Universe

वैज्ञानिकों ने खोजा ब्रह्मांड का सबसे तेज ग्रह, सिर्फ 7 घंटे में खत्म हो जाता है यंहा एक साल

यह तो हम सभी जानते हैं कि ब्रह्मांड इतना विशाल है कि इसकी कल्पना हम अपने मस्तिष्क में भी नहीं कर सकते हैं। इस विशाल ब्रह्मांड में हर वस्तु करोड़ों और अरबों की संख्या में ही होती है। अरबों ही आकाशगंगाएं हैं तो अरबों ही ग्रह इस ब्रह्मांड में परिक्रमा कर रहे हैं।

वैज्ञानिकों ने हाल में ही एक ऐसा विचित्र ग्रह खोजा है जो बहुत ही तेज परिक्रमा करता है, इसकी परिक्रमा करने की गति सोचकर ही आप हैरान रह जायेंगे। यह है अंतरिक्ष का सबसे तेज ग्रह जिसे केपलर टेलिस्कोप ने ढूंढ निकाला है जिसमें सात घंटे होते ही साल खत्म हो जाता है। इस ग्रह का वातावरण भी काफी खराब है।

इस ग्रह का नाम EPIC 246393474 b है। धरती पर 365 दिन खत्म होने पर एक साल खत्म होता है और इसमें गर्मी, सर्दी, बारिश और बसंत होता है। लेकिन केपलर टेलिस्कोप ने ऐसा ग्रह ढूंढ निकाला है जिसमें सात घंटे होते ही साल खत्म हो जाता है।


इसे अंतरिक्ष का सबसे तेज ग्रह कहा जा रहा है। इस ग्रह के ऑर्बिट पीरियड को जानकर आप भी हैरान हो जाएंगे। Phys.org की रिपोर्ट के मुताबिक इस प्लेनिट का ऑर्बिट पीरियड महज 6.7 घंटों के लिए ही होता है। इस ग्रह का दूसरा नाम C12_3474 b भी है।

केपलर को प्लेनिट हंटिंग टेलिस्कोप कहा जाता है। वह अब तक 2300 ग्रहों की खोज कर चुका है। अब उसने धरती के पास ही इस ग्रह की खोज की है। 2013 में दो रिएक्शन फेल होने के बाद केपलर ने k2 मिशन की शुरुआत की थी।

वैज्ञानिकों की मानें तो स्टेलर रेडिएशन के चलते यहां का वातावरण पूरी तरह खराब हो चुका है। यह ग्रह इसलिए भी खास है क्योंकि इसे धरती से 5 गुना बड़ा बताया जा रहा है। इस ग्रह में भारी पत्थर हैं जिसमें 70 प्रतिशत आयरल होने की संभावना है।

अभी तक पता नहीं चल पाया है कि इस ग्रह में कितने घंटे का एक दिन होगा। यहां का वातावरण भी बेहद खराब है, ऐसे में यहां रहने की सोचना तो मुश्किल ही है। फिलहाल वैज्ञानिक इस ग्रह पर रिसर्च कर रहे हैं।

Featured Image – सांकेतिक चित्र Source

Tags

Team Vigyanam

Vigyanam Team - विज्ञानम् टीम

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Close