Facts & Mystery

खगोलीय-भौतिक विज्ञान से जुड़ी कई अनसुनी बातें – Amazing Astrophysics Facts In Hindi.

हर एक सेकंड में आप तय कर रहें है 360 km की दूरी! आखिर कैसे ?

मनुष्य पृथ्वी पर आज विज्ञान के जरिए राज कर रहा हैं | हालांकि पूर्ण तरीके से तो , मनुष्य का पृथ्वी पर नियंत्रण नहीं है परंतु हाँ ! कुछ हद तक यह पृथ्वी को अपने मन के हिसाब से इस्तेमाल कर रहा है। 21 वीं शताब्दी की इस आधुनिक युग में आज इंसान चाँद और मंगल जैसे अन्य खगोलीय पिंडों के ऊपर जीवन की खोज कर रहा है। दोस्तों! अंतरिक्ष को आज कई देश अपने-अपने उपकरणों के जरिए काफी ज्यादा विश्लेषित (Analyzed) भी कर चुके हैं। आज अंतरिक्ष में प्रतियोगिता का दौर चल रहा हैं और इसी प्रतियोगिता के दौर के मुद्दे को नजर रखते हुए हम आज खगोलीय-भौतिक विज्ञान से जुड़ी (astrophysics facts in hindi) कई अनसुनी बातों को जानेंगे।

You Are Travelling At A Speed Of 360km/s.
आप प्रति सेकंड तय कर रहें है 360 km | Credit :Athletic Performance Training Center.

खगोलीय-भौतिक विज्ञान (astrophysics facts in hindi) से जुड़ी कई रोचक बातों को जानने से पहले चलिए इस विषय से जुड़ी कई मूलभूत बातों को जान लेते हैं | दोस्तों ! आगे मैंने खगोलीय-भौतिक विज्ञान (astrophysics facts in hindi) जुड़ी बहुत ही महत्वपूर्ण बातों को बताया है , तो इसे अवश्य ही ध्यान से पढ़िएगा |

खगोलीय-भौतिक विज्ञान क्या हैं ? – What Is Astrophysics In Hindi ? :-

मित्रों ! अकसर लोगों को खगोलीय-भौतिक विज्ञान से जुड़ी (astrophysics facts in hindi) कई बातों के बारे में पता होता है, परंतु विडंबना की बात यह है की उनको इसकी संज्ञा (Definition) के बारे में पता नहीं होता है। इसलिए मैं सबसे पहले इसकी संज्ञा को आपके सामने रख रहा हूँ।

खगोलीय-भौतिक विज्ञान अंतरिक्ष विज्ञान का एक अभिन्न अंग है जो की भौतिक विज्ञान और रसायनिक विज्ञान के सिद्धांतों के जरिए सितारे , ग्रह , आकाशगंगा , नेब्यूला और ऐसे ही कई खगोलीय चीजों के बनने और खत्म होने के प्रक्रिया को समझने मेँ मदद करता हैं “।

सरल भाषा में कहूँ तो भौतिक विज्ञान के सिद्धांतों के जरिए किसी भी खगोलीय पिंड या चीज़ के बारे में पढ़ने और जानने को खगोलीय-भौतिक विज्ञान कहते हैं | खगोलीय-भौतिक विज्ञान हमें यह ब्रह्मांड कैसे बना हैं , हम कैसे यहाँ पैदा हुए और हमारे अलावा भी क्या इस विशाल ब्रह्मांड में कोई दूसरी सभ्यता मौजूद हैं जैसे कई सारे जटिल और हैरान कर देने वाली बातों का भी यह  पता लगाता हैं |

आप अगर खगोलीय-भौतिक विज्ञान (astrophysics facts in hindi) से जुड़ी कुछ भी अद्भुत तथ्यों के बारे में जानते हैं तो अवश्य ही हमें बताइएगा।

खगोलीय-भौतिक विज्ञान से जुड़ी हैरान कर देने वाली तथ्य – Amazing Astrophysics Facts In Hindi :-

मित्रों ! जैसा की मैंने पहले भी कहा था की हम आज खगोलीय-भौतिक विज्ञान से जुड़ी कई रोचक (astrophysics facts in hindi) तथ्यों के बारे में जानेंगे | तो , मेँ आपको बता दूँ की वह  वक़्त आ गया हैं ; चलिए खगोलीय-भौतिक विज्ञान से जुड़ी दिलचस्प बातों को जानते हैं |

1. आप एक पत्थर पर रह रहें हैं ! :-

हर एक इंसान यह कहेगा की उसका घर पृथ्वी है। तो , यहाँ सवाल उठता है की आखिर यह पृथ्वी है क्या? एक पत्थर ही न ! जी हाँ ! यह (लगभग) गोलाकार वाला एक पत्थर ही हैं जो की सूर्य के चारों तरफ 1,00,000 मील प्रति घंटा की रफ्तार से घूम रहा हैं।

तो , आखिर में पृथ्वी एक पत्थर है जो की हर एक इंसानों इकलौता घर हैं | सुनने में बहुत ही सरल लगता है परंतु यह बात बहुत ही मार्मिक हैं | इसके बारे में थोडी गौर से सोचिएगा !

2. आप कितने क्षुद्र है यह आप कभी भी नहीं जान पाएंगे ! :-

शीर्षक पढ़ के कुछ समझ में आया ? अगर नहीं तो , मेँ आपको समझता हूँ | दोस्तों पूरे ब्रह्मांड में 100 अरब से ज्यादा ब्रह्मांड मौजूद हैं | उन सभी आकाशगंगाओं के अंदर कई खरब सितारे मौजूद होंगे | फिर हर एक सितारे का अपना ही एक सौर-मंडल मौजूद होगा जिन में पृथ्वी जैसे कितने ग्रह मौजूद होंगे  | तो , आप अब सोचिए की आप कितने छोटे हैं |

आपके शरीर के अंदर मौजूद हर एक DNA के मूलभूत कणिकाओं को भी बाहर निकाल कर पूरे ब्रह्मांड में मौजूद उन ग्रहों के साथ तुलना किया जाए तब भी आपके DNA में मौजूद मूलभूत कणिकाएं उन ग्रहों के संख्या से कम ही होंगी | वाकई में ऐसे अद्भुत खगोलीय-विज्ञान (astrophysics facts in hindi) से जुड़ी बातों के बारे में मैंने भी इससे पहले कभी नहीं सोचा !

3. ब्रह्मांड की घड़ी है बहुत अनोखी ! :-

क्या सोच रहें हैं ? यहीं न की,आखिर ब्रह्मांड की भी क्या अपना एक घड़ी होती है ? जी हाँ ! ब्रह्मांड की भी अपना एक घड़ी होती है परंतु दोस्तों इस बात को आपको बड़े ही ध्यान से सुनना होगा। मेँ और आप लोग रोजाना इस्तेमाल करने वाली घड़ी की बात नहीं कर रहे हैं, हम बात करने वाले समय-चक्र की।

समय के मूल रूप से तीन रूप होते हैं ; भूत , वर्तमान और भविष्य | तो, ब्रह्मांड में मौजूद हर एक व्यक्ति अपने हिसाब से समय को अनुभव (महसूस) करता है।

Unquie Space Clock.
ब्रह्मांड का घड़ी | Credit : Stocky.

यहाँ पर सरल भाषा में कहूँ तो हम जिसे वर्तमान कहते है , वह इस पृथ्वी पर मौजूद हर एक व्यक्ति के लिए अलग-अलग होता हैं। व्यक्ति विशेष का स्थान इस बात की पूरी पुष्टि करता है की, वह कैसे वर्तमान को अनुभव (महसूस) करेगा। आपका वर्तमान केवल आपके लिए ही हैं !

