Browse By

Category Archives: News

एप्पल और शाओमी को सरकार का नोटिस

केंद्रीय इलेक्ट्रॉनिकी एवं सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय ने बुधवार को कहा कि उसने दुनियाभर के 21 स्मार्टफोन निर्माताओं से उन सुरक्षा प्रक्रियाओं की जानकारी मांगी है, जिन्हें वे मोबाइल फोन उपकरणों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए अमल में लाते हैं।     इनमें से ज्यादातर

शाओमी ने किया दिल्ली-एनसीआर में होम स्टोर खोलने का फैसला

देश के ऑफलाइन बाजार में अपनी उपस्थिति बढ़ाने के लिए चीन स्मार्टफोन निर्माता शाओमी ने अपने मी होम सिगनेचर स्टोर को दिल्ली-एनसीआर क्षेत्र में खोलने का फैसला किया है।इससे पहले शाओमी ने बेंगलुरू में दो मी होम स्टोर खोला था।   Redmi Note 4 डिवाइस

ट्रायम्फ और बजाज ऑटो ने की वैश्विक भागीदारी

दोपहिया एवं तिपहिया वाहन बनाने वाली घरेलू कंपनी बजाज ऑटो और बाइक बनाने वाली ब्रिटेन की कंपनी ट्रायम्फ ने मध्यम श्रेणी की मोटरसाइकिलों के डिजायन, विकास और वितरण के लिए वैश्विक भागीदारी की आज घोषणा की।दोनों कंपनियों ने संयुक्त बयान जारी कर इसकी सूचना दी।

Idea – Vodafone विलय सौदे को मिली सशर्त मंजूरी

सेबी और शेयर बाजारों ने आइडिया सेल्यूलर और वोडाफोन इंडिया के बीच 23 अरब डालर के विलय सौदे को सशर्त मंजूरी दे दी है।सौदे की घोषणा मार्च में की गयी थी ओर हाल ही में प्रतिस्पर्धा आयोग (सीसीआई) ने इसकी मंजूरी दी।   वोडाफोन मोबाइल

दिल्ली पुलिस ने उबर से मिलाया हाथ

महिलाओं की सुरक्षा के लिए आज कई ऐसे एप्लिकेशन मौजूद हैं जिनकी मदद से किसी परेशानी के समय उनके परिवारजनों व दोस्तों तक इसकी जानकारी पहुंच जाएगी। इन्ही एप में से एक एप दिल्ली पुलिस का हिम्मत एप भी है।   उबर के साथ अपनी

डेटा संरक्षण रूपरेखा पर विचार देगी समिति

सरकार ने देश में डेटा संरक्षण रूपरेखा पर विचार विमर्श करने को एक दस सदस्यीय विशेषज्ञ समिति का गठन किया है। सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय ने एक बयान में यह जानकारी दी।   उच्चतम न्यायालय के पूर्व न्यायाधीश न्यायमूर्ति बी एन श्रीकृष्ण की अगुवाई वाली समिति

फ्लिपकार्ट और eBay इंडिया का विलय पूरा

ई वाणिज्य क्षेत्र की बड़ी कंपनी फ्लिपकार्ट ने आज कहा कि उसने ई बे इंडिया के परिचालन का विलय पूरा कर लिया है। इसी के साथ ई बे डॉट इन अब फ्लिपकार्ट समूह की कंपनी कहलाएगी।फ्लिपकार्ट में इक्विटी हिस्सेदारी के बदले में ई बे ने

व्हाट्सएप पर अपलोड की जाने वाली आपत्तिजनक सामग्री की जांच नहीं: GOVT

मैसेजिंग साइट व्हाट्सएप पर अपलोड की जाने वाली आपत्तिजनक सामग्री की निगरानी को लेकर केंद्र सरकार ने शुक्रवार को असमर्थता व्यक्त की, क्योंकि इस पर भेजी जाने वाली सामग्रियां एंड-टू-एंड एनक्रिप्टेड  होती है और कोई भी तीसरा पक्ष उन तक पहुंच नहीं बना सकता।