Plants and Animals

लंदन के चिड़ियाघर ने साझा की अपने जानवरों की सुंदर X-Ray तस्वीरें

X Ray Of Animals

X Ray Of Animals – हम इंसानो को हमेशा से ही उस संसार को देखने का कौतूहल रहा है जो वो अपनी आँखो से देख नहीं सकता है। चांहे फिर वो ब्रह्मांड में चक्कर लगाते हुए कोई गैलेक्सी हो या कोई बै्क्टीरिया की तस्वीर हो हम इंसान इसे देखकर कई बार विस्मित हो जाते हैं। जब बात देखने की आती है तो तब हमारी आँखे केवल वीजिवल लाइट में ही देख पाती हैं, पर हमारी आँखे दूसरी कई लाइट्स जैसे इंफ्रारेड, ऐक्स रे में देख नहीं पाती है।

हमारी इसी ज्ञिज्ञासा को शांत करने के लिए लंदन के ZSL चिड़ियाघर की चिकित्सा टीम ने अपने 18000 जानवरों की एक्स रे तस्वीर साझा की हैं।

ZSLलंदन चिड़ियाघर की पशु चिकित्सा नर्स हीथर मैकिनटोश ने एक बयान में कहा, “हम उनकी हड्डियों की मजबूती से लेकर उनके दिल की सेहत के बारे में भी एक्स-रे देखकर बता सकते हैं। “वे हमारे काम के लिए महत्वपूर्ण हैं, भले ही हमें कई बार चौकानें वाले एक्स रे मिलते हैं, पर हम अपने इस काम के देखकर हर बार विस्मित होते रहते हैं।

Gila monster (Heloderma suspectum)

गिला मोंस्टर एक बड़ी सुस्त नारंगी रंग की छिपकली है,  विषैले सरीसृप अपने अगले भोजन को खाने से पहले महीनों तक भोजन कर सकते हैं, जिसमें चूहे, गिलहरी, पक्षी, छिपकली और अंडे शामिल होते हैं। ये 2 फुट लंबी छिपकली अपना लगभग 90 प्रतिशत समय बुर्ज़ या पथरीली जगहों पर बिताती हैं।

Large hairy armadillo (Chaetophractus villosus)

चिड़ियाघर में काम करने वाले मैकिनटोश कहते हैं  कि ज्यादातर लोग एक मानव एक्स-रे को पहचान सकते हैं, लेकिन संभवतः उन्होंने बड़े बालों वाले आर्मडिलो के एक्सोस्केलेटन के खंडों को नहीं देखा है, इसलिए लोग पहचानते वक्त गलती करते हैं। गिला मोंस्टर के विपरीत ये छोटे बालों वाले  armadillo कीड़ो को खाते हैं।

Corn snake (Pantherophis guttatus) – मकई सांप (पैंथरोफिस गुट्टेटस)

ये सांप बहुत विचित्र होते हैं, देखने में सुंदर होते हैं पर ये जब अंड़े देते हैं तो तुरंत ही उन अंडो को छोड़कर भाग जाते हैं। ये दुबारा फिर आकर के अपने बच्चों को कभी नहीं देखते हैं।

Big-headed turtle (Platysternon megacephalum) – बिग-हेडेड टर्टल (प्लेटिस्टर्नॉन मेगासेफालम)

ये कछुए की दुनिया का सबसे विचित्र प्राणी है, इस कछुए के सिर और उसके शरीर के मुकाबले लंबी पूंछ होती है। अधिकांश कछुए प्रजातियों के विपरीत, यह निशाचर प्राणी अपने शेल में वापस नहीं आ सकता है। इसे IUCN रेड लिस्ट द्वारा लुप्तप्राय के रूप में सूचीबद्ध किया गया है।

– वैज्ञानिकों ने एक महीने में गहरे समुद्र में खोजे 12 अजीबोगरीब जीव

Tags

Shivam Sharma

शिवम शर्मा विज्ञानम् के मुख्य लेखक हैं, इन्हें विज्ञान और शास्त्रो में बहुत रुचि है। इनका मुख्य योगदान अंतरिक्ष विज्ञान और भौतिक विज्ञान में है। साथ में यह तकनीक और गैजेट्स पर भी काम करते हैं।

Related Articles

Back to top button
Close