ये हैं इतिहास की कुछ सबसे दर्दनाक जेलें

जेलें समाज में इसलिए बनाई गई हैं ताकि कैदी इसमें रहकर अपनी गलती का पछतावा कर सकें और सुधर कर आ सकें। जेल की दीवारें सिक्के के दो पहलू की तरह ही हैं, जिनके एकतरफ तेज रफ्तार दुनिया आगे बढ़ती है तो दूसरी तरफ समय थम सा जाता है।

आज जेल में समय काटने पर रिहाई हो जाती है, अपराध के अनुसार ही जेल भी होती है। लेकिन इतिहास इतना खुशहाल नहीं रहा है। इतिहास में कैदियों को ऐसी- ऐसी यातनाएं दी जाती थी जिन्हें सोचकर ही आपके रोंगटे खड़े हो जायेंगे।

जब बात जेल की हो रही है तो आज के समय में जेलों पर भी निगरानी रखी जाती है, और उनके भी कुछ मानक होते हैं, पर इतिहास में गलत काम की हर सजा ही इतनी भयानक होती थी कि समाने वाला भी कांप उठता था।

मंगोलिया के इतिहास के बारे में कहा जाता है कि यहां पर अपराधी को एक बहुत ही छोटे से लकड़ी के डिब्बे में पैक कर दिया जाता था और इसमें से रिहाई तब तक नहीं होती थी जब तक कैदी अपने प्राण ना त्याग दें।

आज के इस वीडियो में आप इतिहास की कुछ इन्ही जेलों के बारे में जानेंगे, यह वीडियो आपके रोंगटे खड़े कर देगा और सोचने पर मजबूर कर देगा। इस वीडियो को ध्यान से जरुर देखें….

Pallavi Sharma

पल्लवी शर्मा एक छोटी लेखक हैं जो सनातन संस्कृति, धर्म, भारत और भी हिन्दी के अनेक विषयों पर लिखतीं हैं। इन्हें सनातन संस्कृति से बहुत लगाव है।

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *