Strange Science - विचित्र विज्ञान

क्या आपने कभी सोचा है कि अगर चाँद ना होता तो पृथ्वी कैसी होती?

Earth in the Absence of Moon – रोज रात को जब आप आसमान को निहारते हैं तो  सबसे पहले आपकी नजर चाँद की तरफ ही जाती है, ये चाँद हमारे लिए सबसे चमकीला खगौलिय पिंड है। हमारे आकाश में सबसे चमकी ला ये पिंड अपनी चाँदनी से रातों को रोशन करता है।

चाँद हमारी धरती के साथ तबसे है जब धरती का बनना आरंभ हुआ था, ये कुछ 400 करोड़ वर्षों से चाँद हमारी पृथ्वी के साथ दोस्त बन कर चक्कर लगा रहा है।

किसी भी ग्रह को चंद्रमा तीन कारणों से मिलते हैं, पहला कारण है कि किसी पिंड का उस ग्रह से टकराना और एक बड़ा भाग उस ग्रह से अलग होकर उसी ग्रह का चक्कर लगाने लगता है, दूसरा कारण है कि ग्रह की अत्याधिक ग्रेविटी के कारण किसी भी पिंड का उसके ग्रेविटी के भंवर में फंसना और तीसरा कारण है कि ग्रहों कि रिंग के टुकड़ो का आपस में टकराकर फिर विशाल पिंड बनकर उसी ग्रह की पिरक्रमा करना।

यह भी जानें – क्या नासा चाँद पर वास्तव में गया था या नहीं, Did NASA Land on Moon?

अब हम आपको ले चलते हैं एक सावल के ऊपर, कि क्यो होता अगर आसमान में चाँद ना होता? यह दुनिया तब कैसी होती जब कभी भी हमें चाँद का साथ ना मिलता।

इस सावल के कई जवाब हैं पर सबसे सटीक जवाब जो विज्ञान की कसौटी पर खरा उतरता है वह आज हम इस वीडियो के माध्यम से आपको बतायेंगे।

चंद्रमा देखने में तो एक विशाल पत्थर की तरह है पर इसका महत्व हमारे लिए बहुत है, कई प्राचीन सभ्यताओं में चंद्रमा का वर्णन मिलता है।

यह भी जानें – चाँद से जुड़े 16 चौकाने वाले राज जो आपको कहीं नहीं पता चलेंगे

Tags

Shivam Sharma

शिवम शर्मा विज्ञानम् के मुख्य लेखक हैं, इन्हें विज्ञान और शास्त्रो में बहुत रुचि है। इनका मुख्य योगदान अंतरिक्ष विज्ञान और भौतिक विज्ञान में है। साथ में यह तकनीक और गैजेट्स पर भी काम करते हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close