गूगल Pixel 2 दे सकता है एप्पल और सैमसंग को टक्कर

Browse By

भारत में जन्मे गूगल के मुख्य कार्यकारी अधिकारी सुंदर पिचाई आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (एआई) को बेहद पसंद करते हैं। भले ही फिलहाल एआई अपने शुरुआती दौर में है, लेकिन उनके मुताबिक यह इस युग की सबसे प्रगतिशील तकनीक है, जो संभावित रूप से उद्यमों के काम को बदल सकता है और बढ़ा सकता है।

 

उद्योग विश्लेषकों का मानना है कि बुधवार को लांच हुए गूगल Pixel 2 और 2 XL, एप्पल और सैमसंग के लिए चुनौती साबित हो सकते हैं। इसमें तकनीक के साथ, विपणन और बिक्री के स्तर पर भी काफी काम किया गया है।

 

अब स्मार्टफोन में एआई कोई नया फीचर नहीं है। एप्पल की सिरी, सैमसंग की बिक्सबी और गूगल का अपना गूगल असिस्टेंट विकसित किया जा चुका है, जिसे लोग अपने उपकरणों के साथ संवाद करते हैं।

 

फॉरेस्टर के प्रमुख विश्लेषक थॉमस ह्यूसन ने आईएएनएस को बताया, “इससे ज्यादा फर्क नहीं पड़ता कि गूगल ब्रांड का स्मार्टफोन कितना आकर्षक लगता है। कंपनी के सामने सबसे बड़ी चुनौती यह है कि आखिर हार्डवेयर कंपनी के तौर पर वह खुद को कैसे स्थापित करे। साथ ही उपभोक्ताओं तक कैसे अपनी पहुंच बनाए।”

 

नई पिक्सेल परिवार का शुभारंभ करते हुए एक खचाखच भरे सैन फ्रांसिस्को में एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए पिचाई ने कहा, “कम्प्यूटिंग अब संवादात्मक, परिवेश और प्रासंगिक होगा।

 

आईडीसी इंडिया के सीनियर रिसर्च मैनेजर नवकेंद्र सिंह के मुताबिक, यह गूगल की महत्वाकांक्षाओं को गंभीर स्मार्टफोन निर्माता के रूप में रेखांकित करता है। सिंह ने आईएएनएस को बताया, “हालांकि, डिजाइन भाषा पर विचार करते हुए, ऐसा लगता है कि गूगल हार्डवेयर के मुकाबले किसी सॉफ्टवेयर एंगल से प्रीमियम स्मार्टफोन को और बेहतर बनान चाहता है।”

 

स्रोत-IANS

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *