फेसबुक के ये 5 विचित्र तथ्य आपको परेशान कर सकते हैं..

0
50
views

Disturbing Five Facts About Facebook – हम सभी Facebook पर लगभग कई घंटे हर रोज बिता देते हैं। Facebook एक माध्यम है जिससे हम एक ही समय में कई लोगों से दोस्ती कर सकते हैं, उनसे बहुत कुछ शेयर कर सकते हैं।

फेसबुक संसार का सबसे बड़ा सोशल मीडिया तंत्र है, करीब 160 करोड़ लोग हर रोज इसका इस्तेमाल करते हैं। फेसबुक जीवन का एक हिस्सा बन चुका है। क्या ये अच्छी चीज़ है? ये निर्णय आपको करना है कि ये सही है या गलत इसमें मदद करने के लिए हम फेसबुक के बारे में पांच परेशान करने वाले तथ्य हैं आपको बतायेंगे। 

# Facebook करता है चेहरे की पहचान

जब Facebook पर एक तस्वीर में आपका कोई दोस्त आपको टैग करता है, तो यह जानकारी फेसबुक के विशाल स्टैक डेटा में जोड़ दी जाती है। सोशल नेटवर्क के AI Bots हैं जो आपके चेहरे से मिलान करने के लिए फेसबुक के सारे डाटा को स्कैन करते हैं।

फेसबुक का Algorithm इतना अच्छा है कि वे 98 प्रतिशत की सटीकता का दावा करता हैं। हर नए अपलोड के साथ facebook का यह  algo बेहतर होता जाता है। फेसबुक इस डाटा को अगर किसी कंपनी को बेचता है या मार्किट में डाल देता है तो भविष्य में यह आपके लिए खतरा हो सकता है। 

# Facebook जानता है कि आप इस समय कहां है

अगर आपके पास फेसबुक मेसेंजर ऐप है, तो संभावना है कि आपने इस App के द्वारा  अपना स्थान साझा करना बंद नहीं किया है। फेसबुक के इस ऐप में हमें खुद ही स्थान की लोकेशन बंद करनी होती है। वैसे यह जानकारी अगर फेसबुक और आप तक ही है तो कोई बड़ी बात नहीं है। पर अगर यह जानकारी किसी दूसरे को पता  लग जाये तो फिर मुसीबत बढ़ सकती है।

हैकर कुछ खास ऐप और Plugins की मदद से आपकी तय स्थिति की जानकारी पता करके आपको नुकसान पहुँचा सकते हैं।

# Facebook अकेले लोगों को और अकेला बना देता है

न्यू यॉर्क यूनिवर्सिटी की ​​मनोचिकित्सक डॉ सुदीपिता वर्मा ने कहा कि फेसबुक लोगों को दूसरों लोगों और दोस्तों के बारे में बताता है कि वे क्या कर रहे हैं- लेकिन यह उनको भी याद दिलाता है कि वे खुद क्या नहीं कर रहे हैं,  जिससे उन्हें काफी अकेला सा महसूस होता है। उन्होंने इस शोध को 82 लोगों पर किया जो हर रोज फेसबुक इस्तेमाल किया करते थे।

इस अध्ययन के बारे में सबसे चौंकाने वाली बात यह है कि केवल दो सप्ताह का उपयोग करने के बाद, फेसबुक के  कारण हर वयक्ति की खुशी में भारी गिरावट आई और वह ज्यादा अपने को अकेला समझने लगे।

# Facebook आपसे ज्यादा आपके बारे में जानता है

फेसबुक का न्यूज़ फीड फीचर लम्बे समय तक लोगो को Facebook इस्तेमाल करने के लिए बनाया गया था. समय के साथ साथ यह फीचर अब और बेहतर होता गया है. दरसल Facebook के पास आपका इतना डाटा है जिससे वह  आपकी पसंद और नापसंद के बारे मे पता लगा लेता है और उसी के अनुसार आपको न्यूज़ फीड मैं समाचार और Stories देता है.

अब Facebook इस फीचर का प्रयोग ऐड्स दने में भी करता है जिस कारण कंपनियों को अपने पंसद के ग्राहक पता चल जाते हैं और कंपनिया फिर पंसद अनुसार काम करती हैं।

# Facebook आपकी निजी जानकारी को खुशी – खुशी बेचता है

आपका यह सोचना बेकार ही है कि प्राइवेसी संटिग करके आप अपने डाटा को निजी रख सकते हैं, दरअसल फेसबुक आपके हर डाटा की कड़ी निगरानी करता है।

एक बात तो यह भी सामने आई है कि जो भी चीज़ एक बार फेसबुक के सर्वर पर अपलोड़ हो जाती है तो फिर आपके डीलिट करने पर डिलीट तो हो जाती है पर वह फेसबुक के सर्वर पर कहीं ना कहीं बनी रहती है।

अगर आप सोचते हैं कि फेसबुक आपकी इस जानकारी को नहीं बेचेगा तो आप गलत हैं, फिलहाल मास्टर कार्ड कंपनी ने फेसबुक से कुछ डाटा खरीदा था। समस्या ये है कि अगर गलत हाथों में डाटा चला जाये तो बहुत दिक्कत हो सकती है।

फेसबुक के मैसेंजर ऐप से फेसबुक यह पता लगा लेता है कि आप सोते कब हैं और जगते कब हैं, यह जानकारी फेसबुक के लिए बहुत मायने रखती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here