Universe

NASA ने जारी की अंतरिक्ष में सुनाई देने वाली आवाजें, अपने आप में है बहुत भयानक

अंतरिक्ष एक ऐसी जगह है जहां हर कोई जाने की कल्पना करता है, सच में नहीं तो मन में जरुर सोचता है। यह एक ऐसा विषय रहा है जो मानवों को हमेशा से आकर्षित करता रहा है। आपके मन में भी बहुत जिज्ञासा होती होगी कि आखिर अंतरिक्ष कैसा है, इसमें अंतरिक्ष यात्री कैसे रहते हैं। अंतरिक्ष में क्या धरती पर लागू होने वाले भौतिकी के सिद्धांत काम करते हैं या नहीं।

आज हम आपको एक बहुत ही अनोखे सवाल का उत्तर देने जा रहे हैं, अक्सर हम यह मानते हैं कि अंतरिक्ष में शायद ही कोई आवाज होती होगी, पर अब नासा ने कुछ दिनो पहले ही एक आवाज को जारी किया है जो अंतरिक्ष में रिकार्ड की गई है।

Source

NASA ने ‘Space Sounds’, एक ऑडियो क्लिप रिलीज़ की है, जो हमारे सोलर सिस्टम में रिकॉर्ड की गई है. ये आवाज़ बिलकुल ऐसी प्रतीत होती है जैसे कि वहां पर कोई बहुत, बहुत, बहुत ज़्यादा गुस्सा है। ऐसा लगता है मानो अंतरिक्ष रूपी राक्षस के पैर के अंगूठे पर कोई भारी चीज़ गिरा दी हो।

यहां सुने इन आवाजों को

जब तक आप इन आवाज़ों की गहराई को समझ पाएं, हम आपको बता देते हैं कि ये आवाज़ें हैलोवीन से पहले रिलीज़ की गई हैं। इन ध्वनि तरंगों को रेडियो उत्सर्जन को ध्वनि में परिवर्तित किया गया है।

इसीलिए जब ये डरावनी आवाज़ें आती हैं, वो पारंपरिक अर्थों में ध्वनि नहीं होती हैं, बल्कि ‘Roaring’ Planets से निकलने वाली रेडियो वेव्ज़ का ऑडियो रिप्रज़ेंटेशन होता है, जो बहुत ही डरावनी ध्वनि निकालता है और मन में एक डर पैदा करता है।

यह भी जानें – वैज्ञानिकों द्वारा रिकार्ड की गई हमारे सौर मंडल के ग्रहों की रहस्यमयी आवाजें

NASA के अनुसार, ‘Plasma Waves, ऐसी लगती हैं जैसे मानो समुद्र दहाड़ रहा हो, और ये Rhythmic Cacophony बनाता है। NASA के वैन एलेन प्रोब्सेज़ पर EMFISIS उपकरण के साथ हम इन आवाज़ों को हर जगह पर सुन सकते हैं. वहीं दूसरी रिकॉर्डिंग में शनि और बृहस्पति जैसे ग्रहों की आवाज़ें शामिल हैं।’

Tags

Shivam Sharma

शिवम शर्मा विज्ञानम् के मुख्य लेखक हैं, इन्हें विज्ञान और शास्त्रो में बहुत रुचि है। इनका मुख्य योगदान अंतरिक्ष विज्ञान और भौतिक विज्ञान में है। साथ में यह तकनीक और गैजेट्स पर भी काम करते हैं।

Related Articles

One Comment

  1. Nad ko Brahm kaha gaya hai Ye anashvar hai Ye avajen kabhi isi dharti par utpanna hui Jo space me aaj bhi goonj rahi.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Close