गीता में लिखी है कलियुग से जुड़ी ये बातें, जो आज हो रहीं सच

Browse By

भगवद् गीता हिन्दुओं का प्रमुख ग्रंथ है। आज से लभगभ 5000 वर्ष पूर्व भगवान कृष्ण ने यह ज्ञान अपने प्रिय सखा अर्जुन को दिया था। गीता में कर्म, अर्थ, और जीवन जीने का अद्भुत ज्ञान है। गीता में भगवान कृष्ण हमें बहुत सी सीखें देते हैं और साथ में हमें हमारी कमिंया भी बताते हैं। गीता को द्वापर युग के अंत में भगवान कृष्ण ने सुनाया था पर तब उन्होंने कलियुग के लिए कुछ बाते कहीं थी, उनकी यह अद्भुत बाते आज सौ प्रतिशत सच हो रही हैं। जानिए आखिर कौन सी यह दुर्लभ बातें देवेश्वर कृष्ण हमें बता रहे हैं – 

श्लोक 1-
ततश्चानुदिनं धर्मः सत्यं शौचं क्षमा दया ।
कालेन बलिना राजन् नङ्‌क्ष्यत्यायुर्बलं स्मृतिः ॥

अर्थ- धर्म, सत्यवादिता, स्वच्छता, सहिष्णुता, दया, जीवन की अवधि, शारीरिक शक्ति और स्मृति सभी दिन-ब-दिन घटती जाएगी।

श्लोक 2-
वित्तमेव कलौ नॄणां जन्माचारगुणोदयः ।
धर्मन्याय व्यवस्थायां कारणं बलमेव हि ॥

अर्थ- कलयुग में जिस व्यक्ति के पास जितना धन होगा वो उतना गुणी माना जाएगा और कानून, न्याय केवल एक शक्ति के आधार पर लागू किया जाएगा।

श्लोक 3-
दाम्पत्येऽभिरुचिर्हेतुः मायैव व्यावहारिके ।
स्त्रीत्वे पुंस्त्वे च हि रतिः विप्रत्वे सूत्रमेव हि ॥

अर्थ- इस युग में पुरुष-स्त्री बिना विवाह के ही केवल एक-दूसरे में रूचि के अनुसार साथ रहेंगे। व्यापार की सफलता छल पर निर्भर करेगी। कलयुग में ब्राह्मण सिर्फ एक धागा पहनकर ब्राह्मण होने का दावा करेंगे।

श्लोक 4-
लिङ्‌गं एवाश्रमख्यातौ अन्योन्यापत्ति कारणम् ।
अवृत्त्या न्यायदौर्बल्यं पाण्डित्ये चापलं वचः ॥

अर्थ- जो मनुष्य घूस देने या धन खर्च करने में असमर्थ होगा, उसे अदालतों से ठीक-ठाक न्याय न मिल सकेगा। जो व्यक्ति बहुत चालाक और स्वार्थी होगा वो इस युग में बहुत विद्वान माना जाएगा।

श्लोक 5-
क्षुत्तृड्भ्यां व्याधिभिश्चैव संतप्स्यन्ते च चिन्तया ।
त्रिंशद्विंशति वर्षाणि परमायुः कलौ नृणाम्

अर्थ- लोग भूख-प्यास और कई तरह की चिंताओं से दुखी रहेंगे। कई तरह की बीमारियां उन्हें हर समय घेरे रहेगी। कलियुग में मनुष्य की उम्र केवल बीस या तीस वर्ष की होगी।

श्लोक 6-
दूरे वार्ययनं तीर्थं लावण्यं केशधारणम् ।
उदरंभरता स्वार्थः सत्यत्वे धार्ष्ट्यमेव हि ॥

अर्थ- लोग दूर के नदी-तालाबों को तो तीर्थ मानेंगे, लेकिन अपने पास रह रहे माता-पिता की निंदा करेंगे। सिर पर बड़े-बड़े बाल रखना ही सुंदरता मानी जायेगी और केवल पेट भरना ही लोगो का लक्ष्य होगा।

श्लोक 7-
अनावृष्ट्या विनङ्‌क्ष्यन्ति दुर्भिक्षकरपीडिताः
शीतवातातपप्रावृड् हिमैरन्योन्यतः प्रजाः ॥

अर्थ- कभी बारिश न होगी, सूखा पड़ जाएगा। कभी कड़ाके की सर्दी पड़ेगी तो कभी भीषण गर्मी हो जायेगी। कभी आंधी आएगी तो कभी बाढ़ आ जाएगी। इन परिस्तिथियों से लोग परेशान होंगे और नष्ट होते जाएंगे।

श्लोक 8-
अनाढ्यतैव असाधुत्वे साधुत्वे दंभ एव तु ।
स्वीकार एव चोद्वाहे स्नानमेव प्रसाधनम् ॥

