अंतरिक्ष यान कैसिनी अपनी अाखिरी यात्रा को तैयार

नासा का रोबोट अंतरिक्ष यान कैसिनी पिछले 13 साल से शनि ग्रह की परिक्रमा कर रहा है और अब ग्रह का अंतिम चक्कर लगाने के लिए तैयार है। इसके बाद 15 सितंबर को कैसिनी को शनि के सबसे बड़े चंद्रमा टाइटन के वायुमंडल में भेजा जाएगा, जहां वह जल कर राख हो जाएगा। कैसिनी का इमेजिंग कैमरा शनि के चारों ओर का आखिरी दृश्य लेगा, और शनि के चंद्रमा टाइटन और एसेलेडस की तस्वीरें भी लेगा।

 

यह नासा, इएसए और इटली की अंतरिक्ष एजेंसी स्पाजियाले इटालिना द्वारा साथ मिलकर भेजा गया था। इसे 1997 में 15 अक्टूबर को लांच किया गया था और 2004 में 30 जून को इसने शनि की कक्षा में प्रवेश किया था।

 

अंतरिक्ष यान शनि के गुरुत्वाकर्षण और चुंबकीय क्षेत्र के विस्तृत नक्शे को बताएगा, जिससे यह पता चलेगा कि ग्रह आंतरिक रूप से कैसे व्यवस्थित है, साथ ही यह भी पता लगाएगा कि शनि कितनी तेजी से अपनी कक्षा में घूर्णन कर रहा है। इसका कैमरा शनि के छल्ले और वातावरण की अद्धभुत तस्वीरें खींचेगा।

 

अपने आखिरी दौर में यह अंतरिक्ष यान कुछ अविश्वसनीय रूप से समृद्ध और बहुमूल्य जानकारी इकठ्ठा करेगा, जिसे पहले प्राप्त करना बहुत जोखिम भरा था, हालांकि अब इसे नष्ट होना है, इसलिए यह जोखिम उठाया जा रहा है।

 

स्रोत-IANS

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *