Universe

क्या होगा जब अंतरिक्ष में 7 अरब लोगों को भेजा जाएगा? | What If We Have To Evacuate Earth?

क्या पृथ्वी को छोड़ पाना संभव है?

कल्पना कीजिए कि आने वाले कुछ महीनों या सालों में कोई विशाल Asteroid हमारी पृथ्वी की ओर काफी तेजी से आने वाला है और उससे बचने के लिए किए जाने वाले उपाय जैसे कि Kinetic Impact आदि Fail हो जाएं ! तो ऐसे में, इतने कम समय में हमारे पास बचने के लिए यही बस उपाय बचेगा कि हम जल्द से जल्द इस पृथ्वी को छोड़ दें और कहीं और अपना नया घर ढूँढने की कोशिश करें। दोस्तों, आज के समय में Space Settlement या Space Colonization (स्पेस में मानव बस्ती) जैसी बातें काफी आम हो चुकी हैं जहाँ हम अंतरिक्ष में लोगों को बसाने के उपाय ढूँढ रहें हैं क्योंकि हमें खुद लगता है कि बढ़ती तकनीक और विज्ञान में तरक्की के कारण ऐसा कर पाना संभव है , और बात हो इस पृथ्वी को खाली करने की (7 Billion People In Space), तो आने वाले समय में ये भी संभव हो पाएगा !!

क्या पृथ्वी को छोड़ पाना संभव है?

 

पर दोस्तों , थोड़ा सोचिए और दिमाग लगाइए कि क्या वाकई में इतने बड़े और जीवनदायी गृह, पृथ्वी को इन Space Travel जैसे माध्यमों से पल में खाली कर पाना संभव है भी ?! और अगर है , तो आखिर कितना ? क्योंकि आज हम इस चीज को लेकर कुछ ऐसी सच्चाई के बारे में बात करेंगे जो आपके होश तो उड़ा ही देगी साथ ही आपकी आँखें भी खोल देगी ! तो बने रहिए  …..

विशेषज्ञों की मानें तो आने वाले समय में कुछ अहम् कारणों, जैसे कि खुद उल्कापिंड जैसी चीजों से बचने के लिए, लगातार बढ़ती जनसंख्या, प्राकृतिक संसाधनो का काफी तेजी से ख़त्म होना, बढ़ते प्रदूषण आदि की वजह से हमें हो न हो पृथ्वी को खाली करना (7 Billion People In Space) पड़ सकता है।

इसके अलावा , अंतरिक्ष में भारी मात्रा में मौजूद संसाधन जैसे उर्जा और दूसरे महत्वपूर्ण संसाधनो ने भी हमारा ध्यान अपनी तरफ खींचा है !

और बात हो मानव सभ्यता को बचाने की, तो बड़े बड़े वैज्ञानिकों ने भी Space Colonization को आने वाले समय की जरूरत बताया है !

पर दोस्तों ! ये तो कुछ Theoretical Views ही हैं जिनको लेकर कुछ हद तक हमनें Space Settlement की तरफ कदम बढ़ाया है , पर इसकी असली सच्चाई और Practical Analysis के बारे में आपको ज़रा सा भी अंदेशा नहीं होगा क्योंकि पृथ्वी से बाहर घर बनाने की बात तो छोड़िए, सबसे पहले इसे पूरी तरह से खाली कर पाना भी शायद हमारे बस में होगा !

इतिहास में ऐसा कई बार हुआ है कि बड़ी भारी संख्या में लोगों को किसी एक जगह को खाली करके , दूसरी जगह ले जाया गया हो। पर बात की जाए , काफी कम समय में 8 अरब से भी ज्यादा लोगों को Space Travel द्वारा इस पृथ्वी से बहार ले जाने की , तो असलियत काफी चौंकाने वाली होगी !

पूरी दुनिया को अंतरिक्ष में भेजने के लिए लगेंगे इतने ROCKETS

अभी हम जिस तरह के Rockets का इस्तेमाल करते हैं , वो एक बार में केवल कुछ ही लोगों को अपने सीमित सामन के साथ पृथ्वी से बाहर ले जाता है और आंकड़े के हिसाब से , पृथ्वी के सभी लोगों को पृथ्वी से बाहर ले जाने के लिए कम से कम 75 करोड़ राकेट की जरूरत पड़ेगी , जिनके Manufacturing और Launching के लिए भी लाखों साल लगेंगे !

 

और सबसे अहम् बात , सबसे किफायती Rocket की Launching Cost लगभग $60 million dollars तक आती है | तो अब आप खुद ही अंदाजा लगाइए कि 75 करोड़ Rockets को बनाने के लिए हमने कितनी कीमत चुकानी पड़ेगी !

आखिर कितना FUEL और ENERGY इस्तेमाल होगी ?

ये तो हम सभी को पता है कि हर एक Rocket या Launching Vehicle की एक Limited Load Capacity होती है जिसके लिए उसी हिसाब वो Fuel यानि ईन्धन इस्तेमाल करता है।

7 अरब लोगों की अगर बात की जाए , तो औसतन वजन के मुताबिक़ , हमें लगभग 400 Million Ton Load , Space में भेजना पड़ेगा , जिसके लिए  खुद Trillion Ton Fuel की जरूरत पड़ेगी जो कम से कम 8 Petawatt-Hours तक की Energy हमें दे सके !

हालांकि ऐसा कर पाना पूरी तरह से Impossible नहीं है , पर निश्चित तौर पर हमारी पहुँच से फिलहाल तो बहुत दूर है।

पर आखिर हम जाएंगे कहाँ ?

अब अगर हम ये मान भी लें कि हम इतने Rockets और Fuel पैदा का सकते हैं , तो सबसे बड़ा सवाल आता है कि आखिर हम जाएंगे कहाँ ? Kepler Space Telescope की मदद से वैज्ञानिकों ने लगभग 50 ऐसे Planets खोजे हैं जो Human Life Sustain कर सकें।

पर ये इतने ज्यादा  Light Years दूर हैं कि वहाँ पहुँचने के लिए भी हमें कई हजारों साल लगेंगे – सबसे नजदीकी  Habitable Exoplanet भी हमसे लगभग 4.25 Light Years दूर है जहां पहुँचने में हमें कम से कम 18000 साल लगेंगे , जो असंभव ही है !

हालांकि वैज्ञानिकों ने Mars और Moon को Colonize करने को लेकर काफी Confidence दिखाया है , पर असलियत तो ये है कि वहाँ कुछ सीमित लोग  ही जा सकते हैं, और जरूरी संसाधनों की  मात्रा के बारे में न ही पूछें तो बढ़िया है ! (7 Billion People In Space)

 

अब इतनी बड़ी अनिश्चितताओं से निपटने के लिए हमारे पास आखिरी उपाय बचता है , पृथ्वी जैसे वातावरण से भरे हुए स्पेस स्टेशन या Space Habitat का , जिनके थ्योरी में काफी फायदे तो हैं , पर इधर भी खतरा और हमारी मुसीबतें कम नहीं होने वालीं।

वातावरण की परिस्थिति, अंतरिक्ष की रेडियेशन,खाने की पैदावार ,स्वास्थ समास्याएं, Artificial Gravity, उल्कापिंडो और उनकी धूल जैसे और कई प्रमुख कारण हैं,  जिनसे निपटने के लिए हम बिलकुल भी तैयार नहीं हैं !

Astronomical Cost और नवीन तकनीक के अनुसार , हमें आने वाले हजारों सालों तक इन्तेजार करना पड़ेगा , जो शायद हमारी Technology को पृथ्वी जैसे बहुमूल्य गृह को किसी संकट के दौरान खाली करने में मदद कर सके !

 

Shubham

शुभम विज्ञानम के लेखक हैं, जिन्हें विज्ञान, गैजेट्स, रहस्य और पौराणिक विषयों में रूचि है। इसके अलावा ये पढ़ाई करते हैं।

Related Articles

4 Comments

  1. With present technology of expendable rockets this is not possible. Cannot be thought even. But with Flying Saucers, some superior being among us can shift to other inhabitable planets. Whole earth population is not even required to be shifted as 90% are useless people among us.

  2. Sir aap ke dwara di gai jankariyo se kafi gyan aur utsukta prapt hoti hai jiske liye aap Ka bahut bahut dhannyawad
    Sir mai ek maddhyam vargiya insan hu aur telescope Lena Chahta hu koi Accha vikalp sujhaye dhannyawad

  3. टेलिस्कोप काफी महंगे होते हैं, आप सबसे पहले एक साधारण टेलिस्कोप इस्तेमाल कीजिए जो चंद्रमा और कुछ ग्रहों को देख सके, ये 20- 30 हजार के अंदर आपको ओनलाइन मिल सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button