Atom Facts In Hindi – अणुओं के बारे में 14 रोचक तथ्य

Atom Facts In Hindi – हम आजतक विज्ञान में जो भी पढ़ते आये हैं उसके केन्द्रविंदु में Atom जरूर होता है। विज्ञान के अनुसार इस ब्रह्मांड की हर वस्तु का निर्माण इसी इकाई से होता है। Atom ब्रह्मांड की सबसे छोटी इकाई है जिसके मिलने से किसी पदार्थ का निर्माण होता है। वास्तव में Atom इतने छोटे होते हैं कि इन्हें हम आँखो से तो क्या माइक्रोस्कोप से भी नहीं देख सकते हैं.

Atom Facts In Hindi – परमाणु तथ्य

Atom Facts In Hindi –  दुनिया में सब कुछ परमाणु Atom से ही बना होता हैं , इसलिए उनके बारे में कुछ जानना सभी के लिए बहुत  अच्छा है। यहां हम आपको Atom के बारे में कुछ बेहद रोचक तथ्य बताएँगे।

हर atom यानि परमाणु के तीन भाग होते हैं. प्रोटॉन के पास एक सकारात्मक विद्युत प्रभार (Positive Charge) होता है जो की  न्यूट्रॉन (कोई इलेक्ट्रिकल चार्ज नहीं) के साथ परमाणु के नाभिक केंद्र न्यूक्लियस में  रहता है। वहीं नेगेटिव चार्ज के साथ इलेक्ट्रॉन अपने अणु के न्यूक्लियस की परिक्रमा करता है।

परमाणु वह छोटे कण हैं जो तत्वों को बनाते हैं । प्रत्येक तत्व में भिन्न भिन्न प्रोटॉन होते हैं उदाहरण के लिए, सभी हाइड्रोजन परमाणुओं में 1 प्रोटॉन होता है, जबकि सभी कार्बन परमाणुओं में 6 प्रोटॉन होते हैं।

कुछ तत्व केवल एक ही प्रकार के अणु (Atom) से बने होते हैं जैसे की ‘सोना’ तो कुछ पदार्थ कई परमाणुओं के मिश्रण से बनते हैं। जिन्हें दो या दो से अधिक तरह के अणु मिलकर बनाते हैं।

Atoms ज्यादातर खाली ही होते हैं पर इनका न्यूक्लियस काफी भारी होता है। परमाणु का ज्यादातर द्रव्यमान इन्ही में समाया होता है।

यह भी जानें – Atom Bomb Facts In Hindi- ब्रह्माण्ड का सबसे घातक हथियार-परमाणु बम

इलेक्ट्रॉन Atom में सबसे हल्के होते हैं और इनका वजन भी बहुत ही कम होता है। प्रोटॉन से इनकी तुलना की जाये तो एक प्रोटॉन का भार 1836 इलेक्ट्रॉन के बराबर होता है। इलेक्ट्रॉन अपने न्यूक्लियस से इतनी दूरी पर परिक्रमा करते हैं कि परमाणु का 99.9 फीसदी हिस्सा खाली ही बना रहता है। 

यदि कोई परमाणु किसी एक खेल के मैदान का आकार जितना हो तो, तो उसका न्यूक्लियस एक मटर के दाने के बराबर के आकार का होता है।

संसार में 100 से ज्यादा तरह के परमाणु पाये जाते हैं जिनमें से 92 तो प्राकृतिक रुप से बने हैं तो बांकी बचे हुए परमाणु वैज्ञानिकों की प्रयोगशाला में बने हैं।

मनुष्य द्वारा बनाया गया पहला नया परमाणु Technetium था, जिसमें 43 प्रोटॉन होते हैं। हम अगर किसी परमाणु के नाभि केंद्र (न्यूक्लियस) में और अधिक प्रोटॉन जोड़े तो हम एक नया परमाणु बना सकते हैं, पर हमारे लिए ऐसा करना भी काफी मुश्किल ही है क्योंकि नया परमाणु ज्यादा देर तक नहीं टिकेगा और जल्दी ही वह अस्थिर(Unstable)  होकर के और छोटे परमाणुओं में क्षय (Atoms Decay)  हो जायेगा। 

परमाणु के घटकों को तीन बलों द्वारा प्रकृति एक साथ रखती है।  प्रोटोन और न्यूट्रॉन मजबूत और कमजोर परमाणु शक्तियों (nuclear forces) द्वारा एक साथ न्यूक्लियस में रहते हैं। विद्युत बल द्वारा इलेक्ट्रॉनों और प्रोटॉन को एक साथ समयोजित रखा जाता है।  जबकि विद्युत क्षीणन (Electrical Repulsion) प्रोटॉन को एक दूसरे से दूर कर देता है।

Atom

 

परमाणु बहुत छोटे हैं औसत परमाणु लगभग एक मीटर के एक बिलियन का दसवां हिस्सा है। सबसे बड़ा परमाणु (सीज़ियम) है जो कि सबसे छोटे परमाणु (हीलियम) से नौ गुना बड़ा है।

हालांकि परमाणु एक तत्व की सबसे छोटी इकाई हैं, पर इसमें क्वार्क और लेप्टन्स नामक कण भी शामिल होते हैं। एक इलेक्ट्रॉन एक लेप्टन ही है जबकि प्रोटॉन और न्यूट्रॉन में प्रत्येक तीन क्वार्क होते हैं।

ब्रह्मांड में सबसे प्रचुर मात्रा में  हाइड्रोजन परमाणु पाया जाता है और हमारी मंदाकिनी आकाशगंगा में लगभग 74% परमाणु हाइड्रोजन परमाणु ही हैं। हमारा सूर्य और सभी तारें इस परमाणु के द्वारा ही बने हैं। वैज्ञानिक तो इस ब्रह्मांड की रचना का आधार भी Hydrogen Atoms को मानते हैं। 

आपके शरीर में करीब 7 अरब अरब अरब परमाणु होते हैं, फिर भी आप प्रति वर्ष उनमें से 98% परमाणु बदल देते हैं। शरीर हर वर्ष और हर सेकेंड में अरबों परमाणु बदल देता है। 

Tagged with:

Leave a Reply

Your email address will not be published.