Universe

इंसानों को अब अंतरिक्ष में ले जाएगा यह स्पेस एलिवेटर (space elevator) / लिफ्ट (lift) – Space Elevator In Hindi.

आखिर कैसे आम इंसान भी कुछ पलों के अंदर जा पाएगा अंतरिक्ष में ? उत्तर - स्पेस लिफ्ट (Space Elevator/lift) !

विज्ञान ने आज हमें रहने के लिए कई भव्य इमारत दिया हैं | उन में से कुछ आलीशान हैं तो , कुछ बहू-मंजिली इमारत हैं | आज के इस आधुनिक युग में लोग तरह-तरह के ऊंचे-ऊंचे इमारतों मेँ रहने के लिए पसंद करते हैं | इस 21 वीं शताब्दी में पृथ्वी के अंदर आपको कई सारे ऊंचे-ऊंचे गगनचुंबी इमारत देखने को मिलेंगे | खैर इमारतों की तारीफ बहुत हो गयी , अब मुख्य विषय पर आते हैं | इन ऊंचे-ऊंचे इमारतों मेँ आपने जरूर ही कई बार किसी ऊपरी मंजिल को जाने के लिए एलिवेटर (elevator) का इस्तेमाल किया ही होगा , जो की काफी आम बात हैं | परंतु क्या आपने कभी स्पेस एलिवेटर (space elevator in hindi) का नाम सुना हैं ?

A simple photo of Space Elevator.
स्पेस एलिवेटर की सरल फोटो | Credit: Edgy.

जी हाँ ! मेँ स्पेस एलिवेटर (space elevator in hindi) की ही बात कर रहा हूँ | आपने कई बार अकसर अंतरिक्ष यात्रीओं को अंतरिक्ष यान में अंतरिक्ष को जाते हुए देखा होगा ! परंतु आपको जान के हैरानी होगा की , आने वाले समय में वैज्ञानिकों ने स्पेस एलिवेटर (space elevator in hindi) के जरिए आम लोगों को भी अंतरिक्ष भेजने का बंदोबस्त कर दिया हैं |

तो, आखिर यह स्पेस एलिवेटर (space elevator in hindi) है क्या ? कैसे हम लोग इस के माध्यम से अंतरिक्ष में जा सकते हैं ? ऐसे ही कई सारे सवाल आपके मन में जरूर ही होगा ! तो , चलिए उन सवालों का जबाव इस लेख में ढूँढने की कोशिश करते हैं |

स्पेस एलिवेटर क्या है ? – What is Space Elevator In Hindi ? :-

अगर मेँ आसान भाषा में कहूँ तो ,स्पेस एलीवेटर किसी बस या ट्रेन की ही तरह एक परिवहन का माध्यम हैं जिससे हम बिना किसी अंतरिक्ष यान के बड़ी आसानी से अंतरिक्ष में जा सकते हैं | मुख्य रुप से स्पेस एलिवेटर में आपको एक तार पृथ्वी की सतह से अंतरिक्ष में जाता हुआ आपको दिखाई पड़ेगा |

स्पेस एलिवेटर (space elevator in hindi) के माध्यम से आप चाहें तो अपनी  वाहन के अंदर बैठ कर भी अंतरिक्ष में जा सकते हैं और यह यात्रा काफी अल्प खर्च में भी हो जाएगा |

आखिर कैसे काम करता हैं यह स्पेस एलिवेटर ? – How Space Elevator Works In Hindi ? :-

स्पेस एलिवेटर (space elevator in hindi) से जुड़ा दूसरा सबसे बड़ा सवाल इसके कार्य प्रणाली (working process) को ले के हैं | खैर मित्रों! आपको मेँ यहाँ बता दूँ की स्पेस एलिवेटर भी किसी आम इमारत में लगी हुई आम एलिवेटर की तरह काम करता हैं | जैसा की मैंने आपको पहले ही बता दिया है , स्पेस एलिवेटर आपको एक तार (cable/wire) के जरिए आपको अंतरिक्ष में ले जाएगा |

परंतु मित्रों यहाँ पर एक महत्वपूर्ण चीज़ हैं की , आखिर कैसे स्पेस एलिवेटर से जुड़ी हुई यह लंबी तार भू-लंब (vertical) हो कर खड़ी रहेगी | तो , आपको मेँ बता दूँ की जहाँ एक तरफ पृथ्वी का गुरुत्वाकर्षण बल तार के निचले हिस्से को सीधा कर के रखेगा वहीं दूसरी तरफ केन्द्र त्यागी (centrifugal) बल तार के ऊपरी हिस्से को सीधा करके अंतरिक्ष में इसे स्थायी रखेगा |

मित्रों ! मैंने यहाँ पर एक स्पेस एलिवेटर से जुड़ी एक रोचक विडियो दिया है , जिसे आप इस के बारे में बेहतर ढंग से समझ पाएंगे | तो , इस विडियो को अवश्य देखें |

कैसे बन सकत है स्पेस एलीवेटर ? – How a Space Elevator Can be Built ? :-

मित्रों ! शीर्षक में दिया गया सवाल वाकई मेँ काफी जटिल और दिलचस्प हैं | आज कई वैज्ञानिक स्पेस एलिवेटर (space elevator in hindi) को बनाने के लिए तत्पर हैं | परंतु सबसे पहले साल 1895 मेँ एक रुषि अंतरिक्ष वैज्ञानिक Konstatin Tsiolkovsky ने इस विचार को दुनिया (स्पेस एलिवेटर बनाने की विचार) के सामने रखा था | गौरतलब है की , उस समय Konstatin ने आइफिल टावर से ही स्पेस एलिवेटर को बनाने की प्रेरणा पाई थी | उनका मानना था की अगर इंसान इतने ऊंचे-ऊंचे इमारत और संरचना बना सकता है , तो वह आसानी से एक ऐसा माध्यम बना सकता हैं जिससे की इंसान अंतरिक्ष में बिना किसी दुविधा के जा सकता हैं |

खैर बोलने में तो यह बात बहुत ही अच्छी ही लगती है , परंतु हकीकत में स्पेस एलिवेटर (space elevator in hindi) को बनाना बहुत ही मुश्किल हैं | पर फिर भी मैंने यहाँ पर कुछ ऐसे प्रणालियों का जिक्र किया है , जिससे हम जरूर ही एक दिन स्पेस एलिवेटर बना सकते हैं |

किसी भी प्रकार के स्पेस एलिवेटर को पूर्ण रूप से कार्यक्षम होने के लिए , इसकी कम से कम ऊँचाई 1,00,000km होनी चाहिए | इसके अलावा स्पेस एलिवेटर एक ऐसे पदार्थ से बनी होनी चाहिए जो की प्रतिकूल वातावरण , सोलर विंड , माइक्रो-मिटीओर और कई अन्य असुविधायों को आसानी से झेल सके |

वैज्ञानिकों ने स्पेस एलिवेटर को बनाने के लिए कार्बन नैनो ट्यूब का चयन किया हैं , जो की काफी मजबूत और टिकाऊ हैं | इस कार्बन नैनो ट्यूब से बनी लंबी-लंबी तर कई हद तक अंतरिक्ष में मौजूद असुविधाओं आसानी को झेल सकते हैं |

Structure of Crabon Nano Tube.
कार्बन नैनो ट्यूब की संरचना | Credit : Cheap Tubes.

स्पेस एलिवेटर को बनाने के लिए कितना खर्चा आएगा ? – Estimated Cost For Building a Space Elevator in Hindi ? :-

किसी भी काम के लिए हमें पूंजी की जरूरत पड़ती ही पड़ती हैं और स्पेस एलिवेटर जैसे चीज़ को बनाने के लिए काफी ज्यादा पूंजी की जरूरत हैं | परंतु मित्रों बहुत ज्यादा का मतलब कितना हैं ? आखिर कितने पैसे लगेंगे इस एलिवेटर को बनाने के लिए ? तो , चलिए एक अनुमानिक जबाव इसका ढूंढते हैं |

मित्रों ! आज के इस समय में अगर किसी भी वस्तु को अंतरिक्ष में भेजना है तो , उसके लिए काफी ज्यादा पैसे लगते हैं | अभी मात्र एक किलो वजन के एक वस्तु को अंतरिक्ष में भेजने के लिए 28 लाख और 67 हजार 204 रूपय लगते हैं | अगर हम इसको देखते हुए एक स्पेस एलिवेटर को पूर्ण रूप से बनाने की बात करें तो , सब जोड़ कर कुल 6.2 अरब अमरीकी डॉलर की लागत आती हैं |

मित्रों ! इतने बड़े अर्थ राशि को एक अकेला देश आसानी से दे नहीं सकता , क्योंकि स्पेस एलिवेटर जैसे योजना का सफल होने का गारंटी कोई दे नहीं सकता है | परंतु दोस्तों इतना जरूर है की आने वाले समय में जब अंतरिक्ष मेँ भेजने वाले प्रति किलो वस्तुओं की वजन 14,394 भारतीय मुद्रा के आसपास हो जाएगा , तब उस समय स्पेस एलिवेटर (space elevator in hindi) को आसानी से बनाया जा सकता हैं |

इसके अलावा मित्रों मेँ बता दूँ की कई प्राइवेट कंपनियाँ भी स्पेस एलिवेटर जैसे एक बहुत बड़े योजना को आपस में मिल कर सफल बनाने की कोशिश कर रहें हैं | खैर यह तो सिर्फ समय ही बता सकता है की , आखिर कब हम इन एलिवेटरों के जरिए अंतरिक्ष मेँ जा पाएंगे | मित्रों ! आपको इसके बारे में क्या लगता हैं ?

Tags

Bineet Patel

I am a learner and passionate writer who loves to spread the interesting concepts of science through my writing.

Related Articles

Back to top button
Close