Facts & Mystery

मधुमक्खियों के बारे में कुछ रोचक जानकारी! – Amazing Honey Bee Facts Hindi

रानी मधुमक्खी एक दिन में देती है 2 हजार अंडे, 27 किलो तक पीती है शहद!

पूरी दुनिया में कई तरह के जानवर/ पौधे मौजूद हैं। पृथ्वी पर हर एक जानवर/ पौधे का उतना ही अधिकार है, जितना कि एक मानव का है। इसलिए प्रकृति के दृष्टिकोण से हर एक जीव/ पौधा एक समान है, हर किसी को अपना-अपना जीवन अपने ढंग से जीने की आजादी है। इसलिए जो जीव या पौधा प्रकृति के साथ मिल जुल कर वहाँ जीवित रह पाते हैं, उन सभी जीवों व पौधों से हमें काफी कुछ सीखने को मिलता है। इसलिए मित्रों आज हम ऐसे ही एक जीव के बारे में जानेंगे, जिसके पास प्रकृति से लढने के लिए हर एक चीज़ मौजूद है। तो, आज के विषय का नाम होगा “मधुमक्खी” (Amazing Honey Bee Facts Hindi) से जुड़ी रोचक जानकारियां।

मधुमक्खीओं के बारे में पूरी जानकारी - Amazing Honey Bee Facts.
मधुमक्खी होती हैं काफी मेहनती। | Credit: Bee Culture.

सदियों से मधुमक्खी (Amazing Honey Bee Facts Hindi) को एक कारीगर के रूप में संबोधित किया जाता आ रहा है। मधुमक्खी से ही प्रेरणा ले कर मानव ने आज कई तरह की सफलता को हासिल किया है। इसलिए मधुमक्खियों के बारे में जानना हर एक विज्ञान प्रेमी के लिए जरूरी है। क्योंकि इस लेख में आप लोगों को कुछ ऐसी चीज़ें पढ़ने को भी मिलेंगी, जिसके बारे में आप लोगों ने कभी कल्पना भी नहीं करा होगा। इसलिए आप लोगों से अनुरोध है कि, आने वाले कुछ मिनटों तक ही सही परंतु इस लेख को अंत तक जरूर पढ़िएगा।

तो चलिये अब लेख को आरंभ करते हुए मुख्य विषय पर आते हैं।

मधुमक्खीओं से जुड़ी कुछ रोचक जानकारियां! – Amazing Honey Bee Facts

मित्रों! लेख के इस भाग में मैंने आप लोगों को मधुमक्खियों (Amazing Honey Bee Facts Hindi) के बारे में कुछ दिलचस्प बातों को बताया है, तो इसे ध्यान से पढ़िएगा।

1) छोटी हो कर भी 32 km/h की रफ्तार से उड़ती हैं! :-

मधुमक्खी (amazing honey bee facts) को देख कर हम उसकी प्रतिभा  पर सवाल उठा नहीं सकते हैं। देखने में भले ही काफी छोटी नजर आए, परंतु मधुमक्खी काफी ज्यादा सक्षम जीवों में आती है। वो प्रति घंटा लगभग 24 से लेकर 30 km के तेजी से उड़ सकती है। हालांकि! आकार को देखते हुए ये रफ्तार काफी ज्यादा है। परंतु मित्रों एक खास बात मैं आप लोगों को यहाँ बता देना चाहता हूँ।

मधुमक्खीओं के बारे में पूरी जानकारी - Amazing Honey Bee Facts.
उड़ता हुआ मधुमक्खी। | Credit: New Scientist

मधुमक्खी दुनिया की सबसे तेज किट नहीं है। मधुमक्खी का पंख छोटे उड़ानों के लिए बनी हुई होती है। ताकि वो एक फूल से दूसरे फुल खुद घूम-घूम कर शहद इक्कठा कर सके। एक खास बात ये भी है कि, मधुमक्खियों का पंख प्रति मिनट 15,000 से 20,000 बार फड़-फड़ाता है। जिससे वो हवा में रह सकते हैं।

इसके अलावा जब उनके साथ पराग कणिका (Pollen)” लगा होता है, तब वो 19 km/h के रफ्तार से उड़ सकती है।

