्टमर्स को आधार पे के जरिए पेमेंट करने के लिए क्रेडिट या डेबिट कार्ड की जरूरत नहीं होगी। रिपोर्ट्स के मुताबिक दूसरे पेमेंट ऐप्स और POS मशीन की तरह इसमें इंटरनेट की जरुरत नहीं होगी।

आधार पे एक प्रकार का एप है जो सिर्फ मर्चेंट के पास होगा। यूजर्स को सिर्फ अपना आधार नंबर और मोबाइल नंबर अपने बैंक अकाउंट, डेबिट या क्रेडिट कार्ड से लिंक करना होगा। विक्रेता इस ऐप को प्ले स्टोर से फ्री डाउनलोड कर सकते हैं। इसके बाद उन्हें अपने फिंगरप्रिंट और आधार कार्ड के जरिए इसमें रजिस्टर करना होगा। इसके साथ ही दो नई इंसेटिव स्कीम भी शुरू की गई हैं। इनमें BHIM-Cashback और रेफरल बोनस शामिल हैं।

आधार पेमेंट एप और अन्य पेमेंट सोल्यूशन में अंतर
फिलहाल यदि आप डिजिटल पेमेंट का उपयोग करते हैं तो आपके पास स्मार्टफोन का हानेा जरूरी है जिसके बाद आप उसमें कुछ मोबाइल एप जैसे पेटीएम, फ्रीचार्ज या यूपीआई इनेबल एप का उपयोग कर सकते हैं। किंतु आधार इनेबल पेमेंट सिस्टम AEPS भुगतान के लिए स्मार्टफोन की आवश्यकता को समाप्त करता है। AEPS की मदद से व्यापारी बिना नकद लेन-देन को स्वीकार करने में सक्षम होंगे।

सरकार द्वारा पेश की गई आधार पेमेंट सर्विस को केवल मेट्रो शहरों में ही नहीं बल्कि ग्रामीण क्षेत्रों व गांवों में भी उपयोग किया जा सकता है। गांवों की बात करें तो वहां हर कोई स्मार्टफोन का उपयोग नहीं करता और ऐसमें पेटीएम जैसे एप और यूपीआई के उपयोग का सवाल ही नहीं उठता। किंतु आधार पेमेंट सिस्टम को कैशलेस पेमेंट के लिए पेश किया गया है जिसके उपयोग के लिए स्मार्टफोन का होना जरूरी नहीं है।

उपभोक्ताओं के लिए आधार पेमेंट के लाभ
यह डिजिटल पेमेंट पेमेंट केवल व्यापारियों के लिए नहीं है बल्कि आधार इनेबल पेमेंट के कई लाभ हैं। उदाहरण के लिए यदि आप अपना आधार कार्ड नंबर डालें और पीओएस मशीन पर अपना फिंगरप्रिंट स्कैन करते हैं तो अपने बैंक खाते में कैश जमा करने के अलावा मिनी स्टेटमेंट, अकाउंट बैलेंस व अकाउंट की जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

आप अपने दोस्तों व परिवाजनों को आधार इनेबल पेमेंट सर्विस की मदद से पैसे ट्रांसफर कर सकते है। इसके लिए केवल पीओएस मशीन पर आधार कार्ड नंबर डालना और फिंगरप्रिंट स्कैन करना आवश्यक है। इस सर्विस का उपयोग करने के लिए आपको न तो साइन की आवश्यकता है और न ही डेबिट या क्रेडिट कार्ड की। यह एप पूरी तरह सुरक्षित है क्योंकि इसमें पेमेंट के लिए फिंग​रप्रिंट का उपयोग होता है तो कि कोई भी कॉपी नहीं कर सकता।

Source – BGR

Team Vigyanam

Vigyanam Team - विज्ञानम् टीम

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button