इंटरनेट की दुनिया में क्षेत्रीय भाषाओं का ज़ोर

एक रिपोर्ट के अनुसार देश में इंटरनेट उपयोक्ताओं में क्षेत्रीय भाषाओं का दबदबा है और इसमें आने वाले समय में और बढोतरी की उम्मीद है। इसके अनुसार 2021 तक देश में कुल इंटरनेट उपयोक्ताओं में से 75 प्रतिशत इसका इस्तेमाल क्षेत्रीय भाषाओं में कर रहे होंगे।

‘डिजिटल भारत के बदलते भाषाई चेहरे पर टाइम्स इंटरनेट अध्ययन’ में यह निष्कर्ष सामने आया है। इसके अनुसार किफायती स्मार्टफोन तथा सस्ता 3जी व 4जी कनेक्शन देश में इंटरनेट के इस्तेमाल को गति दे रहे है।

अध्ययन नौ करोड़ से अधिक लोगों की राय पर आधारित है। इसमें क्षेत्रीय भाषाओं की सामग्री के बढ़ते इस्तेमाल को रेखांकित किया गया है क्योंकि आधे से अधिक उपयोक्ता तो गैर अंग्रेजी भाषा के हैं।

इसके अनुसार कुल सामग्री खपत में 66 प्रतिशत हिस्सेदारी के साथ क्षेत्रीय भाषाओं ने अंग्रेजी को पछाड़ दिया है। क्षेत्रीय भाषाओं में सबसे अधिक खपत समाचारों से जुड़ी सामग्री की है।

स्रोत – PTI

Tagged with:

Leave a Reply

Your email address will not be published.