इस युग में जिस व्यक्ति के पास धन नहीं होगा वो अधर्मी, अपवित्र और बेकार माना जाएगा। विवाह दो लोगों के बीच बस एक समझौता होगा और लोग बस स्नान करके समझेंगे की वो अंतरात्मा से शुद्ध हो गए हैं।

श्लोक 9-
दाक्ष्यं कुटुंबभरणं यशोऽर्थे धर्मसेवनम् ।
एवं प्रजाभिर्दुष्टाभिः आकीर्णे क्षितिमण्डले ॥

धर्म-कर्म के काम केवल लोगों के सामने अच्छा दिखने और दिखावे के लिए किए जाएगे। पृथ्वी भ्रष्ट लोगों से भर जाएगी और लोग सत्ता हासिल करने के लिए एक दूसरे को मारेंगे।

श्लोक 10-
आच्छिन्नदारद्रविणा यास्यन्ति गिरिकाननम् ।
शाकमूलामिषक्षौद्र फलपुष्पाष्टिभोजनाः ॥

अकाल और अत्याधिक करों के कारण परेशान लोग घर छोड़ सड़कों व पहाड़ों पर रहने को मजबूर हो जाएंगे, साथ ही पत्ते, जड़, मांस, जंगली शहद, फूल और बीज खाने को मजबूर हो जाएंगे।

61 thoughts on “गीता में लिखी है कलियुग से जुड़ी ये बातें, जो आज हो रहीं सच”

  1. हितलाल राय says:

    ये गीता के श्लोक नहीं हैं ।

    1. Sandeep says:

      To kiske hai

    2. Ashutosh rathore says:

      to yaani ye galat news hai?

    3. SANJAY says:

      Bhai yeh geeta k hi hain

      1. sharma says:

        geeta ji ke kis page, bhag, khand mai hai

      2. Manish Sharma says:

        these shloks from Srimad Bhagwatam canto 12 not from bhagwat geeta. you should read first atleast 1time in ur life.

        Hare Krishna!!!

    4. Manoj Kurup says:

      भागवत गीता में ऐसे कुछ भी नहीं कहे गए है। श्लोक भागवतम से है मालूम पड़ता हैं। आप इस टाइटल को चेंज कर दीजिये।

  2. Anupam Srivasta says:

    Very nice knowledge everyone not knows pls.add me share some our Hindu religion

  3. Nakul says:

    These are not gita shlokas.

    1. Lakhan says:

      Fir konse shlok hai about kaliyuga

  4. Bablu jaiswal says:

    Khuch khuch to ho raha hai

  5. Kamal Tyagi says:

    Bhagwat Geeta never predicted about future. It tells what we should do.

    1. pardeep says:

      Aapko kaishe pata ki usme ye nahi likha hai

  6. pk says:

    ya ghat naya nazar bhi Aa rahi

  7. Dhgdbg says:

    Bhaviaysa puran ke slok hai shayad

  8. Suresh says:

    These shloks are from Padam Purana

  9. Rajesh says:

    100 %true

  10. Kaushal joshi says:

    This slok in bhagvat puran in 12 sakndh

  11. अमर says:

    सभी श्री मान ना तो गीता पर जाये और ना किसी और पर किंतु सच यहि है

  12. Montu Rohilla says:

    Yeh sab aaj ke time me ho hi raha hai. It’s true

  13. Sharad kr jha says:

    Bhaagwat Gita ka ek hi arth hai karm kiye j phal ki chinta mat kar tu insan jaisa karm karega waisa phal dega bhagwan

  14. mr. Hxxxy singh says:

    हाँ बिल्कुल सत्य बात गीता मेँ लिखी हुई बात का प्रमाण प्रत्यच्छ रुप से दिखाई पड़ रहा है ।

  15. mr. Hxxxy singh says:

    ये कलयुग है जो जैसा करेगा वैसा भरेगा!अर्थात मनुष्य जिस प्रकार कर्म करता है उसी Prakar fal milna isi yug me taiy he. next born nhi

  16. Mannu mahagura says:

    jab pahle hi Gitaa me likha huaa hai . to bhaiya mere ise badla todi na jayegaa……………?????
    wahi hoga jo Gita me likha hua hai……. or wahi ho v raha hh………
    its True..100%. or ise parmatma ke bina koi badal v nhi sakta…

    1. Bikram says:

      Sabhi sjjan Yeh kyon naheen mantu.
      …..Yeh sabb sattya hai ek ek shabad.sattya py adharit hai dosto.

  17. Mahesh rai says:

    It is right what do u know about gita

  18. Harakanta kalita says:

    100 true

  19. Gurmeet singh says:

    I read srimadbhagwat gita didt found such ki d of scripts dere..

