Technology

पुरानी दूरसंचार कंपनियों के कारण सरकार को 400 करोड़ रपये का नुकसान: जियो

मुकेश अंबानी की अगुवाई वाली कंपनी ने आरोप लगाया कि एयरटेल, वोडाफोन इंडिया तथा आइडिया सेल्यूलर ने लाइसेंस नियमों का उल्लंघन किया और जानबूझकर 2016-17 की अंतिम तिमाही का अग्रिम लाइसेंस शुल्क अनुमानित समायोजित सकल आय के आधार दिया जो तीसरी तिमाही से कम था।

 

शिकायतकर्ता के अनुसार एयरटेल ने जनवरी-मार्च 2017 के लिये लाइसेंस शुल्क के रुपए में करीब 950 करोड़ रुपए का भुगतान किया। जियो का आरोप है कि यह राशि एयरटेल द्वारा अक्तूबर-दिसंबर, 2017 में दिये गये 1,099.5 करोड़ रपये के लाइसेंस शुल्क से 150 करोड़ रुपए कम है।

 

जियो के अनुसार वोडाफोन ने 550 करोड़ रपये का भुगतान किया जो तीसरी तिमाही में दिये गये 746.8 करोड़ रुपए के लाइसेंस शुल्क से 200 करोड़ रुपए कम है। आइडिया ने तीसरी तिमाही में दिये गये 609.4 करोड़ के मुकाबले 70 करोड़ रुपए कम शुल्क का भुगतान किया।

 

स्रोत-PTI

Tags

Balram Kumar Ray

बलराम कुमार राय विज्ञानम् के गैजेट्स केटेगरी के लेखक हैं. इन्हें टेक्नोलॉजी , गैजेट्स, और Apps पर लिखने में बहुत रूचि है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Close