Facts

Amazing Facts About Penis Hindi- लिंग से जुड़े ये 30 रोचक फैक्ट्स

यह हैं लिंग से जुडे 30 रोचक फैक्ट्स – Interesting facts about penis in Hindi

1. Amazing Facts About Penis Hindi- शांंत अवस्था में मनुष्य के लिंग की  नोर्मल लम्बाई 3.5 इंच से 3.9 इंच होती है।  जबकि उत्तेजित अवस्था (इरेक्शन) में नॉर्मल लम्बाई 5.5 इंच से 5.9 इंच होती है।

2. लम्बे लिंग के मुकाबले, छोटे लिंग अधिकतर तना हुआ होने पर ज़्यादा लम्बे हो जाते हैं।

3. लिंग की साइज भौगोलिक क्षेत्रों के अनुसार अलग-अलग होती है।  अफ़्रीकी लोगों के लिंग सबसे बड़े और मोटे होते है, उसके बाद यूरोपियन लोगों का नंबर आता है। जबकि एशियाई लोगों के लिंग सबसे छोटे और पतले होते है।

4. यद्पि छोटे से छोटे लिंग में योनि के हर कोने को टच करने की क्षमता होती है।

 5. संसार में 5000 से भी कम लोगों के लिंग 11 इंच से बढे है।

6. अच्छे सेक्स के लिए पेनिस का एंगल 106.8 होना चाहिए।

7. लिंग से जुडी एक इंटरेस्टिंग बात यह है की जिस तरह स्तनों को उनकी साइज़ के आधार पर कई तरह की श्रेणियों में विभाजित किया जाता है उसी प्रकार पेनिस को भी दो श्रेणियों “ग्रोवर(Grower)” और “शॉवर(Shower)” में विभाजित किया जाता है।

8. ग्रोवर लिंग की विशेषता यह होती है की इरेक्शन के वक़्त यह अपनी लम्बाई की तुलना में ज्यादा बढ़ जाते है। जबकि शावर लिंग अपनी लम्बाई की तुलना में कुछ ख़ास नहीं बढ़ता है।

9. हाल ही में हुए एक सर्वे के अनुसार 71 प्रतिशत लोगों के लिंग ग्रोवर है। जबकि 29 प्रतिशत लोगों के लिंग शावर है।

10. स्मोकिंग (धूम्रपान) की आदत से पेनिस साइज में सिकुड़ सकता है। स्मोकिंग की आदत से रुधिर की नलिकाएं अवरुद्ध हो जाती है जिससे एक अच्छे इरेक्शन के लिए आवश्यक ब्लड की आपूर्ति बाधित होती है।

11. एक औरत का ओर्गाज़्म (कामोत्तेजना) 23 सेकंड्स तक चलता है जबकि एक आदमी का ओर्गाज़्म (कामोत्तेजना) मात्र 6 सेकण्ड तक चलता है।

12. हर 400 पुरुषों में एक पुरुष इतना फ्लेक्सिबल होता है की वो स्वयं ही ओरल सेक्स कर सकता है।

13. औसतन एक पुरुष को दिन में 11 इरेक्शन होते है, इनमे से 9 तब होते है जब वो सो रहा होता है।

14. thoughtcatalouge.com के अनुसार ऑस्ट्रेलिया के Walibri आदिवासी लोग एक दूसरे के पेनिस को हिलाकर हैलो कहते है।

15. इस संसार में कम से कम 100 लोग ऐसे है जो दो लिंग के साथ जन्मे है। मेडिकल भाषा में यह स्तिथि Diphallus कहलाती है। हालांकि इन दोनों लिंगों में से एक लिंग पूरी तरह काम करता है जबकि एक लिंग आंशिक रूप से काम करता है।

16. 20 साल की उम्र में पेनिस की वृद्धि रुक जाती है।

17. आइसलैंड की राजधानी रेक्जाविक मे स्तिथ ‘आइसलैंडिक फैलोलॉजिकल म्यूजियम’ (The Icelandic Phallological Museum) अपने आप में अनोखा है क्योकि यह दुनिया का इकलौता म्यूज़ियम है जहाँ मछलियो, जानवारों से लेकर इंसानो तक के लिंग (जननांग) का संग्रह किया गया है।

18. अमेरिकी निवासी जोना फाल्कन का लिंग दुनिया का सबसे बड़ा लिंग है। शिथील अवस्था मे इनके लिंग की लम्बाई 9 इंच और उत्तेजित अवस्था मे 13.5 इंच है।

19. दक्षिण कोरिंया में करे गए एक शोध के अनुसार जितनी बड़ी रिंग फिंगर (अनामिका) होती है, उतना ही बड़ा उसका लिंग होने की संभव होती है।

20. यदि आपका लिंग केले की तरह मुड़ा हुआ है, तो इसे हलके में मत लें। यह बीमारी के संकेत हैं। इससे आपको संभोग करने में परेशानी होती है। इस बीमारी का नाम पेयरोनी होता है।

21. हमारे दिमाग का एक भाग एकदम अलग है, जो सीधे हमारे लिंग से जुड़ा हुआ है। लिंग हमारे नर्वस‍ सिस्‍टम के माध्‍यम से यहीं से कंट्रोल होता है। यानी जब व्‍यक्ति उत्‍तेजक होता है, तो दिमाग का वही भाग उसे नियंत्रित करता है।

22. हालांकि मनुष्य के लिंग में कोई हड्डी नहीं होती है फिर भी इसमें फ्रैक्चर हो सकता है। ऐसा इसलिए होता है क्योंकि पेनिस में एक ऐसी मांसपेशियां होती हैं, जो इरेक्शन के वक्‍त काफी सख्‍त हो जाती हैं। ऐसी मांसपेशियां शरीर के किसी भी अन्‍य अंग में नहीं होतीं। हिंसक तरीके से सम्भोग करने से या फिर सम्भोग करते वक़्त पलंग पर से गिर जाने के कारण इसमें फ्रैक्चर हो जाता है।

23. ठंडा पानी लिंग का दुश्मन होता है इसलिए कभी भी जरुरत से ज्यादा ठंडा पानी लिंग पर सीधे नहीं डालना चाहिए।

24. सभी मेमल्स में सबसे बड़ा लिंग ब्लू व्हेल का होता है जो की 8 फ़ीट तक लम्बा हो सकता है।

25. इंसान को छोड़कर अधिकतर मेमल्स में पेनिस बोन होती है।

26. जापान में हर साल 6 अप्रैल को पेनिस को समर्पित एक फेस्टिवल आयोजित होता है।

27. चीन में पेनिस को समर्पित एक रेस्टोरेंट है जहाँ सारी चीज़ें पेनिस के आकर की मिलती है।

स्रोत – अजबगजब

यह भी जानें – इंसान की नाभि के बारे में अद्भुत जानकारी जो आप नहीं जानते

Featured Image Credit – Shutterstock

Tags

Team Vigyanam

Vigyanam Team - विज्ञानम् टीम

Related Articles

3 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Close