2) एक मधुमक्खी प्रति दिन कम से कम 2000 फूलों से शहद इक्कठा करती है! :-

अगर आप लोगों को लगता है कि, शहद बहुत ही आसानी से मधुमक्खियां बना लेती हैं, तब आप बिलकुल गलत हैं। शहद को बनाने के लिए मधुमक्खियां अपना हर कुछ न्योछावर कर देती हैं। हर एक वर्कर मधुमक्खी सिर्फ कुछ शहद के लिए रोजाना 2000 फूलों तक का सफर कर लेती हैं।

मधुमक्खीओं के बारे में पूरी जानकारी - Amazing Honey Bee Facts.
फूल के ऊपर बैठा हुआ एक मधुमक्खी। | Credit: Wallpaper Flare.

इतनी भारी मात्रा में काम करने के कारण मधुमक्खी का शरीर कई जगहों से क्षत-विक्षत हो जाता हैं। कई जगहों से तो उसका शरीर फट भी जाता हैं। फिर भी इतने कष्टों को झेलते हुए वो शहद इक्कठा करने के काम में जुट जाती हैं। औसतन एक वर्कर मधुमक्खी ज्यादा से ज्यादा 3 हफ्तों तक जिंदा रह पाती हैं, जिसके अंदर वो लगभग 804 किलोमीटर का सफर तय कर चुकी होती हैं।

3) रानी मधुमक्खी (मधुरानी) दिन में 2,000 तक अंडे दे सकती है! :-

संगम के सिर्फ 48 घंटों के बाद से ही मधुरानी (amazing honey bee facts) अंडे देना शुरू कर देती है। गज़ब की बात ये है कि, एक दिन में मधुरानी अपने खुद के शरीर के वजन के जितना अंडा देने वो सक्षम हो जाती है। हर एक दिन वो औसतन 1,500 से 2,000 तक अंडे देने लगती है।

Photo of queen honey bee.
रानी मधुमक्खी की फोटो  Credit: Thought Co

एक अनुमान से ये पता चला है कि, एक रानी मधुमक्खी अपने पूरे जीवन काल में 10 लाख से भी ज्यादा अंडे दे सकती हैं। इसलिए मधुमक्खियां में सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण रानी मधुमक्खी को ही माना जाता है। रानी मधुमक्खी के बिना पूरा छत्ता ढह जाएगा, क्योंकि इसके बिना उस छत्ते का कुछ महत्व ही नहीं रह जाता है।

बिना रानी मधुमक्खी के वहाँ पर न ही बच्चे जन्म ले पाएंगे और न ही वहाँ पर बच्चों कि देखभाल के लिए वर्कर मधुमक्खी तथा छत्ते के सुरक्षा के लिए सैनिक मधुमक्खियों कि जरूरत पड़ेगी।

4) एक मधुमक्खी मात्र इतना ही मधु बना सकती है! :-

मित्रों! मैंने पहले भी कहा है और अब भी कह रहा हूँ, शहद बनाने की प्रक्रिया बहुत ही धीमी और जटिल होती है। ये प्रक्रिया मधुमक्खियों की अच्छे से परीक्षा लेती है। इसलिए कई बार मधुमक्खियों को सबसे मेहनती कीट (Insect) भी कहा जाता है।

Honey Culture.
शहद बनाना बहुत ही मुश्किल। | Credit: Planet Bee Foundation.

वैसे आपको जान कर हैरानी होगी कि, एक मधुमक्खी एक छोटे से चम्मच के मात्र 0.83% हिस्से जितना ही मधु बनाने में सक्षम होती हैं। ऐसे में आप खुद सोच सकते हैं कि, भारी मात्रा में मधु को बनाने के लिए कितनी मधुमक्खियों की जरूरत पड़ती होगी। वैसे हम कितनी आसानी से मधुमक्खियों के मेहनत के फल को खा जा रहें हैं।

मधुमक्खियों के छत्ते को साल भर जिंदा रहने के लिए लगभग 27 kg मधु की जरूरत पड़ती है। इसलिए समय रहते ही वर्कर मधुमक्खियों को कम से कम इतनी मात्रा में मधु बनाने कि जरूरत पड़ती ही है। वैसे इतनी भारी मात्रा में शहद बनाने के लिए कई हजारों वर्कर मधुमक्खियों की जरूरत पड़ती है।

5) एक छत्ते में होती हैं इतनी मधुमक्खी! :-

अब ज़्यादातर लोगों के मन में मधुमक्खियों  (Amazing Honey Bee Facts Hindi) को लेकर ये सवाल जरूर ही आ रहा होगा कि, आखिर एक छत्ते में कितने मधुमक्खियाँ रहती हैं? मित्रों! आप लोगों को मैं बता दूँ कि, एक छत्ते में लगभग 20,000 से लेकर 60,000 तक मधुमक्खियाँ रह सकते हैं।

Photo of bee hive.
मधुमक्खी के छत्ते का फोटो | Credit: YouTube

वैसे छत्ते के आकार को देख कर उसमें रहने वाले मधुमक्खियों कि संख्या में बदलाव आते हैं। बड़ा छत्ता होगा तो उसमें मधुमक्खियों की संख्या ज्यादा होगी, वहीं अगर छोटा छत्ता होगा तो मधुमक्खियों की संख्या कम होगी। इसलिए ज्यादा बड़े छत्तों में आप लोगों को काफी मधुमक्खियाँ दिखेंगी और छोटे छत्तों में काफी कम।

मित्रों! छत्ते के अंदर तरह-तरह की मधुमक्खियाँ होती हैं और सभी के काम अलग-अलग होते हैं। कोई अगर छोटे बच्चों का ध्यान रखेगा, तो कोई छत्ते में शहद और खाना लेकर आएगा, तो कोई रानी की सेवा में लगा रहेगा, तो कोई छत्ते कि रखरखाव में लगा रहेगा। मधुमक्खियों का छत्ता काफी ज्यादा संयोजित और संगठित रहता है।

6) छत्ते के अंदर तापमान हमेशा एक समान ही रहता है! :-

मैं अब जो बात आप लोगों को बताने जा रहा हूँ, उसे सुनकर शायद आप हैरान ही हो जाएंगे। मधुमक्खी (Amazing Honey Bee Facts Hindi) एक कीट हो कर भी अपनी बुद्धिमता की एक ऐसा प्रमाण देती है कि, संसार भी उसे प्रणाम करेगा। मित्रों! छत्ते के अंदर हमेशा एक समान ही तापमान मौजूद रहता है। छत्ते के अंदर हमेशा 33.8 डिग्री सेल्सियस तापमान ही बना रहता है।

मधुमक्खीओं के बारे में पूरी जानकारी - Amazing Honey Bee Facts.
छत्ते के अंदर तापमान रहता हैं एक समान। | Credit: Ask Nature.

अगर किसी कारण छत्ते के अंदर तापमान ज्यादा ठंडा हो जाता है, तब मधुमक्खियां आपस से चिपक कर छत्ते कि तापमान को फिर से गर्म कर देती हैं। गर्मियों के दिन छत्ते को ठंडा रखने के लिए अपने पंख से छत्ते के अंदर हवा प्रवाहित करवाते हैं। जिससे छत्ते के अंदर एक अनुकूल वातावरण बना रहता है।

बता दूँ कि, छत्ते में मधुरानी और बच्चों को बहुत ही ज्यादा मुख्यता दी जाती है। रानी और बच्चों की भलाई के लिए छत्ते की बाकी मधुमक्खियाँ किसी भी हद तक जा सकती हैं। उनके लिए छत्ते में बसी रानी और बच्चों कि सुरक्षा सबसे ज्यादा जरूरी है। इसलिए चाहे वो वातावरण को अनुकूल बनाना हो या सुरक्षा देने का। हर एक काम में मधुमक्खियाँ कोई कसर नहीं छोड़ती हैं।

Source :- www.thoughtco.com

Bineet Patel

मैं एक उत्साही लेखक हूँ, जिसे विज्ञान के सभी विषय पसंद है, पर मुझे जो खास पसंद है वो है अंतरिक्ष विज्ञान और भौतिक विज्ञान, इसके अलावा मुझे तथ्य और रहस्य उजागर करना भी पसंद है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button