Browse By

Tag Archives: Religious

अद्भुत राधा कुंड- अहोही अष्टमी को इसमें स्नान करने से होती है संतान प्राप्ति

परमावतार भगवान श्रीकृष्ण की नगरी मथुरा में गोवर्धन गिरिधारी की परिक्रमा मार्ग में एक चमत्कारी कुंड पड़ता है जिसे राधा कुंड के नाम से जाना जाता है। यहां मान्यत है कि अगर नि:संतान दंपति अहोई अष्टमी (कार्तिक कृष्ण पक्ष की अष्टमी) की मध्य रात्रि को यहां

प्राचीन काल में प्याज (Onion) के होते थे इस तरह के अनोखे प्रयोग

प्याज (Onion)  को कई लोग पसंद करते हैं, जब प्याज को खाने में प्रयोग किया जाता है तो उस खाने का स्वाद अपने आप बढ़ जाता है। इंसानो को प्याज हजारों सालो से पसंद है और वे इसका उपयोग लगभग हर तरह के खाने और

कई हजार सालों से रोज बढ़ रहे हैं ये शिवलिंग

शिवलिंग भगवान शिव का प्रतीक है, भारतीय परंपरा में भगवान शिव को शविलिंग के माध्यम से ही पूजा जाता है। इस संसार में करोड़ो शिवलिंग है और हर शिवलिंग की अपनी खास विशेषता होती है। आज हम आपको इन्हीं शिवलिंग के बारे में बताने जा

क्‍या आपके सपने में भी मृत व्‍यक्ति आकर आपसे कुछ कहते हैं?

जीवन और मरण इस संसार के सबसे बड़े सच हैं जिनसे कोई नहीं बच सकता है। जो भी कोई जन्म लेता है तो उसका मरना भी निश्चित होता है। मरना कोई पसंद नहीं करता है, लेकिन क्‍या होता है जब आप सपनों में मृत व्‍यक्तियों की

चाणक्य के अनुसार जब ऐसी 4 बातें तो तुरंत भाग जाना चाहिए

आचार्य चाणक्य महान विद्वान थे, उनके द्वारा बताई गई नीतियां आज भी हमारे हर काम में मदद देती हैं। यदि हम उनके द्वारा बताई गई नीतियों पर विवेक से चलें तो जीवन में हमारी कई समस्याएं तुरंत ही हल हो जायेंगी। कभी-कभी जीवन में ऐसे

हाजी अली दरगाह का बड़ा रहस्य, इसलिए नही डूबती है दरगाह…

हाजी अली की दरगाह मुंबई के वरली तट के निकट स्थित एक छोटे से टापू पर स्थित एक मस्जिद एवं दरगाह हैं। इसे सैय्यद पीर हाजी अली शाह बुखारी की स्मृति में सन 1431 में बनाया गया था। यह दरगाह मुस्लिम एवं हिन्दू दोनों समुदायों

इन 8 कारणों से इंसान को डसता है सांप, यह हम नहीं शास्त्र कह रहे हैं

सांप को रहस्यमी प्राणी माना जाता है, आज भी वैज्ञानिकों को इसके बारे में बहुत कम ही पता है। हमारे शास्त्रो में सांपो का बहुत उल्लेख मिलता है, सांपो को लेकर हजारों प्रकार की कहानियां शास्त्रों में वर्णित हैं। सांप किसी इंसान को बिना वजह

जानें, आरती कैसे, कितनी बार और क्यों घुमानी चाहिए ?

आरती करना हिन्दू परंपरा की बहुत प्राचीन पद्धति है, जिसे हर कोई पूजा करने के बाद करता है। आरती अंधकार में बैठे भगवान की प्रतिमा को भक्तों को दिखाने मात्र को नहीं की जाती. क्योंकि झाड़, फानूस और बिजली के प्रखर प्रकाश की विद्यमानता में भी