  20. Dhondiram Lahane says:

    Shri Granthraj Bhagwat or only Bhagwat…contains these sholkas

  21. शुभ भावसार says:

    यह गीता जी के श्लोक नहीं है।

  22. kuldeep Kashyap says:

    geeta aisa kuch nhi likha hai….

  23. Deepak Kumar Pandey says:

    It’s prediction about Kaliyuga, not for single.. It’s about Humanism.,Nature…. Not for you….

  24. Rakesh j&k says:

    yeh these lines r absolutely right in the present tyms. .but but but ..

    yeh geeta k shlok nhi h ..
    may b yeh Kisi aur puran k nhi h but ye shlok geeta k nhi h ..logo ko geeta ka glt gyan mt do ..Geeta is d secred book of hindus ..

  25. Ankit Maru says:

    Satya vachan he dhire dhire is prathvi ka vinash hota ja raha he. Or log aapse me ek dusre ke prati rag dwesh rakhne lag gaye he.

    1. Jksingh says:

      Jo bhi baat ho par such to yhi ho rha hai

  26. Yogesh Kumar says:

    Every thing is write god always here so don’t wrong work always do batter

  27. Navin says:

    Lord Krishna all words are right say about kalyug

  28. sunny says:

    Ye satya hai ……hame hindu hone PR Garv hai……. Hamara dharm duniya ka sabse purana dharm hair.

  29. Supari Kumar says:

    Gita ka ek hi bhavishvani hai Jo jaisa karega WO weisa. Phal payega

  30. Supari Kumar says:

    Jab tak dharti par puja path bhakti hai. Tab tak duniya ka kuchh nahi hoga

  31. Shailesh kumar says:

    Jo bate Geeta m likhi wo sach ho rahi hai

  32. navin says:

    Ye bhagawat puran ka slok hai.kaliyug ka dham ka

  33. Dheeru dheeraj vishwakarma says:

    Yda Yda hi dhrmsya glanirbhvati bharta
    Tdatmaanm shrijaamy ………………………..
    Sboot………..
    Paani phle kam brash rha hai
    Bimaariya bdh rhi hai
    Anyaay. Rojaana. Badh rahai
    Jiske. Paas dhan hai
    Usi ko log dekhte hai jaante. Hai maante. Hai
    Hr koi apne aap shiddh saabit krta hai kitna bhi galat kyu n ho
    Dheeraj. Vishwakarma 8726235430

  34. Pankaj says:

    This sloks from bhavishya puran not from gita

  35. Meenu says:

    No knowledge of geeta but i think its true.

  36. anshul chauhan says:

    Its a universal truth….

  37. sp singh says:

    ye Geeta me likha satya he

  38. गुलाब बैरागी says:

    बहुत सही है।

  39. रजत शर्मा says:

    सही है जो है।।। और हो भी रह है।।

  40. Kamlesh says:

    Kalyug abhi chota bacha hai kalyug age 12500 ya 25500 ki hai abhi toh kalyug ki age srif 2500saal ki hai future toh bahut hi bayanak hai technologi se sab kaam hogo koi kisi ka maan nhi rakhega rishte naate sab naam ke honge kabhi barish nhi hogi kabhi tej dhoop aur sukha hoga akhi thand jaya hogi ke koi sah nhi apyega 12 ki age main ladki nani banegi 6 se 8 saal ki age main maa banegi maa bete ka baap beti ka koi kisi ka nhi hoga

  41. Sis says:

    Ye bhagavatam me ka hai

  42. vinod says:

    vinash shuru ho chuka h sambhal jao

  43. sandy nautiyal says:

    100% sahi baat

  44. Hitesh Anand Madgaonkar says:

    एकभी श्लोक गीता का नहीं है ….ये गीता का नयी आवृत्ति कभी आयी ? और किसने लिखी ???

  45. Omkar Kulkarni says:

    These shlokas not in Geeta or Bhagavadgeeta, but these are included shrimadbhagavata mahapuranam.

  46. नीरज says:

    ये सभी श्लोक श्रीमदभागवदम के द्वादश स्कन्ध के हैं !!

  47. Abhinav Anand says:

    Yeah bhagwat puranpuran mein likha hua hai aur 20 varsh aayu wali baat kalyug ke antim charan mein hoga. Abhi toh
    Kalyug ka 1st charan chal raha hai.

  48. Anil mahla says:

    Kuch bhi up kanhi ke bhi ho hai 100% sach

    Kya koi bhi shlok galt hai

  49. आदित्य त्रिपाठी says:

    श्रीमद्‍भागवते महापुराणे पारमहंस्यां
    संहितायां द्वादशस्कन्धे द्वितीयोऽध्यायः

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *