Tips-Tricks

कभी सोचा है कि आपके मोबाइल की बैटरी पर AH या mAh क्यों लिखा होता है??

मोबाइल हो या कोई भी ऐसा गैजेट हो जो बैटरी से चलता है  उसकी बैटरी में AH या mAh हर बार देखने को मिल जाता है, पर आखिर इसका मतलब क्या होता है, क्यों बैटरी पर इन चिन्हों को केंद्रित किया जाता है।  आइये इसी के बारे में जानते हैं –

A = Ampere, यह करंट की इकाई है, और H = hour समय की इकाई

  • mA= mili Ampere, यह करंट की छोटी इकाई है।
  • 1000 मिली एम्पेयर = 1 एम्पेयर (ठीक वैसे ही जैसे 1000 मिली ग्राम = 1 ग्राम )

आपने स्कूल में इलेक्ट्रसिटी का सबसे बेसिक सूत्र पढ़ा ही होगा:

Current = ChargeTimeChargeTime

 Charge = Current x Time

अब यहां पर देखिये करंट की इकाई mA है और समय की इकाई Hour तो ऊपर के सूत्र के हिसाब से चार्ज की इकाई mA x H = mAH हो जाएगी।

यानि बैटरी पर AH या mAh बैटरी के अंदर मौजूद चार्ज को बताता है।

  • चार्ज = मिली एम्पेयर x ऑवर

mAH का मतलब क्या है?

मोबाइल फोन काम करने के लिए बैटरी से कुछ करंट लेता है। मोबाइल पर ज्यादा काम करेंगे तो मोबाइल बैटरी से उतना ही ज्यादा करेंट लेगा।

मान लीजिये आपकी फ़ोन की बैटरी 3000 mAH की है।

  • इसका मतलब यदि मोबाइल बैटरी से 3000 मिली एम्पेयर लेगा तो बैटरी 1 घंटे तक टिकेगी।
    • 3000 mAH ÷ 3000 mA = 1 Hour
  • मान लीजिये मोबाइल बैटरी से 150 मिली एम्पेयर ले रहा है तब बैटरी।
    • 3000 mAH ÷ 150 mA = 20 Hour टिकेगी

अगर आप जानना चाहते है की आपकी मोबाइल कितनी करंट खींचती है बैटरी से तो आप प्लेस्टोर में जाकर Ampere नाम की एप्प डाउनलोड कर सकते है।

साभार – क्योरा

Tags

Shivam Sharma

शिवम शर्मा विज्ञानम् के मुख्य लेखक हैं, इन्हें विज्ञान और शास्त्रो में बहुत रुचि है। इनका मुख्य योगदान अंतरिक्ष विज्ञान और भौतिक विज्ञान में है। साथ में यह तकनीक और गैजेट्स पर भी काम करते हैं।

Related Articles

Close