Tips-Tricks

WhatsApp से भी हो सकेगा पैसों का लेन – देन, विस्तार से जानें

आज के समय में अगर हम पैसों की लेन – देन की बात करें तो निश्चित रूप से  यह इतना सरल बन गया है की अब यूजर की एक क्लिक से ही चंद सेकण्ड्स में यह काम आसानी से हो जाता है ।

विभिन्न प्रकार के तकनीकी साधनों के कारण , चाहें फिर वो मोबाइल वॉलेट हो या UPI ट्रांसफर, ज़रा से वक़्त में लेन – देन संभव हो गया है ।अगर ग्राहक थोडा भयभीत होते भी हैं तो उसका कारण अलग अलग जगह पर इसकी सुरक्षा व्यवस्था का है , कुछ देशों में नियमित तौर पर सुरक्षा के अपने पैमाने हैं।

 

WhatsApp (व्हॉट्सएप)  जो की एक बेहद यूज़ होने वाला प्लेटफार्म या एप्प है , मुमकिन है की यहाँ से भी आने वाले समय में लोग पैसों का ट्रान्सफर कर पायेंगे। आपको बता दें कि इस ऐप को करीब 1 अरब से भी ज्यादा लोग इस्तेमाल करते हैं, और हर तरह के मैसेज और चैट के लिए लोग आज इसी पर निर्भर हैं, इमेल से भी ज्यादा लोग इस प्लेटफार्म पर काम करना पसंद करते हैं।

 

BHIM App हो गया अपडेट, अब आ गये कुछ नए ओर फीचर्स जानें..

What is क्रिप्टोकरेंसी (Cryptocurrency) 

लोकप्रिय मैसेजिंग एप व्हॉट्सएप फेसबुक के स्वामित्व वाली कंपनी है। फेसबुक का खुद की क्रिप्टोकरेंसी बनाने की वजह रोज-ब-रोज हो रहे डाटा लीक स्कैंडल से यूजर्स को बचाना भी है।

ब्लूमबर्ग की रिपोर्ट के मुताबिक, फेसबुक ऐसी क्रिप्टोकरेंसी बना रहा है जिससे व्हॉट्सएप पर यूजर्स मनी ट्रांसफर कर सकेंगे।  क्रिप्टोकरेंसी एक तरह का डिजिटल पैसा है, जो कि केवल डिजिटल तरीके से ही काम करता है, साधारण पैसे से ये एकदम अलग है और बहुत सुरिक्षित भी है।

stablecoin
Credit – Hacked.com

Facebook और डाटा स्कैंडल

एक गौर करने वाली बात यह भी है की फेसबुक पिछले साल से लगातार डाटा स्कैंडल में घिरता आ रहा है। फेसबुक पर यूजर्स की प्राइवेसी दांव पर लगाने के भी कई आरोप लगे हैं। ऐसे में यूजर्स के बीच फेसबुक की विश्वसनियता पर सवालिया निशान लगने लगे हैं।

Stablecoin

ब्लूमबर्ग के मुताबिक, फेसबुक की करेंसी “stablecoin,” कहलाएगी।जो कि अमेरिकी डॉलर के हिसाब से आंकी जाएगी। हालांकि, अभी यह कंफर्म नहीं है कि यह फीचर कब आएगा। पर जब भी ये आयेगा तो लोगों को लेन-देन में काफी आसानी होगी, वैसे भी फेसबुक जैसे माध्यम से ये काम आसानी से हो जाये तो लोगों का काफी समय बच सकता है।

Facebook ला रहा है नई तकनीक, दिमाग जो सोचेगा वही टाइप हो जाएगा

Tags

Balram Kumar Ray

बलराम कुमार राय विज्ञानम् के गैजेट्स केटेगरी के लेखक हैं. इन्हें टेक्नोलॉजी , गैजेट्स, और Apps पर लिखने में बहुत रूचि है।

Related Articles

Close