Religious

लगातार घटती जनसंख्या से क्या हिन्दू अस्तित्व खतरे में है?

Is Hindu existence in danger from a decreasing population?

विश्व के सबसे प्राचीन धर्मों में हिन्दू धर्म का नाम सबसे पहले लिया जाता है। और हिन्दू धर्म की स्थापना भारत में ही हुई थी। भारत को हिन्दू प्रधान देश भी कहा जाता है। क्योंकि भारत में हिन्दुओ की जनसंख्या सबसे अधिक है। वहीं एक ओर औसत निकाला जाए तो विश्व के हर कोने में हिन्दू फैले हुए हैं। परन्तु भारत में हमेशा से ही धर्मों के नाम पर लड़ाईयाँ होती रहती हैं।

राजनीति में भी एक धर्म का वोट बैंक पाने के लिए पार्टियां हिन्दू लोगों को प्रमुखता नही देती है। अब इसी से हम अंदाज़ा लगा सकते हैं कि भारत में हिन्दू धर्म का क्या अस्तित्व बचा है। पर क्या आप जानते हैं विश्व स्तर पर हिंदुओं की संख्या लगातार घट रही है जो एक बहुत बड़ी समस्या है।

Credit: communalism.blogspot.com

क्या हैं आंकड़े?

अब हम आपको बतायेंगे की विश्व में कहाँ-कहाँ हिंदुओं की जनसंख्या घट रही है। अगर ऐसा ही रहा तो एक दिन हिंदु इस धरती से गायब हो जाएंगे।

* 1951 में भारत में हिंदुओं की जनसंख्या 86% से अधिक थी लेकिन अब यह जनसंख्या घटकर मात्र 79% रह गयी है। जो एक बहुत बड़ी समस्या है।

* मॉरीशस में जहाँ हिन्दुओ की जनसंख्या 56% थी वहीं पिछले कुछ दशकों में ये जनसंख्या घटकर मात्र 48% ही रह गयी है। जो एक बड़ी समस्या का सबब है। अगर यही हाल रहा तो मॉरीशस में एक दिन हिंदुओं का अस्तित्व खत्म हो जाएगा।

* नेपाल में 1952 में हिंदुओं की संख्या 89% थी वहीं 2011 की जनगणना के आधार पर हिंदुओं की संख्या घटकर 81% रह गयी है।

*फिजी में 1972 में हिंदुओं की संख्या 40% थी वहीं 2012 में यह संख्या घटकर 32% रह गयी है।

जनसंख्या घटने के मुख्य कारण:

यदि यह संख्या ऐसे ही घटती रही तो क्या होगा आप सोच सकते हैं। अब बात करते हैं जनसंख्या के घटने के क्या-क्या मुख्य कारण हो सकते हैं।

1. निम्न जन्म दर

हिंदू लोगों की जनसंख्या काम होने का मुख्य कारण जन्म दर का काम होना है। हिंदू एक या दो से अधिक बच्चे नही करते हैं। जिसकी वजह से ये दर कम होती जा रही है।

2. उम्रदराज़ लोगों की अधिक संख्या

उम्रदराज़ हिंदुओ की संख्या भारत में अधिक है। इन लोगों की मृत्यु से जनसंख्या पर असर पड़ता है।

3. धर्म परिवर्तन

काफ़ी हिंदुओं ने अपने हिन्दू धर्म को छोड़कर दूसरे धर्मों को अपना लिया है जिससे हिंदुओं की जनसंख्या घट रही है। धर्मांतरण भी एक बहुत बड़ी समस्या है।

4.  दूसरे हिंदुत्व प्रभुत्व क्षेत्रों में प्रवास

निम्न हिन्दुत्व क्षेत्रों में दूसरे धर्मों का प्रभुत्व जिसके कारण वहां के लोगों द्वारा किये गए अत्याचार से परेशान होकर लोग हिन्दू प्रभुत्व क्षेत्रो में पलायन कर जाते हैं। जिसके कारण उस क्षेत्र में हिन्दुओ की जनसंख्या कम होती रहती है। इसका प्रमुख उदाहरण जम्मू-कश्मीर है। जहाँ हिन्दू न के बराबर हैं। हिन्दू प्रधान देश में होकर भी कश्मीर में हिंदुओं का न होना एक विकट समस्या है।

नीचे दिए गए भारत के एक नक्शे से आप भारत में रहने वाले हिंदुओं के प्रभुत्व का अवलोकन कर सकते हैं। जिससे आप हिंदुओं के भविष्य की कल्पना कर सकते हैं।

Credit: google.com

धार्मिक असहिष्णुता

Credit: socialissuesindia.wordpress.com

धार्मिक असहिष्णुता भी भारत के कुछ राज्यों में चरम पर है। जहाँ हिंदुओ की जनसंख्या लगातार घटती जा रही है। इनमें से कुछ राज्य हैं पश्चिम बंगाल,जम्मू कश्मीर, असम, केरल आदि। यह भारतीय हिंदुओं के लिए एक गंभीर समस्या है। यदि इसका कोई समाधान नही किया गया तो हिन्दू इन राज्यों में अपना अस्तित्व कुछ वर्षों में खो देंगे।

Tags

Abhinay Kanojia

अभिनय प्रसाद विज्ञानम् के लेखक हैं, इन्हें विज्ञान, इंटरनेट और Technology पर लिखना बहुत पसंद है।

Related Articles

Close