Facts & Mystery

आपकी नाभि में रहते हैं 2300 से भी ज्यादा BACTERIA – देखिए इंसान की नाभि में क्या होता है ?

साल 2009 में , Vienna University of Technology के एक researcher, Georg Steinhauser   ने दावा किया कि उन्होंने human biology, यानी इंसानी शरीर की अभी तक की सबसे बड़ी mystery यानी पहेली सुलझा दी है , जो उस वक़्त तक,  किसी ने भी शायद सोची ही न हो !

और वो पहेली थी कि आखिर क्यों और कैसे भला अक्सर इंसानों की belly button यानी नाभि में lint यानी रुआं आ जाता है और आखिर इंसान की नाभि के नादर होता क्या है ?  अगर आपकी नाभि भी inner यानी अन्दर की तरफ है , तो आपने भी कभी न कभी ये बात जरूर notice की होगी !

लम्बे समय तक नाभि की सफाई न होने पर, अक्सर आपने उसमें रुएं जैसी कोई चीज जरूर देखि होगी , जिसे आमतौर पर navel fluff or belly button lint कहते हैं |

वैज्ञानिक ने की अजीब सी RESEARCH

Georg Steinhauser ने ठीक इसी lint के बारे में अच्छे से पता लगाने की कोशिश की , जिसके लिए उन्होंने एक अजीब सी research की , जहां उन्होंने साल 2005 से लेकर 2009 तक , यानी लगभग 4 साल तक , अपने navel fluff  यानी belly button lint  को रोज collect करना शुरू कर दिया |

Research के दौरान उन्होंने अपने belly button lint के 500 से भी ज्यादा samples इकट्ठे किए और इनसे related, कुछ important results हासिल किए |

इसलिए निकलता है नाभि से रुआं

Study में उन्होंने पता लगाया कि ये lint यानी रुआं , basically abdominal hair यानी पेट पर मौजूद बालों द्वारा , पहने हुए कपड़ों, जैसे कि t shirt fibres के scratch यानी खुरचने के कारण हमारी नाभि में इकठ्ठा होने लगते हैं |

अक्सर इस lint का colour , पहने हुए कपड़ों पर ही depend करता है | abdominal hairs , कपड़ों के fabric को धीरे धीरे नाभि की तरफ इकठ्ठा करना शुरू दते हैं | अगर इन बालों को shave कर दिया जाए , तो lint की मात्रा बेहद कम हो जाती है |

Male mid section pinched before liposuction

Study में उन्होंने ये बात भी notice की, कि उनके navel fluff  के samples में, सबसे बड़े sample का वजन लगभग 19.7 milligrams था , जो उन्हें एकदम नई पहनी हुई t shirt की वजह से मिला था | इसका मतलब ये था , कि पुराने कपड़ों के मुकाबले , नए कपड़ों की वजह से belly button lint की मात्रा ज्यादा होती है |

Georg ने अपनी research को थोड़ाऔर आगे बढ़ाते हुए , इस lint की chemical composition का भी पता लगाना चाहा | उन्होंने पता लगाया कि नाभि में lint यानी रुएँ के साथ कई और चीजें भी मिली हुईं थीं , जैसे कि dust , hair , sweat यानी पसीना , dead skin cells , fats, proteins और यहाँ तक कि bacteria यानी कीटाणु भी उसमें शामिल थे |

आपकी नाभि में हैं 2300 अलग अलग BACTERIA

साल 2011 में , एक study की गई , जहां  navel यानी नाभि में आखिर किस तरह के microbes यानी जीवाणु मौजूद होते हैं ? , इसका पता लगाया गया | Study में , कुल 60 volunteers के belly buttons यानी नाभि में मौजूद material के samples collect किए गए और उन्हें analyse किया गया |

Study में , इन सभी samples को मिलाकर , लगभग 2300 से भी ज्यादा , अलग अलग bacteria species की पता लगाया गया , जो वाकई में हैरान कर देने वाला था | यानी , लगभग 67 अलग अलग प्रकार के bacteria हर एक नाभि में मौजूद थे |हैरान करने वाली बात तो ये थी कि इन 2300 से ज्यादा प्रजातियों में केवल 8 प्रजातियाँ ही  , like staphylococcus  , लगभग 70 % volunteers में मौजूद थीं  |

Research में कोई भी ऐसा इंसान नहीं था , जिसके sample में हर तरह का bacteria शामिल हो ! हालांकि , कुछ skin bacteria , like Staphylococci, Corynebacteria, Actinobacteria (e.g., Micrococcus) and Clostridiales  की मात्रा काफी ज्यादा थी |

Researchers को इन samples से , 3 अलग तरह के archaea , जो bacteria की तरह ही एक प्रकार का जीवाणु होता है , उनकी प्रजातियाँ मिलीं | मजेदार बात तो ये थी , कि इनमें से 2 प्रजातियाँ उन्हें उस इंसान में मिलीं , जिसने कई सालों से अपनी नाभि साफ़ नहीं की थी |

इसके अलवा reseachers को , कुछ rare यानी दुर्लभ bacteria like marimonas भी मिले, जो इससे पहले , human skin पर कभी नहीं मिले थे | हालांकि ऐसी प्रजातियाँ , उन्हें समुद्र में मौजूद जीवाणुओं में ही मिली थीं |

Study में उन्हें, samples में ऐसे भी bacteria भी  मिले जो अक्सर cheese यानी पनीर बनाने में इस्तेमाल किए जाते हैं |

नाभि साफ़ नहीं की तो हो जाएगा INFECTION

आमतौर पर , नाभि में मौजूद microbes यानी जीवाणु हानिकारक नहीं होते | skin में मौजूद bacteria , कुछ हद तक हमारे skin defense system में मदद करते हैं | पर अगर आप लम्बे समय तक अपनी navel यानी नाभि साफ़ नहीं करेंगे , तो ये bacteria ज्यादा मात्रा में इकठ्ठा होना शुरू कर देंगे , जो आपके लिए एक बड़ी समस्या भी बन सकता है , क्योंकि इनकी वजह से infection होने की संभावना भी रहती है |

इसके साथ ही , नाभि में मौजूद कुछ common bacteria like corynebacterium की वजह से नाभि में दुर्गन्ध आना शुरू हो सकती है |

इसके साथ ही,  yeast infection और cyst infection जैसे अन्य infection भी आपको परेशान कर सकते हैं , जिनकी वजह से skin redness और itching यानी खुजली भी हो सकती है | इसके साथ साथ अगर ये infection और बढ़ता है , तो pus भी निकल सकता है , जो बेहद बुरी दुर्गन्ध दे सकता है |

हालांकि दोस्तों , human skin , trillions of bacteria का एक घर है , जहां मौजूद कई bacteria हमारे लिए हानिकारक नहीं हैं , पर navel यानी नाभि शायद एक ऐसी जगह है , जहां मौजूद bacteria पर हमारा ध्यान अक्सर नहीं जाता , पर सच्चाई तो यही है कि इस छोटी सी चीज में,  कई हजारों अलग अलग जीवाणु मौजूद हो सकते हैं , अगर आप इसकी regular सफाई न करें तो !

 

 

 

 

Tags

Shubham Sharma

शुभम शर्मा विज्ञानम् के लेखक हैं जिन्हें विज्ञान, गैजेट्स , रहस्य और पौराणिक विषयों में रूचि है। इसके अलाबा इन्हें खेल और वीडियो बनाना बहुत पसंद है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
Close