Plants and Animals

न्यूजीलैंड में 1 मीटर लंबे तोते की विलुप्त प्रजाति पाई गई है

1-Meter-Tall Parrot Discovered In New Zealand

न्यूजीलैंड में विलुप्त विशाल तोते (Largest Parrot Of The World) की एक नई प्रजाति की खोज की गई है, ये दुनिया  का सबसे विशाल तोता है, जिससे माना जा रहा है कि शायद ये विलुप्त हुई तोतों की एक महान प्रजाति का हिस्सा है जो आकार में आम तोतों से बहुत बड़े होते हैं।

एक मीटर लगभग 3.3 फीट लंबा ये तोता अब न्युजीलैंड का सबसे विशाल पक्षी बन चुका है, इस तोते की प्रजाति का नाम Heracles inexpectatus  है  जो न्युजीलैंड के पहले लंबे पक्षी से आकार में दो गुना बड़ा है। ये न्यूजीलैंड के प्रतिष्ठित काकापो  (kakapo) की ऊंचाई से लगभग दोगुना था , काकापो न्यूजीलैंड का सबसे प्रसिद्ध और गौरवशाली तोता है।

ग्रीस के देवता हेराक्लीज़    पर इसका नाम रखा गया है, जो कि इसकी ताकत और आकार को दर्शाता है, शोधकर्ताओं का कहना है कि Heracles inexpectatus   में एक विशालकाय चोंच थी जो लगभग किसी भी  चीज़ को भेद सकती थी। इसका वजन भी एक बोलिंग गेंद के बराबर सात किलो के आसापास माना जाता है, शोधकर्ता कहते हैं कि ये न्युजीलैंड के काकापो तोते से दोगुना ज्यादा वजनी है।

हेराक्लीज़    को लगभग 19 मिलियन वर्ष पुराना माना गया है, जो मध्य ओटागो के सेंट बाथन्स में पाया गया, आपको बता दें कि सेंट बाथन्स न्यूजीलैंड का एक ऐसा क्षेत्र  है जो अपने मियोसीन जीवाश्म पक्षियों और जानवरों के लिए जाना जाता है।

एक द्वीप देश होने के नाते न्युजीलैंड में इस तरह के विशाल पक्षियों का विलुप्त होना कोई नई बात नहीं है। एक बार ये जगह मोआ ( moa,) नाम की नौ विशाल प्रजातियों का घर भी रह चुका है जिसमें  एक पक्षी की लंबाई तो 12 फीट के आसपास थी।  दुनिया के हर द्वीप देशो में इस तरह के पक्षी पाये जाना आम बात है, मेडागास्कर के हाथी पक्षी भी इतने ही विशाल और ताकातवर थे जो कि कुछ सैकड़ो साल पहले विलुप्त हो चुके हैं।

हालांकि, इससे पहले किसी को भी विशालकाय तोते की प्रजाति नहीं मिली थी।

फ्लिंडर्स यूनिवर्सिटी के ट्रेवर वर्थ ने एक  बयान  में कहा, “न्यूजीलैंड अपने विशालकाय पक्षियों के लिए जाना जाता है ।” ” मोवा  न केवल एविफाओं  (avifaunas,) पर हावी था, बल्कि विशाल भू और  एडजेबिल  (एक पक्षी प्रजाति)  ने वनों (foRESTS)  को साझा किया था, जबकि एक विशाल ईगल ने आसमान पर शासन किया था। “लेकिन अब तक, किसी को भी कभी भी विलुप्त विशाल तोता नहीं मिला है।”

(Largest parrot In The World)  एक इंसान और तोते में अंतर – दुनिया का सबसे विशाल तोता साभार – https://www.tvnz.co.nz

जीवविज्ञान पत्र  ( Biology Letters) में प्रकाशित एक पेपर में इसका वर्णन करते हुए , शोधकर्ताओं का कहना है कि यह जीवाश्म ( fossil)  न केवल एक नई जीन का प्रतिनिधित्व करता है, बल्कि पक्षियों में विकासवादी (evolutionary ) द्वीप विशालता का एक और आश्चर्यजनक उदाहरण प्रकट करता है।

माना जा रहा है कि ये विशाल तोता काकापो की तरह ही शायद ना उड़ने वाले पक्षियों के समुह का हिस्सा रहा हो, जो केवल मैदानों और जंगलो में खान पान किया करते थे,। हालांकि इसकी विशाल चोंच काकापो पक्षी से ज्यादा इसे लाभ देती होगी जिस कारण इसे खाने पीने में कोई खास मेहनत नहीं करनी पड़ती थी।

Heracles,  जो कि अबतक का खोजा गया सबसे विशाल तोता है, माना जाता है कि अपनी विशाल चोंच से ये कुछ भी तोड़ सकता था और उसे आसानी  से खा भी सकता था।  इस बात को गंभीरता से लेत हुए  University of South Wales के प्रोफेसर दावा कर रहे हैं कि ये तोता आम तोतों से फूड़ चैन में शायद अपना अलग ही स्थान रखता था।

पिछले 20 सालों से लगातार इसी तरह  सेंट बाथन्स में हर रोज खुदाई हो रही है, जिससे काफी हैरान कर देने वाले नतीजे सामने आ रहे हैं, शोधकर्ताओं को हर दि यहां पर कुछ ना कुछ नया देखने को मिलता ही है। न्युजीलैंड एक द्वीप देश है और पिछले  करोड़ों सालों से  उपोष्णकटिबंधीय जलवायु के कारण यहां पर वो जीव पाये जाते हैं जिनकी हम कल्पना भी नहीं कर पाते। कुछ जीव अब पूरी तरह विलुप्त हो चुके हैं पर कुछ जीव आज भी इतने सालों से अपना अस्तित्व कायम करके रह रहे हैं।

Tags

Shivam Sharma

शिवम शर्मा विज्ञानम् के मुख्य लेखक हैं, इन्हें विज्ञान और शास्त्रो में बहुत रुचि है। इनका मुख्य योगदान अंतरिक्ष विज्ञान और भौतिक विज्ञान में है। साथ में यह तकनीक और गैजेट्स पर भी काम करते हैं।

Related Articles

Back to top button
Close