Mystery

अगर आप एलियंस को ढूंढना चाहते हैं तो इन तरीकों पर जरुर ध्यान दीजिए,

एलियंस (Aliens Mystery Hindi)  को लेकर हमारे समाज में और विज्ञान जगत में हर रोज बाते होती ही रहती हैं। आज से 200 साल पहले शायद ही कोई कभी इन पर ध्यान दिया करता था। पर जैसे – जैसे विज्ञान का युग आरंभ हुआ और हमारी समझ बढ़ती गई तो इस पर भी कई लोगों का ध्यान गया।

एलियंस होने का विचार इसी बात से सामने आता है कि इस ब्रह्मांड में जब अरबों आकाशगंगाये हैं और उनमें अरबों ग्रह हैं, ठीक पृथ्वी की तरह वे भी अपने तारे का चक्कर लगाते हैं तो क्या ये संभव नहीं है उन ग्रहो में हमारी तरह लोग रहते हों? क्या ये संभव नहीं है कि वे लोग कई बार धरती पर आ भी चुके हों पर शायद हमने उन्हें कभी देखा ना हो।

– खोज में मिले विचित्र रहस्यमय ऐलियन अाविष्कार जिन्होंने कर रखा है दुनिया को हैरान

जब से हमने अंतरिक्ष के राजों को जाना है और तमाम उपकरण अंतरिक्ष में छोड़े हैं तभी से हमे एलियंस को लेकर जिज्ञासा बनी हुई है। इसी जिज्ञासा को दूर करने के लिए हमने कई बार अतंरिक्ष में रेडियो तरंगे छोडी, तो कई बार अपने यान भी भेजे पर हमें आजतक कभी ऐलियंस सभ्यता और किसी भी दूसरी तरह की जीवित चीज़ के कोई सकेंत नहीं मिले हैं।

वैज्ञानिकों ने इस पर कई थ्योरिज तो दी हैं पर प्रेक्टिकल बहुत ही कम है, वैज्ञानिक कार्ल सेगन अपनी किताब में कई तरह के ऐलियंस को लेकर के प्रश्न करते हैं पर वे सभी अभी तक अनसुलझे ही हैं, कई ऐसी बाते हैं जो आज भी रहस्य के कागार में है।

सवाल उठता है कि जब हमने ऐलियंस को आज तक देखा नहीं है और ना ही उनसे कोई संपर्क मिला है तो हमें पक्का मान लेना चाहिए कि एलियंस हैं ही नहीं। ऐसे में तो हमें अपने लिए ज्यादा ध्यान देना चाहिए ना कि किसी परदेशी ग्रह के जीव की तलाश में खो जाना चाहिए। इस सवाल का जवाब तो कोई ठोस तो नहीं है पर हमें यह नहीं भूलना चाहिए कि अभी हमने अपने ब्रह्मांड का एक कण के बराबर भी अध्ययन नहीं किया है, जिससे किसी भी निष्कर्ष पर निकलना जल्दवाजी होगी।

– यहां छिपाई जाती हैं एलियंस की लाशें, जानें एरिया 51 के ऐसे ही रहस्य

ऐसे ही विचित्र सवालों और एलियंस से मिलने के तरीकों को लेकर हमने एक वीडियो बनाया है जो आपको जरूर देखना चाहिए, इस वीडियो में सभी बातों को वैज्ञानिक तौर तरीकों से समझाया गया है।

Tags

Pallavi Sharma

पल्लवी शर्मा एक छोटी लेखक हैं जो अंतरिक्ष विज्ञान, सनातन संस्कृति, धर्म, भारत और भी हिन्दी के अनेक विषयों पर लिखतीं हैं। इन्हें अंतरिक्ष विज्ञान और वेदों से बहुत लगाव है।

Related Articles

Close