4. आप एक इंसानी चुंबक हैं ! :-

चुंबक के बारे में जानना किसे पसंद नहीं हैं | खैर इससे पहले भी मैंने चुंबक पर एक बहुत ही मजेदार व दिलचस्प लेख लिखा हैं , तो अगर आप चाहें तो उसे भी आप एक बार जरूर देखिएगा | अब मुद्दे पर आते हैं | पृथ्वी पर मौजूद हर एक इंसान अपने-आप में ही एक प्रकार का चुंबक ही है।

यह बात सुनने में थोड़ा अटपटा लगेगा , परंतु यह हकीकत हैं | ब्रह्मांडिय गुरुत्वाकर्षण बल सिद्धांत (Universal Law Of Gravity) के हिसाब से पृथ्वी तथा पूरे ब्रह्मांड में मौजूद हर एक चीज़ चुंबक की भांति हर दूसरे चीज़ को अपनी तरफ आकर्षित करता हैं , यहाँ तक की खुद आप कई दूसरे वस्तु और व्यक्तिओं को आकर्षित करते है।

5. आपका शरीर सूर्य से भी ज्यादा गरम है ! :-

अब आप पूछोगे की , मेँ यह क्या कह रहा हूँ ? दोस्तों ! सुनने में थोड़ा अजीब लगेगा परंतु बात सत्य हैं (हालांकि इसका पुष्टीकरण सही से नहीं हुआ हैं) | यह बात 100% सत्य है की सूर्य का सतही तापमान 6,000 केल्विन है और आपके शरीर का तापमान मात्र 310 केल्विन | लेकिन यहाँ पर एक मजेदार तथ्य सामने आता हैं |

आपके शरीर के घनत्व के हिसाब से आपका शरीर सूर्य के घनत्व के हिसाब से काफी ज्यादा ताप को पैदा करता है। तो इसी हिसाब से आपका शरीर सूर्य से काफी ज्यादा गरम होना चाहिए | परंतु रुकिए यहाँ और एक मजेदार तथ्य सामने आता है। सूर्य के केंद्र में परमाणु संलयन (Nuclear Fusion) के जरिए ताप का उत्पाद होता हैं , परंतु आपके शरीर के अंदर रासायनिक प्रतिक्रियाओं के जरिए ताप का उत्पाद होता है। इसलिए घनत्व के हिसाब से काफी तापमान पैदा करने के बाद भी आपका शरीर 310 केल्विन ही गरम हैं |

वाकई में खगोलीय-भौतिक विज्ञान (Astrophysics facts in hindi) से जुड़ा यह शायद सबसे रोचक तथ्य होगा !

6. आप एक सेकंड में 360 km की दूरी तय कर रहे हैं ! :-

शायद ही ऐसा कोई यान होगा जो की आपको पृथ्वी के सतह पर प्रति सेकंड 360 km रफ्तार से एक से दूसरे जगह तक ले कर जाए | परंतु आपको यहाँ जानकर हैरानी होगा की आप जन्म से ले कर आज ताक हर एक सेकंड 360 km दूरी तय कर रहें हैं | जी हाँ ! हर एक सेकंड 360 km की दूरी |

क्या आप इसके बारे में पहले से जानते थे ?

7. आपका शरीर बना है स्टारडस्ट (Stardust) से , है बहुत की कीमती! :-

खगोलीय-भौतिक विज्ञान से जुड़ी कई अनसुनी बातें - Amazing AstroPhysics Facts In Hindi.
Stardust | sciencealert.com

हर एक इंसानी शरीर बहुत ही कीमती हैं , क्योंकि हर एक शरीर स्टारडस्ट (तारों की धूल) से बनी हुई है। दोस्तों ! मूल रूप से हमारा शरीर कार्बन , ऑक्सिजन और हाइड्रोजन से बना हुआ है जो की एक बहुत ही बड़े सितारे से आया है। यह ब्रह्मांड में मौजूद मौलिक और बहुत ही महत्वपूर्ण चीजों में से एक है।

तो, कुल मिलाकर कहें तो आप बहुत ही अनोखे और कीमती हैं !

Sources :- www.space.com , www.forbes.com.

Tags

Bineet Patel

मैं एक उत्साही लेखक हूँ, जिसे विज्ञान के सभी विषय पसंद है, पर मुझे जो खास पसंद है वो है अंतरिक्ष विज्ञान और भौतिक विज्ञान, इसके अलावा मुझे तथ्य और रहस्य उजागर करना भी पसंद है।

Related Articles

Back to top button
Close