Strange Science - विचित्र विज्ञान

आखिर ऐसा क्या विचित्र है मंगल ग्रह पर जिसे नासा अबतक छुपा रहा है…..

Mars Mystery Hindi – मंगल ग्रह सूर्य से दुरी के हिसाब से चौथा ग्रह है जो कि पृथ्वी ग्रह का पडोसी है। ये ग्रह लाल रंग का दिखाई देता है क्योंकि इसकी सतह पर लाल रंग की मिट्टी बहुतायत है।

लाल ग्रह मंगल हमारी धरती से आकार में आधा है, वैज्ञानिकों के हिसाब से मंगल और धरती की उम्र लगभग बराबर ही है। मंगल ग्रह की सूर्य के ईर्द-गिर्द कक्षा दिर्घवृत (अंडाकार) है। इसके कारण मंगल के तापमान में सूर्य से दूरस्तिथ बिंदु और निकटस्थ बिंदू के मध्य 30 डिग्री सेल्सीयस का अंतर है।

मंगल का एक दिन 24 घंटे से थोड़ा ज्यादा होता है। मंगल का एक साल पृथ्वी के 687 दिनो के बराबर होता है, यानि लगभग 23 महीने के बराबर।

नासा और इसरो द्वारा मंगल ग्रह की हजारों तस्वीरें अबतक ली जा चुकी हैं, पर कुछ तस्वीरों पर मंगल ग्रह पर रहस्यमयी चीजें दिखने को मिलती हैं। नासा और तमाम संस्थाओं से जब इसके बारे में पूछा जाता है तो वह इसके बारे में कुछ स्पष्ट नहीं बताते हैं जो संशय को उत्पन्न करता है।

यह भी जानें – एक बच्चा जो बताता है खुद को मंगल ग्रह का

इस वीडियो में हम उन्हीं रहस्यों के बारे में बतायेंगे जिसे नासा हमसें अबतक छिपाता आ रहा है, इन रहस्यों पर आज भी नासा कुछ कहने से बचता है।

Tags

Pallavi Sharma

पल्लवी शर्मा एक छोटी लेखक हैं जो अंतरिक्ष विज्ञान, सनातन संस्कृति, धर्म, भारत और भी हिन्दी के अनेक विषयों पर लिखतीं हैं। इन्हें अंतरिक्ष विज्ञान और वेदों से बहुत लगाव है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Close