Life

सच्चे दोस्तो में होती हैं ये खास विशेषताएं, कैसे पहचानें कौन है आपका सच्चा दोस्त

QUALITIES OF A BEST FRIEND HINDI – कहते हैं कि दोस्ती में जो ताकत होती है वह आपको हमेशा निडर बनाती है, अगर आपके पास सच्चे दोस्त हैं तो आप इस दुनिया के भाग्यशाली व्यक्ति हैं। हमारे धर्म शास्त्रो में सच्चे मित्र और शत्रु को लेकर कई बातें बताई गई हैं। अगर आप इन बातों को समझ जाते हैं तो आप बड़ी ही आसानी से शत्रु और मित्र में अंतर जान सकते हैं।

शास्त्रों के अनुसार, जिस मनुष्य में ये 6 गुण होते हैं, वह एक सच्चा मित्र होता है और भूलकर भी उसका साथ नहीं छोड़ना चाहिए।

1. आपकी गलतियों को बताएं.

कई लोग ऐसे होते हैं जो आपके प्रिय बने रहने के लिए आपको अपकी गलतियां को नहीं बताते हैं छिपाते रहते हैं। ऐसे मित्र आपको कभी भी आपकी गलतियों के बारे मे नहीं बताते चाहे उसकी वजह से भविष्य में आपका नुकसान ही क्यों न हो जाएं। ऐसे में आपकी गलतियां बताने वाला दोस्त ही आपका सच्चा हितैषी होता है।

2. हर किसी के सामने आपके अवगुण न दिखाएं.

सच्चे मित्र की एक और निशानी होती है कि वे आपके अवगुण कभी दूसरों के सामने नहीं बताता है। अकेले में वह आपको आपकी सभी कमियां और अवगुण बताकर उन्हें सुधारने की सलाह तो जरूर देगा, लेकिन अन्य किसी के सामने आपको कभी नीचा नहीं दिखाएगा।

3. सभी के सामने आपके अच्छाइयों की तारीफ करें.

सच्चा मित्र वहीं होता है, जो आपको गुणों और अच्छाइयों की तारीफ करने से कभी पीछे नहीं हटता। आज के इस प्रतिस्पर्धा के दौर में हर कोई दूसरों को नीचा दिखाने में लगा रहता है, ऐसे में दूसरों के सामने जो आपके गुणों की तारीख करने वाला हो वह केवल आपका एक सच्चा ही दोस्त हो सकता है।

4. मुश्किल समय में धन देकर अपनी मदद करें.

कभी-कभी जीवन में ऐसा समय आ जाता है, जब इंसान को भावनात्मक सहायता के साथ-साथ ही धन की भी जरूरत होते हैं। ऐसे में कोई भी व्यक्ति पैसों की मदद करने के लिए आगे नहीं आता। जो दोस्त आपके मुश्किल समय में आपको धन देकर आपकी मदद करें, वो ही आपका सच्चा दोस्त है।

5. अच्छे कामों के लिए आपको प्रेरित करें.

जो लोग अच्छे काम करने के लिए आपको प्रेरित करते हैं, वे ही सच्चे मित्र होते हैं। कई लोग हमारे साथ हर समय हंसी-मजाक करने में लगे रहते हैं और हमारा ध्यान बुरे कामों की ओर आर्कषित करके समय और भविष्य दोनों खराब करते हैं, ऐसा मित्र कभी सच्चा मित्र नहीं होता।

6. बुरे समय में आपका साथ न छोड़े.

किसी भी मनुष्य को ऐसे व्यक्ति की मित्रता पर कभी संदेह नहीं करना चाहिए जो आपको बुरे समय आपका साथ कभी न छोड़े। अच्छे समय में तो हर कोई उसकी खुशी मनाने आ जाता है, लेकिन बुरे समय में साथ न छोड़ने वाला मित्र ही सच्चा होता है।

Tags

Shivam Sharma

शिवम शर्मा विज्ञानम् के मुख्य लेखक हैं, इन्हें विज्ञान और शास्त्रो में बहुत रुचि है। इनका मुख्य योगदान अंतरिक्ष विज्ञान और भौतिक विज्ञान में है। साथ में यह तकनीक और गैजेट्स पर भी काम करते हैं।

Related Articles

Close