Universe

तीन तरीके जिससे इस ब्रह्माण्ड को खत्म किया जा सकता है !

कुछ भी नहीं बचेगा..

Three Ways TO Destroy The Universe- विज्ञान से पहले शायद ही कोई ब्रह्माण्ड को इश तरह से देखता हो जैसा आज हर आदमी देखता है। पहले लोग मानते थे कि सूर्य, धरती और तमाम चमकने वाले सितारे अमर हैं। वे कुछ हद तो तक तो सही थे पर ये सभी भी एक ना एक दिन खत्म जरुर हो जायेंगे…

हिन्दू धर्म के मुताबिक और विज्ञान भी मानता है कि जो भी जन्म लेता है वह कई ना कभी मरता भी है, यह बात अलग है कि मरने और जन्म लेने के समय बहुत अलग हो सकते हैं। पर ये नियम एकदम शाश्वत है और सदा सच ही रहेगा…

पर यह विशाल ब्र्हमांड भी एक सच्चाई से बंधा हुआ है और वह है मृत्यु, यानि इसकी भी मृत्यु निश्चित है। वैज्ञानिकों ने ब्र्हमांड के खत्म होने के 3 सबसे विचित्र कारण बतायें हैं जो आपको भी हैरान कर देंगे।

वैज्ञानिकों का मानना है कि यह विशाल ब्र्हमांड इन्हीं तीन कारणों से खत्म हो सकता है और ये सबसे कारगर भी नजर आते हैं। ये सभी कारण वैज्ञानिकों के भौतिक नियमों का भी पालन कर रहे हैं..

यह ब्रह्मांड फैल रहा है, ये इतनी तेजी से फैलता जा रहा है कि एक दिन ये लाइट की स्पीड से भी तेज फैलना शूरु कर देगा….. आखिर इसके पीछे का कारण क्या हैं क्यों ये फैलता ही जा रहा है क्यों ब्र्हमांड की बड़ी – बड़ी आकाशगंगायें तेजी से दूर होती चली जा रही हैं…

वैज्ञानिकों ने कई थ्योरिज और सिद्धांतो को लेकर तीन ऐसे कारण और कहें तो तरीके बतायें हैं जिससे यह ब्रह्मांड खत्म हो सकता है। और ये तीन तरीके हैं

  • बिग रिप – Big RIP
  • हीट डैथ  – Heat Death
  • बिग कंच और बिग बाउंस – Big Crunch and Big Bounce

– ब्रह्मांड के ना दिखाई देने वाले पदार्थ डार्क मैटर का रहस्य जानिए
– ये हैं हमारे ब्रह्मांड के सबसे बड़े अजूबे, ये वैज्ञानिकों को भी परेशान करते हैं
– ब्रह्मांड की इस सच्चाई के सामने NASA और ISRO के वैज्ञानिकों के होश उड़े हुए हैं, आखिर क्यों??

पर ये ब्रह्मांड खत्म कैसे होगा और किस तरह होगा और क्या ये पूरा ब्रह्मांड एक साथ ही खत्म होगा? इन्हीं सवालों के जवाब आज हम इस वीडियो में विज्ञान की मदद से तलाशेंगे इसलिए आप ये वीडियो अंत तक जरुर देखें..

Tags

Shivam Sharma

शिवम शर्मा विज्ञानम् के मुख्य लेखक हैं, इन्हें विज्ञान और शास्त्रो में बहुत रुचि है। इनका मुख्य योगदान अंतरिक्ष विज्ञान और भौतिक विज्ञान में है। साथ में यह तकनीक और गैजेट्स पर भी काम करते हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Close