Health

पोर्न देखने के यह हैं आठ सबसे बड़े नुकसान, जो आपको सोचने पर मजबूर कर देंगे!

पोर्न का संसार आज बहुत बड़ा हो चुका है, पोर्न इंडस्ट्री की बात करें तो यह अब यह अरबों डालर की इंडस्ट्री बन चुकी है। विश्व का हर युवा पोर्न फिल्में कभी ना कभी जरूर देखता है। भारत में बच्चों और युवाओं द्वारा पोर्न देखने का चलन आजकल बढ़ता चला जा रहा है, जिस बात का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि भारत पिछले दो-तीन सालों में सबसे ज्यादा पोर्न देखने वाले देशों में दसवें से तीसरे स्थान पर आ गया है।

कोई भी चीज यदि ज्यादा हद तक की जाये तो वह हानिकारक ही होती है, पोर्न की लत भी उसी तरह है जो पीछा आसानी से नहीं छोड़ती है। ज्यादा पोर्न देखने के ये नुकसान हो सकते हैं – 

1. दिमाग का सिकुड़ना

एक रिसर्च में पाया गया है कि जो व्यक्ति ज्यादा पोर्न फिल्में देखते हैं, उनका दिमाग सिकुड़ जाता है। अगर व्यक्ति के दिमाग का स्ट्रेटम छोटा है तो उसे ओर भी नुकसान हो सकता है।

2. असंतुष्टि

पोर्न फिल्में देखने वाला व्यक्ति अपनी निजी जिंदगी में भी उसी तरह से सेक्स करना चाहता है जैसे कि पोर्न फिल्म में दिखाया जाता है, पर अक्सर ऐसा हो नही पाता क्योंकि पोर्न फिल्मों को जानबूझकर ज्यादा भड़काऊ और आर्कषक बनाया जाता है और उन जैसा करना आम आदमी के बस की बात नही।

इसका नुकसान यह होता है कि व्यक्ति को कभी संतुष्टि मिल पाती। व्यक्ति के स्वभाव में क्रुरता और उग्रता आ जाती है और वह चिड़चिड़ा हो जाता है। 

– पोर्न फिल्म को ज्यादा भड़काऊ बनाने का मतलब है कि फिल्म में काम कर रही लड़की जानबूझकर सेक्सी आवाजें करती है।

3. वैवाहिक जीवन पर बुरा असर

लगातार पोर्न देखने के कारण व्यक्ति अपने पार्टनर से वैसी ही उम्मीद रखने लगता है जैसा कि पोर्न फिल्मों में दिखाया जाता है। पर इसे हर बार हकीकत में उतारना मुमकिन नही होता। इसका नुकसान यह होता है कि व्यक्ति को अपने पार्टनर के प्रति अलगाव पैदा होने लगता है।

4. वहशीपन

पोर्न देखने से सेक्स को लोकर विकृत नज़रिया बन जाता है, जो समाज में रेप जैसी घटनाओं में बढ़ोतरी के लिए जिम्मेवार बनता है।

5. ऑक्सीटोसिन हार्मोन में कमी

ऑक्सीटोसिन दिमाग में पाया जाने वाला एक शक्तिशाली हार्मोन है जिसे ‘लव हार्मोन‘ भी कहा जाता है। यह हार्मोन पुरूष और महिलाओ दोनो को बंधन में बांधने में मदद करता है।

पर अगर सेक्स को पोर्न फिल्मों की तरह किया जाए तो यह काम नही करता जिसका असर रिश्तों पर पड़ता है।

6. फोरप्ले को नज़रअंदाज़ करना

सेक्स को पोर्न फिल्मों की तरह करने की सोचने वाले व्यक्ति जल्दी – जल्दी में अलग – अलग positions को करने की कोशिश करते है जिससे वह फोरप्ले ठीक ढंग से नही कर पाते।

फोरप्ले के दौरान जोड़े काफी मज़ा लेते है जिससे उनमें काफी करीबी आती है, पर पोर्न वाली मानसिकता के कारण यह कहीं खो जाता है।

7. कामोत्तेजना पर बुरा असर पड़ता है

कुछ लोग उत्तेजित होने के लिए पोर्न का सहारा लेने लगते है और धीरे -धीरे यह उनकी आदत बन जाती है। इस का नुकसान यह होता है कि व्यक्ति प्राकृतिक तोर पर उत्तेजित होने में नाकाम होने लगता है जिसका नुकसान आगे चलकर होता है।

8. अवैध संबंधो को बढ़ावा

अवैध संबंधो के लिए पोर्न काफी हद तक जिम्मेदार होता है। ज्यादा पोर्न देखने वाले लोग अक्सर किसी के साथ अवैध संबंध बनाने के बारे में सोचते रहते है जो समाज के लिए काफी नुकसानदेह साबित हो रहा है और कई बार मर्यादा तार-तार होने की भी अशंका रहती है। यह पोर्न देखने का सबसे बड़ा नुकसान है।

Tags

Team Vigyanam

Vigyanam Team - विज्ञानम् टीम

Related Articles

8 Comments

  1. Deepak jee jYada se jyada friendship kare..♥♥
    jab aap free hote ho yani ki jab aap akele hote ho to aapko porn video dekhne ka man karta hai
    to aap us samay porn video dekhne ke bajay apne friends se time bitaye or ye sab chijo par dhyan na de.♣

  2. Mahine Mein Ek do baar dekhne se kay koe nuk san hai kay ……our hai to vo kay nuk san hai aap btaoo …

  3. शौकत जी! महीने में एक दो बार से कोई खास नुकसान नहीं है, पर इसकी लत मत लगने देना क्योंकि काम एकमात्र ऐसी चीज है जो इंसान को अपने वश में कर लेती है…

  4. sir mai bahut jayda porn dekhta jiski vajah se abb mera dimag ko pta ni kya ho gya hai…..mai jb sex krta hu dimag ko sex charta hei nhi sir esa kyu huya hoga? kya iska koi test hai jis se yh pta chal ske k mujhe kya problam aa gyi hai? or iska koi ilaz hai?

  5. नुकसान नहीं है बस इस आदत को ज्यादा हावी ना होनें दे।।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Close