डिजिटल अर्थव्यवस्था में नई टेक्नोलॉजी अपनाने की जरूरत : EXPERTS

जैसा की हम सभी इस तथ्य से जुड़े हैं की आज भारत डिजिटल व्यवस्था से जुड़ने की राह पर चल चुका है , बैंकिंग सुविधा हो या फिर किसी भी प्रकार का सरकारी कामकाज , हर जगह पर डिजिटल टेक्नोलॉजी पर ध्यान दिया जा रहा है I

डिजिटल अर्थव्यवस्था की कामयाबी के लिए नई प्रौद्योगिकी को अपनाने की आवश्यकता है। यह बात ग्रेटर नोएडा में चल रही इलेक्रामा-2018 प्रदर्शनी में पहुंचे ऊर्जा क्षेत्र के विशेषज्ञों ने रविवार को कही।

विशेषज्ञों का कहना था कि पावर युटिलिटी के क्षेत्र में प्रौद्योगिकी नवाचार को बढ़ावा मिल रहा है और इसका ग्राहकों, साझेदारों व कार्यबलों के साथ कार्य व्यापार पर भविष्य में व्यापार पर प्रभाव पड़ेगा।

भारतीय बिजली एवं इलेक्ट्रॉनिक्स विनिर्माता एसोएिसशन (आईईईएमए) की ओर से ग्रेटर नोएडा के एक्सपो मार्ट में आयोजित इलेक्रामा-2018 की पांच दिवसीय प्रदर्शनी का उद्घाटन शनिवार को उपराष्ट्रपति एम. वेंकैया नायडू ने किया।

इलेक्रामा के साथ यहां चल रहे तीन दिवसीय वर्ल्ड युटिलिटी समिट-2018 के दूसरे संस्करण के उद्घाटन पर करीब 300 प्रतिनिधिमंडल पहुंचे थे। समिट के उद्घाटन सत्र की अध्यक्षता महाराष्ट्र सरकार के प्रधान सचिव (ऊर्जा) अरविंद सिंह ने की।

इलेक्रामा के इस 13वें संस्करण में बिलजी से परिचालित वाहनों, इंटरनेट ऑफ थिंग्स, स्टोरेज सॉल्यूशन और अक्षय ऊर्जा की जरूरतों को विशेष रूप से दर्शाया गया है।

स्रोत – IANS

 

Tagged with:

Leave a Reply

Your email address will not be published.